भाजपाइयों के सामने नहर विभाग ने घुटने टेके, पानी छोड़ा

Agra Updated Sat, 27 Oct 2012 12:00 PM IST
बाह। मिशन 2014 को टारगेट बनाकर पदयात्रा पर निकले भाजपाई पिनाहट में सूखी पड़ी चंबल डार नहीं देखकर अड़ गए। भाजपाइयों के तेवर के सामने ही विभाग ने घुटने टेक दिए और नहर में पानी छोड़ दिया गया। इस पर पदयात्रा के नेतृत्वकर्त्ता उदयभान सिंह ने कहा कि आगाज अच्छा हो तो अंजाम भी अच्छा होगा। तीसरे पड़ाव पर पिढ़ौरा पहुंची पदयात्रा के दौरान गांवों की चौपालों पर बिजली, पानी, खाद की किल्लत के सवाल भी उठे। गैस की राशि निगम को लेकर महिलाओं का दर्द भी छलका।
शुक्रवार को पदयात्रा की शुरूआत जगतपुरा गांव में चौपाल के साथ हुई। यहां पर सरकारी अस्पताल बंद होने का सवाल उठा तो पदयात्री अस्पताल में पहुंच गए। यहां पर न तो दवाएं थी और न ही डाक्टर। परिसर में उगी घास अस्पताल की बदहाली बयां कर रही थी। मंसुखपुरा, करकौली, अमर सिंहपुरा होते हुए पदयात्रा ने पिनाहट नगर में प्रवेश किया तो इसका जोरदार स्वागत किया गया। मार मुहल्ला में चौपाल में रसोई को लेकर महिलाओं का दर्द झलका। उन्होंने चौधरी उदयभान सिंह से पूछा कि 200 रुपये रोज कमाने वाले परिवार का खर्चा कैसे चलेगा? खैरडांडा, छतोलीपुरा, मानिकपुरा, नगला भरी, सुतारी, स्याही पुरा, बसई, भदरौली या गांवों की चौपालों पर खंड, बिजली , पानी की किल्लत का सवाल ग्रामीणों ने उठाया। पदयात्रा के संयोजक ब्रजमोहन जोशी ने कहा कि इन समस्याओं को बताकर वह तीन नवंबर से बाह में भूख हड़ताल करेंगे। उधर पदयात्रा के तीसरे पड़ाव पिढ़ौरा में भाजपा के किसान नेता मोहन सिंह चाहर ने कहा कि मिशन 2014 की सफलता पदयात्रा के लिए मील का पत्थर साबित होगी। इस मौके पर ओमप्रकाश चलनी वाले, अशोक लवानियां, सोनू चौधरी, अजय मिश्रा, विजय कोठारी, जयप्रकाश, सुरेंद्र बाबू, उमाशंकर मिश्रा आदि मौजूद थे। वहीं शनिवार को पदयात्रा विभिन्न गांवों में होते हुए भदरौली के भगवती देवी मंदिर पर विश्राम करेगी।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

फुल ड्रेस रिहर्सल आज, यातायात में होगी दिक्कत, कई जगह मिल सकता है जाम

सुबह 10:30 से दोपहर 12 बजे तक ट्रेनों का संचालन नहीं किया जाएगा। कई ट्रेनें मार्ग में रोककर चलाई जाएंगी तो कई आंशिक रूप से निरस्त रहेंगी।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ब्रज में यूं हुआ वसंत पंचमी से रंगोत्सव का आगाज

दुनियाभर में होली भले ही एक दिन का त्योहार हो लेकिन भगवान श्रीकृष्णश की ब्रजभूमि में यह उत्सव 40 दिन तक मनाया जाता है। होली के इस खास उत्सव की शुरुआत वसंत पंचमी के दिन से ही होती है।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper