फिर रचा इतिहास

Agra Updated Fri, 17 Aug 2012 12:00 PM IST
आगरा। ताज नगरी ने फिर इतिहास रचा। अद्भुत, अवर्णनीय, अविस्मरणीय नजारा, 66वें स्वतंत्रता दिवस पर सुबह 10 बजे सजे-धजे चौराहों पर राष्ट्रगान के लिए हूटर बजते ही मानों वक्त भी थम गया। जो जहां था, वहीं रुक गया। 52 सेकेंड, लोग सावधान की मुद्रा में खड़े हो गए। जन ने पूरे मन से ‘गण’ के सम्मान में राष्ट्रगान गाया। आगरा कालेज ग्राउंड पर हुए जश्न-ए-आजादी उत्सव में स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने ध्वजारोहण किया। परिवहन मंत्री राजा अरिदमन सिंह ने पीएसी के बैंड के साथ एनसीसी कैडेट्स ने मुख्य अतिथि को सलामी दी। इसके बाद बालीवुड गायक रेहान की प्रस्तुतियां और रंगारंग कार्यक्रमों का सिलसिला चल निकला। शाम को बहुमंजिला इमारतों से की गई आतिशबाजी से आसमान नहा उठा।
अमर उजाला के अभिनव अभियान ‘मां तुझे प्रणाम’ की 14 जुलाई से चली जश्न-ए-आजादी की शृंखला के उत्कर्ष का दिन था स्वाधीनता दिवस। सुबह से स्वयंसेवी संगठन, समाजसेवियों और अमर उजाला के वालंटियर्स ने ताजनगरी के 66 चौराहों को दुल्हन की तरह सजाया। तिरंगे, गुब्बारे, झंडियों और अमर शहीदों की तस्वीरों से सजे-धजे चौराहों पर स्कूली बच्चों की टोलियां राष्ट्रगान के लिए जोश से भरी थीं। जश्ने आजादी का मुख्य उत्सव आगरा कालेज ग्राउंड पर आयोजित किया गया। सुबह 9.59 बजे शहर में हर चौराहे पर हूटर बज उठा। एक मिनट तक हूटर बजते ही लोग गाड़ियों से बाहर निकल आए। जो जहां था, वहां थम गया। ठीक 10 बजे समूचे शहर में एक साथ राष्ट्रगान की धुन बज उठी। समूचा शहर मानों थम गया। राष्ट्रगान के बाद भारत माता के जयकारे गूंजे।
इसके पूर्व आगरा कालेज ग्राउंड में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी लक्ष्मी नारायण उत्साही, इलम सिंह, विजय शंकर चतुर्वेदी, महावीर प्रसाद विद्यार्थी, श्यामबाबू शर्मा, रानी सरोज गौरिहार, मुख्य अतिथि परिवहन मंत्री राजा महेंद्र अरिदमन सिंह, एयर आफिसर कमांडिंग संजीव कपूर ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। पीएसी बैंड, एनसीसी कैडेट्स और स्कूली बच्चों की टोलियों की आकर्षक परेड हुई। अतिथियों को सलामी दी गई। आकर्षक परेड में ऊंट, घोड़ों पर सवार होकर आए आगरावासियों की टुकड़ी भी शामिल थी। कालेज ग्राउंड पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का सम्मानित किया गया।
अमर उजाला के संपादक राजेंद्र त्रिपाठी और असिस्टेंट वाइस प्रेसीडेंट अनिल शर्मा ने अतिथियों को बुके भेंट कर स्वागत किया। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और मुख्य अतिथि ने इस मौके पर आगरा के वीर जियालों को समर्पित पुस्तक ‘संघर्ष गाथा’ का विमोचन किया। पुस्तक में उन क्रांतिकारियों की संघर्ष गाथा है, जिन्होंने सर्वस्व बलिदान करके हमें आजादी दिलाई। इसके बाद बालीवुड गायक रेहान और प्रज्ञा सोठानी ने देशभक्ति के नगमों से लोगों को झूमने पर मजबूर कर दिया। दोपहर तक देशभक्ति के तराने, डांस ग्रुप के प्रदर्शन का दौर चलता रहा। जश्न-ए-आजादी का संचालन संजय बंसल और अमित सूरी ने किया। शाम को शहर की दस बहुमंजिला इमारतों से आतिशबाजी की गई। शाम आठ बजे से शुरू हुई इस शानदार आतिशबाजी से आसमान रोशनी से भर उठा।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

गरीबी की वजह से इस शख्स ने शुरू किया था मिट्टी खाना, अब लग गई लत

गरीबी की वजह से झारखंड के कारु पासवान ने मिट्टी खानी शुरू की थी।

19 जनवरी 2018

Related Videos

मथुरा में पुलिस की गोली लगने से हुई थी नाबालिग की मौत, पुलिस ने कुबूला

मथुरा के मोहनपुर अडूकी गांव में हुई बच्चे की मौत में पुलिस ने लापरवाही की बात मानी है। मथुरा पुलिस के आला अधिकारियों ने माना की दबिश के दौरान फायरिंग में बच्चे की मौत पुलिस की गोली लगने से हुई।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper