78 दिन बाद मुक्त हुआ अभिषेक

Agra Updated Wed, 28 Nov 2012 12:00 PM IST
फतेहाबाद। 78 दिन पूर्व अपहृत मासूम अभिषेक सोमवार की रात मुक्त हो गया। पुलिस ने ग्राम बिचोला के समीप पावर स्टेशन के पास एक कोठरी से उसे बरामद कर लिया। इस दौरान अंधेरे का फायदा उठाकर दो-तीन बदमाश फरार हो गए। अपहरण कांड के खुलासे से परिवारीजनों ने चैन की सांस ली है।
गढ़ी उदयराज निवासी संतोष कुमार शर्मा के चार वर्षीय पुत्र अभिषेक का 11 सितंबर को स्कल से घर लौटते समय अपहरण कर लिया गया था। उसे बाइक सवार दो बदमाश ले गए थे। इस घटना के बाद परिवारीजनों समेत ब्राह्मण महासभा, स्कूल संचालक, अधिवक्ता आदि ने आंदोलन भी किया था। बताते हैं कि सोमवार की रात मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने गांव बिचोला के समीप पावर स्टेशन के पास एक कोठरी में दबिश दी। इस दौरान दो-तीन बदमाश फरार हो गए। जबकि पुलिस ने वहां सो रहे अपहृत अभिषेक को बरामद कर लिया। इसकी जानकारी पर सोमवार रात ही परिजन थाने पहुंच गए और उसकी पहचान की।
इनसेट बाक्स....
अभिषेक के मिलने से परिजनों में खुशी
मां से चिपक गया मासूम
मासूम अभिषेक की घर वापसी से उसके घर में खुशी का माहौल है। सोमवार रात जैसे ही वह अपने घर पहुंचा, परिवारीजनों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। मां नीलम की आंखों में खुशी के आंसू छलक पड़े। उसके दादा रामदत्त शर्मा और दादी उसे गोद में उठाने के लिए दौड़ पडे़। इसकी जानकारी मिलते ही लोगों का अभिषेक के घर जमावड़ा लगना शुरू हो गया। हर कोई जानना चाह रहा था कि आखिर इतने दिन तक अभिषेक बदमाशों के चंगुल में सकुशल कैसे रहा। मंगलवार को गांव के हर घर में उसकी वापसी का जश्न मनाया गया।
22 दिन बीहड़ में रही थी एसटीएफ
अभिषेक अपहरणकांड में एसटीएफ भी सुरागरसी में जुटी हुई थी। सूत्रों के मुताबिक एसटीएफ की टीम ने करीब 22 दिन तक चंबल के बीहड़ में डेरा डाला था। उधर, इसके लिए सांसद सीमा उपाध्याय, पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय समेत कई जनप्रतिनिधियों ने डीआईजी से वार्ता कर इस कांड के खुलासे की मांग की थी।
अपहर्ताओं ने ‘सूरज’ रखा था नाम
पुलिस की मानें तो अभिषेक के अपहरण के बाद शातिर अपहर्ताओं ने उसका नाम बदल दिया था। उसे ‘सूरज’ नाम से पुकारा जाता था। अभिषेक ने तोतली जुबान से पुलिस के समक्ष यह खुलासा किया है। परिवारीजनों का कहना है कि फिलहाल वह दहशत में है। इसलिए वह ज्यादा बोल नहीं पा रहा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ‘पद्मावत’ पर बैन को लेकर सुप्रीम कोर्ट की सख्ती का असर दिख रहा है!

सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बावजूद ‘पद्मावत’ पर हो- हल्ला हो रहा है। ऐसे ही विरोध की तस्वीरें दिखाई दी हैं उत्तर प्रदेश के आगरा,सहारनपुर और हापुड़ में जहां पद्मावत का जबरदस्त विरोध हुआ।

23 जनवरी 2018