दंगे के खिलाफ एक मंच पर हिंदू मुसलिम उलमा

Lucknow Updated Sat, 27 Oct 2012 12:00 PM IST
लखनऊ। ऑल इंडिया मुसलिम पर्सनल ला बोर्ड के सदस्य व शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद व अयोध्या संत महासंघ के अध्यक्ष महंत जनमेजय शरण ने संयुक्त रूप से शुक्रवार को दशहरे के पवित्र दिन फैजाबाद में हुए सांप्रदायिक दंगे की निंदा की। इनका कहना था कि यह दंगा जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन की नाकामी का नतीजा है। साथ ही फैजाबाद में हुए इस दंगे की सरकार जांच कराए और दोषियों को चिह्नित कर सख्त से सख्त सजा दे।
प्रेस क्लब में संयुक्त प्रेस वार्ता में मौजूद मौलाना जव्वाद ने बताया कि दशहरे के दिन निकाले गए जुलूस की सुरक्षा व्यवस्था में कमी थी। पुलिस के सामने अराजक तत्व हिंसा, आगजनी व लूटपाट करते रहे और पुलिस मूक दर्शक बनी रही। मौलाना ने कहा कि आरएसएस और बीजेपी-2014 के लोक सभा चुनाव को लेकर प्रदेश में साजिशन हिंदू-मुसलिम दंगे भड़का रही है। प्रदेश सरकार को सख्ती से काम लेना होगा। मौलाना ने इस घटना के दोषी अधिकारियों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की मांग की है। अयोध्या संत महासंघ के अध्यक्ष महंत जनमेजय शरण ने कहा कि फैजाबाद अमन पसंद जिला है। यहां मुसलमानों और हिंदुओं में कोई मतभेद नहीं हैं। हिंदू धार्मिक मामलों मेें मुसलमान भी पूरा सहयोग करते हैं। यह बाहरी असामाजिक तत्वों द्वारा की गई साजिश के तहत की गई सांप्रदायिक हिंसा है। इस पर पाबंदी लगाते हुए प्रदेश सरकार को सख्त कदम उठाने की जरूरत है। उन्होंने सांप्रदायिक हिंसा के शिकार लोगों को मुआवजा देने की मांग की है। उन्होंने बताया कि जल्द ही एक हिंदू-मुसलिम प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री से मिलकर सांप्रदायिक दंगे के बारे में वार्ता करेगा। इस मौके पर उदय गंज स्थित काली जी मंदिर के आचार्य श्री कृष्णा, अयोध्या से आए महंत बलराम शरण, मनकामेश्वर मंदिर की महंत देव्य गिरी, गुरुद्वारे से डा. गुरमीत आदि ने भी इस घटना की निंदा की।
मोमिन अंसार सभा ने की निंदा ः फैजाबाद जिले में हुए सांप्रदायिक दंगे की निंदा करते हएु मोमिन अंसार सभा के अध्यक्ष अकरम अंसारी ने भी इसे जिला प्रशासन की नाकामी माना है। उनकी मांग है कि प्रदेश सरकार से इसकी जांच कराए और दोषियों को सख्त से सख्त सजा दे। उन्होंने सरकार को इस सांप्रदायिक हिंसा का गलत फायदा उठाने वाले दल या संगठन से सचेत रहने की सलाह दी है।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

'आप' के बाद अब मुसीबत में भाजपा, हरियाणा के चार विधायकों पर गिर सकती है गाज

दिल्ली में आम आदमी पार्टी के बीस विधायकों की छुट्टी के बाद अब हरियाणा के भी चार विधायकों की सदस्यता जा सकती है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

ठण्ड ने ली यूपी पुलिस के सिपाही की जान!

यूपी में ठण्ड का कहर जारी है। प्रदेश के महराजगंज जिले में एक सिपाही की मौत ठण्ड लगने से हो गई। सिपाही उल्टी करने के बाद बिस्तर पर मृत पाया गया था।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper