आईआईएम में वर्चस्व - 2012 ः बैंड के धमाल के साथ फैशन की बहार

Lucknow Updated Sun, 07 Oct 2012 12:00 PM IST
लखनऊ। आईआईएम लखनऊ में चल रहे कल्चर एवं स्पोर्ट्स फेस्टिवल वर्चस्व के दूसरे दिन शनिवार को आईआईएम परिसर में अभिनय, नृत्य, संगीत के साथ ही फैशन का अंदाज छाया रहा। तड़के डीजे की धुनों के साथ सुबह शुरू हुई तो शाम जवां हुई मदर जानी के झन्नाटेदार रॉक बैंड के साथ। फैशन की बयार के साथ ही वर्चस्व के दूसरे दिन के आयोजनों की श्रृंखला परवान चढ़ी। प्रबंधन छात्रों ने शनिवार दोपहर में अदाकारी के जौहर दिखाए। स्टेज प्ले कॉम्प्टीशन अंतर्नाद में छह टीमों ने हिस्सा लिया जिसमें बीबीडीएनआईटी, बीबीडीएनआईटीएम, आईआईएम कोलकाता, एलबीएस इंस्टीट्यूट दिल्ली, आईएमटी गाजियाबाद एवं मेजबान आईआईएम लखनऊ शामिल रहे। शानदार अभिनय एवं विषयवस्तु के चलते आईआईएम कोलकाता विजेता रहा। फरेब पर आधारित नाटक का मुख्य किरदार पीटर लोगों को समझाता है कि कैसे दूसरे की पत्नियों को मूर्ख बनाकर ठगा जा सकता है। बेहतरीन अभिनय के लिए पीटर का किरदार निभा रहे आकाश ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का खिताब जीता। एलबीएस दिल्ली अपनी प्रस्तुति बैंग-बैंग यू आर डेड के साथ दूसरे स्थान पर रहा। अभिनय एक सच्ची घटना पर आधारित था जिसमें एक छात्र न केवल अपने साथियों का बल्कि उनके अभिभावकों की भी हत्या करता है। आनंद फिल्म के प्रसिद्ध डायलाग - हम रंगमंच की कठपुतलियां हैं.... के साथ आईआईएम लखनऊ ने आस्था एवं अंधविश्वास के बीच का भेद दर्शकों को समझाया। आईआईएम लखनऊ के सोहेल खान को बेस्ट डायरेक्टर का पुरस्कार मिला। शाम को रॉक बैंड मदर जानी ने शानदार प्रस्तुति दी। एक से एक धमाकेदार गीतों की प्रस्तुति का दौर जैसे-जैसे आगे बढ़ा वैसे-वैसे श्रोता कुर्सी छोड़ कर स्टेज के पास थिरकने लगे। ...कॉज हॉफ एंप्टी, हॉफ फुल, यू एंड डेड एट... आदि बैंड के प्रचलित गीत कलाकारों ने पेश किए। इसके बाद बारी थी फैशन के जलवे की। देर रात दो राउंड में हुई फैशन परेड में सात टीमों ने हिस्सा लिया। मौलिकता, ड्रेस सेंस, वॉक, वस्त्रों के अंदाज, संगीत एवं बैकग्राउंड के साथ परिधान की संगत का ऐसा समां बधा कि लोग बस देखते रह गए। जेडी इंस्टीट्यूट, निफ्ट रायबरेली, भगत सिंह इंस्टीट्यूट, आईएमटी गाजियाबाद, एलबीएस एवं आईआईएम लखनऊ के छात्र-छात्राओं ने इसमें भागीदारी की। इससे पहले कोलकाता से आए कलाकार कौशिक बसु ने रेत पर अपनी कला का जौहर दिखाया।
इंस्ट्रूमेंट पर भी आजमाए हाथ ः आम तौर पर फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट पढ़ने एवं विकसित करने वाले भावी प्रबंधकों ने जब म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट पर हाथ आजमाना शुरू किया तो लगा ही नहीं कि वह इस विधा में अनाड़ी हैं। गिटार, वायलिन जैसे पश्चिमी वाद्य यंत्रोें के साथ ही तबले की थाप भी प्रबंधन छात्रों ने लगाई। मेजबान आईआईएम के अलावा शेरवुड एकेडमी, आईआईबीएस मुंबई, एनएमआईएमएस, आईईटी, जेएनपीजी कॉलेज, सीएमएस स्कूल, दयाल सिंह कॉलेज आदि के छात्रों ने इसमें हिस्सा लिया। दयाल सिंह कॉलेज के करन गिटार, जेएनपीजी के अंकुर वायलिन एवं आईईआईबीएस के विकास शर्मा तबला वादन के विजेता रहे। वहीं स्ट्रीट डांस में बाजी लगी आईआईटी कानपुर के हाथ। आईआईएम लखनऊ उपविजेता रहा। फोटोग्राफी वर्कशाप में जहां कैमरे एवं छायाकारी की बारीकियों से प्रबंधन छात्र अवगत हुए वहीं स्पोर्टस एवं इंटरटेनमेंट क्विज स्पेंट में अपने फिल्म एवं खेल ज्ञान का परिचय दिया। 20 टीमों ने इसमें हिस्सा लिया जिसमें से 8 ने फाइनल राउंड में जगह बनायी।
स्पोर्ट्स ग्राउंड में भी चला सिक्का ः आईआईएम स्पोर्टस ग्राउंड में भी प्रबंधन छात्रों का सिक्का चला। बैडमिंटन, बास्केटबाल, कैरम, चेस, क्रिकेट, फुटबाल, स्नूकर, स्क्वैश, टेनिस, थ्रो बाल, टेबल टेनिस, वालीबाल आदि प्रतियोगिताएं हुईं। इसमें आईआईएम इंदौर, काशीपुर, रांची, एसपी जैन, एफएमएस दिल्ली, आईएमटी, एमडीआई गुड़गांव आदि कॉलेजों के छात्रों ने इसमें हिस्सा लिया।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

साल 2015-16 यूपी पुलिस भर्ती पर ये बोले मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह

साल 2015 में सिपाहियों की भर्ती पर अब तक कोई फैसला न होने से निराश अभ्यर्थियों के लखनऊ में जबरदस्त प्रदर्शन के बाद मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह से प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper