वो चांद खिला, वो तारे हंसे, ये रात गजब मतवारी है...

Agra Updated Sat, 03 Nov 2012 12:00 PM IST
आगरा। गजब की मतवाली रैन थी। नील गगन में टिमटिमाते सितारे मुस्कुरा रहे थे। दुल्हन बनी सजनी चलनी से चंद्रमा को निहारे थी। हौले-हौले अपने सजना की ओर मुड़ी। दोनों की नजरें मिलीं और वक्त ठहर गया। पिया की प्यारी सूरत को अपलक देखती सजनी की आंखें तृप्त नहीं होती थीं। पति भी सोलह शृंगार में दमकती अर्धांगिनी के रूप पर रीझ उठे। पानी पिलाकर पत्नी का व्रत खुलवाया। करवाचौथ घर-घर में खुशियों की सौगात लेकर आई। रात 8:31 मिनट पर चांद निकलते ही सुहागिनों के चेहरे चमक उठे। हाथ में करवा और चलनी में आस्था और विश्वास का दीपक लिये छत पर पहुंचीं। चंद्रदेव के दर्शन कर अखंड सौभाग्यवती होने की प्रार्थना की। पत्नी के त्याग, समर्पण के सामने पति नतमस्तक थे। उन्होंने उपहार में अपने एहसास को बयां किया।
शुक्रवार सुबह करवाचौथ का खुशनुमा पैगाम साथ लेकर आई। सुहागिनों का रोम-रोम स्पंदित था। अथक उत्साह के साथ सभी तैयारियों में जुटी थीं। मुंह में पानी की एक बूंद तक न गई लेकिन आंखों में पति के प्यार का सागर उमड़ा था। सांझ होते ही पूजा की थाली गई। महिलाओं ने सामूहिक रूप से करवाचौथ माता की पूजा अर्चना की। दीवार पर करवाचौथ काढ़ वीरावती की कथा सुनी। पूजन स्थान पर करवे और लोटे में जल भरकर रखा गया। पूजा अर्चना करने के बाद चंद्रमा के उदय होने की प्रतीक्षा करने लगीं।

आकाश में टिकी थी अखियां
सांझ ढले पूजा करने के बाद सुहागिनें चांद का बेसब्री से इंतजार करने लगीं। अखियां आकाश में टिकी थीं। इस बार चंद्रमा ने भी पत्नियों को इंतजार नहीं कराया और ज्योतिषियों द्वारा दिये गये समय पर ही चांद की लालिमा छा गई।
एक तू ही धनवान है गोरी..
चांदी जैसा रंग है तेरा, सोने जैसे बाल, एक तू ही धनवान है गोरी.. सुर्ख लाल रंग के जोड़े में सजी संवरी सजनी को देख यही गीत जेहन में आता था। नाक में नथनी, माथे पर टीका, बालों में गजरा, हाथों में मेहंदी और पांवों में महावर रची थी।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

स्वास्थ्य कर्मचारियों को मिलेगा दोगुना वेतन, दिल्ली सरकार देने जा रही है तोहफा

सरकार ने इन कर्मचारियों का वेतन दोगुना करने के साथ-साथ हर साल चिकित्सीय अवकाश के तौर पर 15 दिन की छुट्टी देने का फैसला लिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ब्रज में यूं हुआ वसंत पंचमी से रंगोत्सव का आगाज

दुनियाभर में होली भले ही एक दिन का त्योहार हो लेकिन भगवान श्रीकृष्णश की ब्रजभूमि में यह उत्सव 40 दिन तक मनाया जाता है। होली के इस खास उत्सव की शुरुआत वसंत पंचमी के दिन से ही होती है।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper