सावधान, उटंगन-यमुना में आ रही बाढ़!

Agra Updated Mon, 27 Aug 2012 12:00 PM IST
बाह। राजस्थान की बारिश से बाह में उटंगन और यमुना नदी उफान पर हैं। नदी में छोड़ा गया तीन लाख क्यूसेक पानी सोमवार को तहसील के 50 गांवों में बाढ़ के हालात पैदा कर कसकता है। यमुना के विभिन्न घाटों की नावों को जब्त कर लिया गया है। 50 गांवों में हाई एलर्ट का ऐलान कर छह बाढ़ चौकियां गठित कर दी हैं। विस्थापन के हालात पैदा होने की आशंका है। गांवों के प्राइमरी स्कूलों को अधिग्रहण कर लिया है। देर रात अधिकारी नदी किनारे के गांवों में डेरा डाले रहे।
पहले से ही उफान पर चल रही उटंगन और यमुना नदी में सोमवार को बाढ़ के हालात पैदा हो सकते हैं। राजस्थान से उटंगन नदी में छोड़े गए तीन लाख क्यूसेक पानी से उटंगन के साथ बाह क्षेत्र में यमुना नदी में भी बाढ़ के हालात पैदा होने की आशंका है। नदी किनारे के गांवों में हाई एलर्ट की घोषणा की गई है। यमुना की बाढ़ को लेकर छह चौकियां बटेश्वर, विक्रमपुर, पारना, कचौरा घाट, रामपुर, चंद्रसैनी और उटंगन नदी में बाढ़ को लेकर अरनौटा पर गठन किया गया है। नदी किनारे के सभी गांवों के प्राइमरी स्कूलों को प्रशासन ने अधिग्रहीत कर लिया है। यमुना नदी में विभिन्न घाटों पर पड़ने वाली नावों को जब्त कर लिया गया है। बलाई चौरंगा बीहड़, कचौराघाट, विक्रमपुर, चीकनीपुरा, भरतार की नावों को आपात स्थिति से निपटने के लिए प्रशसन ने अपने कब्जे में ले लिया है। एसडीएम बाह रामजीलाल ने अधीनस्थों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं।

बटेश्वर में यमुना की बाढ़ का स्तर
लो-फ्लड लेविल 425 फुट
मीडियम फ्लड लेविल 431 फुट
हाई फ्लड लेविल 436 फुट
उटंगन का फ्लड लेविल 404 फुट

वर्तमान जलस्तर
यमुना 408 फुट
उटंगन 371 फुट

उटंगन की बाढ़ में प्रभावित होने वाले गांव
सीयपुरा, मनौना, सेरब, अरनौटा, सबोरा, नगला भरी, बसई अरेला, मानिक पुरा, कांकरखेड़ा, पिढ़ौरा, बसई भदौरिया।

यमुना की बाढ़ में प्रभावित होने वाले गांव
बटेश्वर, मई, कलींजर, बुढ़ैरा, स्याइच, कोट, सिंघावली, रुदमुली, फरैरी, होलीपुरा, कल्यानपुर, भरतार, विक्रमपुर, बड़ागांव, चौरंगा बीहड़, सुंसार, कछपुरा, पारना, नौगवां, गढ़वार, गढ़ी बरौली, चरीथा, कमतरी कचौराघाट, खिलावली, खिच्चरपुरा, चित्राहाट, रामपुर चंद्रसैनी, बिठौली, रजौरा, रीठई, बलाई आदि।

सात फुट घटी चंबल
बाह। चंबल नदी का जलस्तर रविवार को भी सात फुट घट गया। नदी के जलस्तर में जारी गिरावट से तटवर्ती गांवों के लोगों ने राहत की सांस ली है। अब तक नुकसान का आकलन न होने से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।

Spotlight

Most Read

Rohtak

सीएम को भेजा पत्र

सीएम को भेजा पत्र

23 जनवरी 2018

Rohtak

एमटीएफसी

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ब्रज में यूं हुआ वसंत पंचमी से रंगोत्सव का आगाज

दुनियाभर में होली भले ही एक दिन का त्योहार हो लेकिन भगवान श्रीकृष्णश की ब्रजभूमि में यह उत्सव 40 दिन तक मनाया जाता है। होली के इस खास उत्सव की शुरुआत वसंत पंचमी के दिन से ही होती है।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper