टायर व्यवसायी की हत्या कर शव जंगल में फेंका

Lucknow Updated Thu, 27 Dec 2012 05:30 AM IST
लखनऊ। इंदिरानगर क्षेत्र में मंगलवार को टायर-ट्यूब व्यापारी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। शव पिकनिक स्पॉट रोड पर जंगल किनारे फेंककर हत्यारे भाग निकले। पुलिस ने इलाके में लावारिस मिली बाइक से तहकीकात करके शव की शिनाख्त कराई। संदेह के घेरे में आए चार लोगों को हिरासत में लिया गया है। लेनदेन के विवाद में हत्या की आशंका जताई जा रही है। इंदिरानगर पुलिस ने मंगलवार सुबह पिकनिक स्पॉट रोड पर वन विभाग आवास के पास युवक का शव बरामद किया। धारदार हथियार से सिर पर वार करके उसकी हत्या की गई थी। नीली जींस, काली जैकेट व चेकदार शर्ट पहने युवक की जेब से बाइक की चाभी बरामद हुई। शव की पहचान न होने पर उसे लावारिस में दर्ज करके पोस्टमार्टम के लिए भेजा। आसपास के थानों को युवक का हुलिया नोट कराने के साथ शिनाख्त के प्रयास शुरू किए। बुधवार सुबह इंदिरानगर के सेक्टर-नौ में पानी की टंकी के पास एक बाइक लावारिस मिली। पुलिस ने युवक की जेब से मिली चाभी लगाकर बाइक स्टार्ट की। बाइक से मिले कागज के आधार पर पुलिस ने पटेलनगर रघुराजनगर निवासी टेलर हाजी इश्तियाक के घर दस्तक दी। इश्तियाक ने शव की शिनाख्त अपने बड़े बेटे फारूख उर्फ बब्बू (22) के रूप में की। उसने बताया कि फारूख के अलावा उनका एक बेटा मोहम्मद सद्दाम व बेटी रूबीना है। फारूख टायर-ट्यूब सप्लाई का काम करता था। वह मंगलवार सुबह 10 बजे बाइक लेकर घर से निकला था। देर रात तक न लौटने पर सद्दाम ने उसका मोबाइल मिलाया लेकिन फोन बंद था।
शव की शिनाख्त के साथ पुलिस ने फारूख के बारे में जानकारी एकत्र करते हुए उसके दोस्त बृजेश से पूछताछ की। उसने खुलासा किया कि मंगलवार को पटेलनगर निवासी मैनेजर उर्फ शेख इसराफिल नामक व्यक्ति ने उससे फारूख के बारे में पूछा था। इस दौरान मैनेजर किसी से मोबाइल पर बात कर रहा था। इस तरह जानकारी जुटाते हुए पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया है।

वर्चस्व में की गई फारूख की हत्या ः हाजी इश्तियाक का कहना है कि दो वर्ष पहले महानगर की पेपर मिल कॉलोनी में वकील गौरी शंकर व पटेल नगर निवासी शेख इसराइल में एक प्रॉपर्टी पर कब्जे को लेकर विवाद हुआ था। इसमें शेख इसराइल ने अपने भाई शेख इसराफिल व मुलायमनगर निवासी रहीम घोसी के साथ मिलकर गौरी शंकर की हत्या कर दी थी। रहीम घोसी द्वारा मैनेजर उर्फ शेख इसराफिल से हत्या की सुपारी का तगादा किया जा रहा था। हाल ही में रहीम घोसी की भी हत्या कर दी गई। फारूख को इस मामले में खास जानकारी थी। इसे लेकर मैनेजर आए दिन फारूख को धमका रहा था। इश्तियाक ने मैनेजर पर अपने बेटे की हत्या का आरोप लगाया है। फारूख के दोस्त नित्या श्रीवास्तव का कहना है कि पुलिस ने मैनेजर के गुर्गों को हिरासत में लिया है। इनके माध्यम से फारूख की रेकी की जा रही थी। हत्या की दो वारदात में लिप्त मैनेजर ने भांडा फूटने के डर से वारदात को अंजाम दिया और घर पर ताला लगाकर अंडरग्राउंड हो गया है।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सैनिटरी नैपिकन इस्तेमाल करने में यूपी ने बनाया ये शर्मनाक रिकॉर्ड

मासिक धर्म यानि महीने के वो कुछ दिन जब महिलाएं कई शारीरिक बदलाव और दर्द से गुजरती हैं आज भी इनके लिए किसी नर्क से कम नहीं हैं।

24 जनवरी 2018