युवक को पीट रहे सिपाहियों को दौड़ाया, थाने पर हंगामा

Lucknow Updated Sat, 22 Sep 2012 12:00 PM IST
मोहनलालगंज (लखनऊ)। गांव जबरौली में दो पक्षों में झगड़े की सूचना पर पहुंचे छह सिपाहियों ने एक युवक की पिटाई कर दी। चीख-पुकार पर ग्रामीणों ने सिपाहियों को घेरने के साथ ही उनकी रायफल छीनने की कोशिश की। भाग रहे सिपाहियों को काफी दूर तक दौड़ाया। इसके बाद एक पक्ष के लोगों ने सिपाहियों पर महिलाओं से अभद्रता का आरोप लगाते हुए थाने पर हंगामा किया। पुलिस के मुताबिक, गांव जबरौली में सार्वजनिक हैंडपंप के पानी के निकास को लेकर मैकू व रामदयाल के बीच रंजिश है। दोनों पक्षों में बृहस्पतिवार शाम को झगड़ा हुआ था। इस पर रामदयाल ने कनकहा पुलिस चौकी में शिकायत की। पुलिस ने मैकू को बुलवाया लेकिन वह चौकी पर नहीं गया। शुक्रवार शाम दोनों पक्षों में फिर से भिड़ंत हो गई। मारपीट के दौरान रामदयाल ने पुलिस को फोन कर दिया। तीन मोटरसाइकिलों से छह सिपाही मौके पर पहुंचे। पुलिस को आते देख मैकू भाग निकला। इस पर सिपाहियों ने उसके बेटे रंजीत से मैकू के बारे में पूछताछ की और उसे थप्पड़ जड़ दिए। रंजीत ने बदमाश आने की बात कहते हुए शोर मचा दिया। उसके पक्ष के लोग अपने घरों से निकले और सिपाहियों को घेर कर उनकी रायफल छीनने की कोशिश करने लगे। घेराबंदी होते देख सिपाही भागे तो ग्रामीणों ने काफी दूर तक उन्हें दौड़ाया। थोड़ी देर बाद रंजीत अपनी मां सिद्धेश्वरी, बहन शीला व गांव के अन्य लोगों को लेकर कोतवाली पहुंचा। उसने पुलिसकर्मियों पर महिलाओं से अभद्रता व अपनी पिटाई का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की। कुछ लोगों ने थाने पर हंगामा काटना शुरू किया। पुलिस ने उन्हें डपट कर शांत कराया। इंस्पेक्टर का कहना है कि झगड़े की सूचना पर पुलिस मौके पर गई थी। वहां न तो किसी से अभद्रता की गई और न ही किसी को पीटा गया।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सैनिटरी नैपिकन इस्तेमाल करने में यूपी ने बनाया ये शर्मनाक रिकॉर्ड

मासिक धर्म यानि महीने के वो कुछ दिन जब महिलाएं कई शारीरिक बदलाव और दर्द से गुजरती हैं आज भी इनके लिए किसी नर्क से कम नहीं हैं।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls