8 मई से होंगे जेईई एडवांस के लिए आवेदन

Lucknow Updated Tue, 09 Oct 2012 12:00 PM IST
लखनऊ। आईआईटी एवं बीएचयू आईटी व आईएसएम धनबाद में दाखिले के लिए जेईई एडवांस के ऑनलाइन आवेदन 8 मई से होंगे। इसका शुल्क पिछले वर्ष की ही भांति रखा गया है। वहीं छात्राओं के लिए आवेदन नि:शुल्क होगा। हालांकि मानव संसाधन विकास मंत्रालय के दावों के विपरीत अभ्यर्थियों को दोहरी आवेदन प्रक्रिया से गुजरना पड़ेगा। क्योंकि अभ्यर्थियों को पहले जेईई मेन्स के लिए भी आवेदन करना पड़ेगा। उसमें सफल अभ्यर्थी एडवांस के लिए आवेदन करेंगे। आईआईटी एवं एनआईटीज में दाखिले के लिए पहली बार हो रही संयुक्त प्रवेश परीक्षा के आवेदन एवं परीक्षा कार्यक्रम का खाका तैयार हो चुका है। टेस्ट दो चरणों में होगा। पहला टेस्ट आल इंडिया इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम (एआईईईई) के समतुल्य होगा जिससे जेईई मेन का नाम दिया गया है जबकि दूसरा टेस्ट जेईई एडवांस होगा जिससे आईआईटी में दाखिले होंगे। जेईई मेन के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 1 नवंबर से 15 दिसंबर तक चलेगी। हालांकि अभी तक इसके लिए शुल्क का ढांचा घोषित नहीं किया गया है। 7 अप्रैल को ऑफलाइन एवं 8 अप्रैल से 30 अप्रैल के बीच ऑनलाइन एग्जाम होंगे। वहीं जेईई एडवांस आयोजित कर रहे आईआईटी दिल्ली ने भी आवेदन प्रक्रिया का विवरण जारी कर दिया है। जेईई मेन्स में टॉप डेढ़ लाख रैंक वाले ऐसे अभ्यर्थी जिनके बोर्ड में टॉप-20 पर्सेंटाइल है वह एडवांस के लिए आवेदन करेंगे। आवेदन जेईई की वेबसाइट पर ऑनलाइन 8 मई से 13 मई के बीच होंगे। सफल अभ्यर्थियों को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के किसी भी ब्रांच में निर्धारित शुल्क जमा करना होगा। सामान्य एवं ओबीसी संवर्ग के अभ्यर्थियों के लिए शुल्क 1800 जबकि एससी-एसटी के लिए 900 रुपये निर्धारित किया गया है। छात्राओं को कोई शुल्क नहीं देना होगा। अभ्यर्थियों को पहले जेईई की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करके चालान जनरेट करना होगा। उसके बाद शुल्क जमा करके आवश्यक दस्तावेजों के साथ आईआईटी दिल्ली को भेजना होगा। एडमिट कार्ड भी ऑनलाइन जारी होंगे। अभ्यर्थी 16 मई से जेईई की वेबसाइट से अपना एडमिट कार्ड अपलोड कर सकेंगे। परीक्षा 2 जून को होगी जबकि रिजल्ट 23 जून को आएगा। इससे पहले 14 जून को वेबसाइट पर अभ्यर्थियों की ऑप्टिकल रिस्पांस शीट (ओआरएस) भी वेबसाइट पर अपलोड कर दी जाएगी। इससे अभ्यर्थी परीक्षा में अपने प्रदर्शन का मूल्यांकन कर सकेंगे।
पुराने अभ्यर्थियों को राहत ः आईआईटी में दाखिले की चाहत रखने वाले पुराने अभ्यर्थियों को आयोजकों ने राहत प्रदान की है। आईआईटी ने वर्ष 2012 में बारहवीं की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों के लिए अर्हता के मानक में कोई बदलाव नहीं किया है। यानि जिन अभ्यर्थियों ने वर्ष 2012 में बारहवीं की परीक्षा पास की है और जेईई एडवांस देने के योग्य पाए गए हैं उन्हें पर्सेंटाइल के फेर में नहीं पड़ना होगा। उनके लिए पुरानी योग्यता यानि इंटरमीडिएट में 60 फीसदी अंक ही रहेगी। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन के बारहवीं में जो छात्र अंक सुधार दे रहे हैं उनके लिए भी वैकल्पिक व्यवस्था रखी गई है। जो छात्र इस वर्ष इंप्रूवमेंट दे रहा है यदि वह जेईई एडवांस के लिए वर्ष 2012 की मार्कशीट लगा रहा है तो उसके लिए अर्हता 60 फीसदी ही होगी। यदि वह वर्ष 2013 की मार्कशीट लगाएगा तो उसके लिए टॉप-20 पर्सेंटाइल के नियम लागू होंगे।

Spotlight

Most Read

Lakhimpur Kheri

हिंदुस्तान बना नौटंकी, कलाकार है पक्ष-विपक्ष

हिंदुस्तान बना नौटंकी, कलाकार है पक्ष-विपक्ष

22 जनवरी 2018

Related Videos

सीजफायर पर राजनाथ सिंह का जवाब सुनकर हो जाएंगे हैरान

केंद्रीय गृहमंत्री एवं लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने सोमवार को आउटर रिंग के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। पाकिस्तान के सीजफायर उल्लंघन पर राजनाथ सिंह ने कहा कि ‘पता लगाओ इधर से भी क्या हो रहा है।’

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper