जनक महल में झलकेगा अखंड भारत

Agra Updated Thu, 04 Oct 2012 12:00 PM IST
आगरा। राजाजनक के प्रासाद (महल) में भारत की अखंड संस्कृति के दर्शन होंगे। दिलवाड़ा जैन मंदिर का शिल्प, मुगलकालीन स्थापत्य और राजपूताना शैली को पिरोकर भव्य महल की शक्ल दी जा रही है। मीनाकारी से सजे संगमरमरी प्रासाद पर किलोल करती सतरंगी रोशनी अप्रतिम छटा बिखेरेगी। जनकपुरी के इतिहास में पहली बार जनक महल को कॉरीडोर का रूप दिया जा रहा है। कोलकाता, दिल्ली और उड़ीसा के कारीगर प्राचीन मिथिला नगरी की कल्पना को मूर्त रूप देने में जुटे हैं।
जनकमहल प्रभारी लाइको ग्रुप के चेयरमैन सुनील कुमार जैन ने बुधवार को निरीक्षण के दौरान उपरोक्त जानकारी दी। प्राचीन इतिहास को खंगालने के बाद हमने प्राचीन मिथिला को जीवंत करने की कोशिश की है। 9 अक्टूबर तक जनक महल बनकर तैयार हो जाएगा। महल तैयार करने वाले कुंजामल एंड संस के श्याम बाबू अग्रवाल, वरुण अग्रवाल, सह प्रभारी टिंकू गर्ग ने बताया कि दिलवाड़ा जैन मंदिर, माउंट आबू की कार्विन, राजपूताना शैली की बुर्जियां, मुगलकालीन मीनाकारी और इंद्रप्रस्थ महल के रंगों का समावेश किया गया है।
जनकपुरी भक्त जन समिति के मुख्य संरक्षक अशोक जैन सीए, अध्यक्ष नवल किशोर अग्रवाल, मन्ना खंडेलवाल, संदेश जैन, वीडी अग्रवाल आदि मौजूद थे।
जनक महल की संरचना
215 फुट चौड़ा
90 फुट ऊंचा और 60
175 पिलर के ऊपर खड़ा किया गया स्ट्रक्चर
पहली बार लोहे और लकड़ी का स्ट्रक्चर
कॉरीडोर का रूप
राजा जनक के प्रासाद को पहली बार कॉरीडोर का रूप दिया जा रहा है। 6 मंजिली महल में 40 फुट अंदर और 60 फुट ऊपर तक भ्रमण किया जा सकेगा। महल के अंदर रानी की सेविकाएं, सेवक नजर आएंगे। महल में हर मंजिल पर बरामदा होगा।
खास होगा प्रभु राम का दरबार
सुनील जैन के अनुसार इस बार प्रभु राम जी का दरबार बेहद खास होगा। सियाराम 15 फुट ऊंचाई पर बने प्लेटफार्म पर विराजमान होंगे। महल के फ्रंट से 30 फुट गहराई में जाकर दरबार बनाया जाएगा। दूसरा प्लेटफार्म 12 फीट ऊंचाई पर होगा जहां लक्ष्मण, भरत, शत्रुघभन आदि विराजेंगे।
झरोखों से झांकेगी रोशनी
महल के झरोखों से रंग बिरंगी रोशनी झांकेगी। एलईडी लाइट का इफेक्ट आकर्षण प्रदान करेगा। मंच की लाइट व्यवस्था लाइटों को कुलदीप पालीवाल पार्षद संजय अग्रवाल के सहयोग से करेंगे। सुरक्षा व्यवस्था टोनी सहगल, दिवाकर, जयकुमार गुप्ता आदि संभालेंगे।

कुंजामल ने बनाया था पहला जनक महल
जनकपुरी का पहला जनक महल 1992 में बना था। कुंजामल एंड संस ने नेहरू नगर में पहला जनक महल बनाया था।

अन्य आकर्षण
शांति नाथ पार्क में वृंदावन गार्डन, मैसूर महल को साकार रूप दिया जाएगा।
अहिंसा पार्क में वन विभाग के सहयोग से तैयार होगी पर्यावरण की झांकी।
पर्यावरण संरक्षण के प्रति करेगी लोगों को जागरूक।

कन्याभ्रूण हत्या के विरोध में कार्यक्रम आज
जनकपुरी भक्तजन समिति की महिला मंडल द्वारा कन्या भ्रूण हत्या के विरोध में एक कार्यक्रम आज गुरुवार दोपहर 3 बजे श्री राम मंदिर में किया जाएगा। उपरोक्त जानकारी मंडल संयोजिका रेखा अग्रवाल ने दी।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

16 जनवरी 2018

Related Videos

मथुरा में एक ही दिन में हुईं लूट की दो वारदात, ऐसे दिया बदमाशों ने अंजाम

मथुरा में लूट की वारदातों पर लगाम नहीं लग पा रही है। आए दिन बदमाश लूट की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। अब मथुरा में एक ही दिन में दो लूट की वारदात हुई हैं।

16 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper