जनवरी में होगी परिषद की लॉटरी

Lucknow Updated Sat, 15 Dec 2012 05:30 AM IST
लखनऊ। 40 हजार लोगों में से कौन 1200 लोग भाग्यशाली होंगे, इसका फैसला जनवरी मध्य में हो जाएगा। आवास विकास परिषद में जिन संपत्तियों का पंजीकरण नवंबर में समाप्त हुआ था, उनकी लॉटरी के लिए डेटाबेस बनाने का काम तेजी से चल रहा है। इस काम में अभी करीब डेढ़ महीने का समय और लगेगा। परिषद जल्द ही लॉटरी की तिथियों की घोषणा करेगा। आवास विकास परिषद के लगभग 1200 भूखंडों और मकानों के लिए आवेदन एक नवंबर को खत्म हुआ था। अब तक 35 हजार आवेदनों को एकत्र कर लिया गया है, जबकि कुछ बैंकों से करीब पांच हजार फॉर्म आने अभी बाकी हैं। ऐसे में 40 हजार आवेदक इन संपत्तियों के लिए किस्मत आजमाएंगे। यानी एक संपत्ति के लिए 33 लोग दावेदारी कर रहे हैं। इतने अधिक आवेदकों का डेटा तैयार करने में अभी कम से कम डेढ़ महीने का समय और लगेगा। परिषद ने वृंदावन, गोकुलग्राम और आम्रपाली स्कीम में मकान व प्लॉट की स्कीम खोली थी। अधिकृत बैंकों में फॉर्म लेने के लिए आखिरी दिन तक आवेदक उमड़े थे। सैकड़ों लोगों को तो फॉर्म जमा करने का मौका ही नहीं मिला। पंजीकरण फॉर्म की कुल संख्या लगभग 40 हजार है। इनको कंपाइल करने के बाद एलिजिबिलिटी लिस्ट बनाने, प्रकाशन और उसके बाद लॉटरी किए जाने की तैयारियां चल रही हैं। परिषद के सचिव रुद्र प्रताप सिंह ने कहा, हम बहुत जल्द ही लॉटरी की तिथि घोषित करेंगे। हालांकि इसमें जनवरी तक का समय तो लगेगा ही।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

संघर्ष से लेकर यूपी के डीजीपी बनने तक ऐसा रहा है ओपी सिंह का सफर

कई दिनों के इंतजार के बाद ओपी सिंह ने आखिरकार उत्तर प्रदेश के डीजीपी पद का भार संभाल लिया। पद ग्रहण करने के बाद डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि अपराधी सामने आएंगे, गोली चलाएंगे तो पुलिस उनसे निपटेगी।

24 जनवरी 2018