बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

8वां दीक्षांत समारोह आज ः केजीएमयू के गौरवमयी इतिहास में जुडे़गा एक और अध्याय

Lucknow Updated Fri, 12 Oct 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
लखनऊ। केजीएमयू के इतिहास में शुक्रवार को एक और अध्याय जुड़ जाएगा। चिकित्सा शिक्षा में 100 साल पूरे कर चुके इस विश्वविद्यालय के 8वें दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी शिरकत करेंगे। राष्ट्रपति शुक्रवार शाम 4.45 बजे केजीएमयू पहुंचेंगे। कुलपति कार्यालय में अगवानी के बाद वे गाउन पहनकर दीक्षांत समारोह की परेड में शामिल होंगे। परेड आर्मी मेडिकल कोर एंड कॉलेज के बैंड की ड्रम बीट के साथ शुरू होगी जिसका नेतृत्व कुल सचिव करेंगे। परेड में 275 फैकल्टी सदस्य और डिग्री लेने वाले छात्र-छात्राएं शामिल होंगे। समारोह में राज्यपाल बीएल जोशी और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी मौजूद रहेंगे। केजीएमयू के दीक्षांत समारोह को बृहस्पतिवार को अंतिम रूप दे दिया गया। दोपहर दो बजे शैक्षिक परेड की रिहर्सल हुई। जिसमें अधिकतर फैकल्टी सदस्यों ने हिस्सा लिया। इससे पहले सुबह से ही राष्ट्रपति के आगमन को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त कर दिया गया था। एडीजी (सुरक्षा) रजनीकांत मिश्र, आईजी लखनऊ जोन सुभाष चंद्रा, डीआईजी नवनीत सिकेरा, डीएम अनुराग यादव, एसएसपी आरके चतुर्वेदी सहित राष्ट्रपति की सुरक्षा से जुड़े अधिकारियों ने दीक्षांत समारोह के पंडाल और केजीएमयू परिसर की सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण किया। शैक्षिक परेड कितने मिनट में पंडाल के अंदर पहुंचेगी। राष्ट्रपति सहित सभी अतिथि मंच पर कब पहुंचेंगे इन सबकी जानकारी ली गई। इस दौरान प्रॉक्टर प्रो. एए मेहंदी, एडिशनल प्रॉक्टर डॉ. मनीष बाजपेई, डीन प्रो.राज मेहरोत्रा, डीन डेंटल प्रो. केके वाधवानी सहित केजीएमयू के प्रशासनिक अधिकारी उनकी मदद कर रहे थे। दीक्षांत समारोह के मौके पर मंच संचालन करने वाली फैकल्टी भी इस मौके पर मौजूद थी।
विज्ञापन

शैक्षिक परेड के नाम पर खानापूर्ति ः दीक्षांत समारोह की शान समझी जानी वाले शैक्षिक परेड के प्रति केजीएमयू प्रशासन ने सिर्फ खानापूर्ति ही की। आमतौर पर शैक्षिक परेड की रिहर्सल दीक्षांत समारोह की तरह ही होती है लेकिन बृहस्पतिवार को इसके प्रति गंभीरता नहीं दिखी। कुलपति कार्यालय के सामने से शुरू हुई शैक्षिक परेड में सबसे आगे कार्डियोलॉजी विभाग के प्रो. वीएस नारायण और रेडियोथेरेपी विभाग के प्रो. एमएल भट्ट थे। बैंड की ड्रम बीट के साथ शुरू हुई परेड पंडाल में पहुंची और सभी शिक्षकों ने अपने-अपने स्थान ग्रहण कर लिए। इसी बीच माइक पर आवाज गूंजी कि जब तक बैंड बजेगा और राष्ट्रपति मंच पर नहीं पहुंचेंगे किसी को बैठना नहीं है। इसी के साथ सभी शिक्षक खड़े हो गए। उन्हें बताया कि गया राष्ट्रपति के मंच तक पहुंचने के बाद राष्ट्रगान होगा। इसके बाद जब राष्ट्रपति अपना आसन ग्रहण करेंगे। तब सभी को बैठना है। इसके बाद ध्यान आया कि परेड कितनी देर में पंडाल के अंदर पहुंची और शिक्षकों को वरिष्ठता के क्रम में आना होगा। इसके बाद फिर से सभी को बाहर जाने और दोबारा पंडाल में आने के लिए कहा गया। इस बार विभागाध्यक्ष, प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर, असिस्टेंट प्रोफेसर और लेक्चरर के क्रम में शिक्षकों को आने के लिए कहा गया। इसी के साथ ही दोबारा शैक्षिक परेड पंडाल में पहुंची। समय तय किया गया कि तीन से पांच मिनट के अंदर सभी शिक्षकों को अपनी-अपनी जगह पर पहुंचना होगा ।

सबसे आगे रजिस्ट्रार और पीछे राष्ट्रपति ः शैक्षिक परेड में सबसे आगे कुल सचिव होंगे। उनके पीछे सभी विभागाध्यक्ष, प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर, असिस्टेंट प्रोफेसर, लेक्चरर होंगे। उनके पीछे एकेडेमिक काउंसिल और एक्जीक्यूटिव काउंसिल के सदस्य होंगे। फिर दोनों संकाय के डीन, मुख्यमंत्री, कुलपति, राज्यपाल और अंत में राष्ट्रपति होंगे। समारोह खत्म होने के बाद ये क्रम उलट जाएगा और राष्ट्रपति सबसे आगे हो जाएंगे।
एएमसी सेंटर एंड कॉलेज का बैंड बिखेरेगा धुनें ः किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में प्रतिवर्ष की भांति आर्मी बैंड ही अपनी स्वर लहरियां बिखेरेगा। एएमसी सेंटर एंड कॉलेज का 25 सदस्यीय आर्मी बैंड सूबेदार मेजर आरए शेख के नेतृत्व में राष्ट्रपति का स्वागत करेगा। बैंड की धुन पर ही कदमताल करते हुए शैक्षिक परेड पंडाल में प्रवेश करेगी। इसके बाद राष्ट्रगान होगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X