उर्दू मजहबी नहीं हिंदुस्तानियों की भाषा

Lucknow Updated Wed, 26 Sep 2012 12:00 PM IST
लखनऊ। उर्दू एक मजहबी नहीं वरन हिंदुस्तानियों की अपनी भाषा है। देश के विभाजन के बाद उर्दू भाषा के बारे में फैलाई गई भ्रांतियां अब जागरूकता के कारण स्वत: दूर होने लगी है। उक्त उद्गार विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय ने मंगलवार को व्यक्त किए। वह उर्दू अरबी-फारसी विवि में उर्दू शायरों के विश्वकोष की तैयारी के संबंध में आयोजित कार्यशाला में बोल रहे थे। उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि उर्दू लिखने वालों को चाहिए कि जनता की जरूरतों को अपनी भाषा में समावेश करें तभी इसे मजहब के संकुचित दायरे से बाहर निकालकर पूरी तरह आमजन की भाषा बनाने में सफलता मिल सकेगी। इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी के समन्वयक उर्दू प्रो. नसीर अहमद खां ने इस बात पर खुशी जताई कि ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती उर्दू, अरबी फारसी विवि की कार्यपरिषद ने उर्दू रिसर्च इंस्टीट्यूट और अरबी फारसी रिसर्च इंस्टीट्यूट स्थापित करने का निर्णय लिया है। इस अवसर पर विवि के कुलपति डॉ. अनीस अंसारी ने बताया कि उर्दू अरबी फारसी विवि के पाठ्यक्रमों में प्रवेश और शिक्षणेत्तर कर्मियों की नियुक्ति में उर्दू अरबी अथवा फारसी के साथ कंप्यूटर का व्यवहारिक ज्ञान रखने वालों को वरीयता दी जाएगी। उन्होंने शिक्षण संस्थाओं में लागू त्रिभाषा फार्मूले में बदलाव करते हुए संस्कृत को हटा आधुनिक भारतीय भाषा के रूप में उर्दू अथवा समकक्ष किसी अन्य भाषा को शामिल किए जाने की मांग भी की। समन्वयक डॉ. सिद्दीकी ने बताया कि चौथी कार्यशाला अब हैदराबाद में होगी। समापन कार्यक्रम में बढ़ी संख्या में उर्दू प्रेमी और शिक्षाविद् उपस्थित रहे।

Spotlight

Most Read

Shimla

कांग्रेस के ये तीन नेता अब नहीं लड़ेंगे चुनाव, चुनावी राजनीति से लिया संन्यास

पूर्व मंत्री एवं सांसद चंद्र कुमार, पूर्व विधायक हरभजन सिंह भज्जी और धर्मवीर धामी ने चुनाव लड़ने की सियासत को बाय-बाय कर दिया है।

17 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में ‘एनकाउंटर अभियान’ के तहत एक लाख का इनामी ढेर

यूपी एसटीएफ ने एक कार्रवाई के तहत इनामी बदमाश बग्गा सिंह को ढेर किया। जानकारी के मुताबिक एसटीएफ ने कार्रवाई लखीमपुर-खीरी के पास नेपाल बॉर्डर पर की है। बात दें कि बग्गा सिंह कई मामलों में वांछित था और इसके सिर पर एक लाख रुपये का इनाम था।

17 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper