सिविल में भी परचम लहराएंगे एक्स सर्विसमैन

Agra Updated Wed, 08 Aug 2012 12:00 PM IST
आगरा। सेना में अनुशासन के साथ रहते हुए दुश्मनों को धूल चटाने वाले सैनिक अब सिविल क्षेत्र की सेवाओं में भी अपना परचम लहराएंगे। उन्हें यह मौका उपलब्ध कराएगी भारतीय सेना। पूर्व सैनिकों के लिए प्रोफेशनल कालेज और ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट खोले जाएंगे और उनमें से एक इंस्टीट्यूट आगरा में भी होगा। यह घोषणा आगरा स्टेशन कमान पर आए जीओसी इन कमांडिंग सूर्या कमान (मध्य कमान) लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चेत एवीएसएम, वीसीएम ने की। उन्होंने स्टेशन कमान पर पूर्व सैनिकों, वीर नारियों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं जानी और एडीआरडीई और अन्य सैन्य अधिकारियों से विभिन्न मुद्दों पर वार्ता की।
स्टेशन मुख्यालय में मीडिया से रूबरू लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चेत ने बताया कि इस वर्ष को ‘ईयर आफ द वेटरन’ यानी पूर्व सैनिकों के वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। इस दौरान पूर्व सैनिकों के बेहतर जीवन यापन के लिए कई योजनाएं चालू की गई हैं। प्रोफेशन सेवाओं में बेहतर संभावनाओं के लिए प्लेसमेंट नोड बनाया गया है जिसमें रजिस्टर्ड पचास फीसदी से अधिक पूर्व सैनिक अपने कैडर के अनुसार सेवा पा चुके हैं। पूर्व सैनिकों को प्रोफेशनल ट्रेनिंग देने के लिए आगरा सहित अन्य शहरों में एक प्रोफेशनल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट होगा। पूर्व सैनिकों के आश्रित भी इनमें शिक्षा ग्रहण कर सकेेंगे। इस कालेज में एमबीए, मेडिकल, इंजीनियरिंग सहित विभिन्न क्षेत्रों के लिए आवश्यक मानव संसाधन तैयार किए जाएंगे।
उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य सेवाओं के लिए ईसीएचएस के तहत इस वर्ष 1800 करोड़ रुपए का बजट है। आगरा और मथुरा में एक-एक अस्पताल खोला जाएगा। एपीएस की नई बिल्डिंग बनेगी। नक्शा पास हो गया है। जमीन मैं देख रहा हूं। रेट के कारण ईसीएचएस में अस्पतालों की कम संख्या इमपैनल होने के मसले पर श्री चेत ने कहा कि इन मुद्दों पर स्थानीय स्तर से प्रस्ताव भिजवाए जा रहे हैं। रेट के कारण स्वास्थ्य सेवाओं में कमी नहीं आएगी। पूर्व सैनिकों को योजनाओं की बेहतर जानकारी देने के लिए हेल्पलाइन सेंटर बनाकर वन टू वन कम्यूनिकेशन भी किया जाएगा। स्वयं सहायता समूह बनाकर महिलाओं को कम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। सभी का डाटा कलेक्शन तैयार किया जा रहा है। इस दौरान स्टेशन कमांडर ब्रिगेडियक एस सिंह, आरआर वर्मा आदि मौजूद थे।

सैनिकों का सम्मान करें
लेफ्टिनेंट जनरल चेत ने पीड़ा जताई कि सैनिकों के प्रति सम्मान घटा है। इससे मनोबल टूटता है। सिविल क्षेत्र में सैनिकों और सामान्य जनों के साथ मारपीट की घटनाओं के सवाल पर श्री चेत ने कहा कि किसी भी सैनिक को अनुशासन तोड़ने की इजाजत कतई नहीं है। हां, लोग भी सैनिकों को सम्मान की दृष्टि से देखें। अगर कोई सैनिक अनुशासन तोड़ता है तो उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। मेरे पास शिकायत करें मैं खुद एक्शन लूंगा।

कार्ड की बढ़ेगी लिमिट
आगरा। कैंटीन से सामान खरीदने की लिमिट को सेना महंगाई के अनुरूप बढ़ाने पर विचार कर रही है। इससे सैनिक कार्ड से अपनी जरूरत का सामान उसी माह खरीद सकेंगे।

आगरा भर्ती घोटाले के दोषी पर होगी कड़ी कार्रवाई
ले. जनरल ने कहा, भर्ती में नहीं होने दी जाएगी बेईमानी
आगरा। सेना भर्ती घोटाले के दोषी पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आगरा भर्ती घोटाले को लेकर सवाल पर ले. जनरल अनिल चैत ने बताया कि आगरा में हुए भर्ती मामले की जांच वह स्वयं कर रहे हैं। मामले में कोई भी अधिकारी दोषी मिला तो उसके खिलाफ इतनी कड़ी कार्रवाई होगी जितनी उनमें ताकत है।
उन्होंने बताया कि फिलहाल मामले में सबूतों की तलाश की जा रही है। उसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। ले. जनरल ने कहा कि हम भी चाहते हैं, जो सेना के लायक हो वही उसमें नौकरी करे। आगरा में ही नहीं देश में कही भी भर्ती में कोई भी बेईमानी नहीं होने दी जाएगी। जहां तक सवाल ऐसे दलालों को पकड़ने का है, सेना इसे गंभीरता से ले रही है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी एसटीएफ ने मार गिराया एक लाख का इनामी बदमाश, दस मामलों में था वांछित

यूपी एसटीएफ ने दस मामलों में वांछित बग्गा सिंह को नेपाल बॉर्डर के करीब मार गिराया। उस पर एक लाख का इनाम घोषित ‌किया गया था।

17 जनवरी 2018

Related Videos

अगर 20 से 26 जनवरी के दौरान वृंदावन जा रहे हैं तो जरूर देखें ये नया ट्रैफिक प्लान

हर साल वसंत पंचमी और गणतंत्र दिवस पर होने वाली भीड़ को देखते हुए वृंदावन के ट्रैफिक प्लान में बदलाव किया गया है। अगर आप इन दोनों दिनों में से किसी भी दिन वृंदावन जाने की सोच रहे हैं तो ये खबर जरूर देखें।

17 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper