सराफा व्यवसायी की हत्या-लूटकांड का खुलासा, माल समेत चार गिरफ्तार

Lucknow Updated Mon, 27 Aug 2012 12:00 PM IST
लखनऊ। गाजीपुर थाने की पुलिस ने एक युवक की सजगता से चार बदमाशों को गिरफ्तार करके सराफा व्यवसायी दिलीप कुमार रस्तोगी की हत्या और लूटकांड का खुलासा किया है। लुटेरों ने दो दिन रेकी के बाद वारदात को अंजाम दिया था। एसएसपी आरके चतुर्वेदी ने बताया कि पुलिस टीम ने चिनहट बाजार निवासी राहुल शर्मा, उसके भाई सुनील शर्मा, विनय कश्यप व गांव देवरिया निवासी विजय यादव को गिरफ्तार करके उनके कब्जे से देशी रिवॉल्वर, सराफा व्यवसायी दिलीप कुमार रस्तोगी से लूटे दो हैंडबैग, उसकी दुकान की चाभियां, चांदी के गहने और वारदात में इस्तेमाल दो बाइकें बरामद की हैं। पूछताछ में खुलासा हुआ कि चारों बदमाश आए दिन आम्रपाली चौराहे पर खाने-पीने के लिए एकत्र होते थे। इस दौरान दिलीप को आम्रपाली चौराहा स्थित दुकान बंद करके बैग लेकर पैदल जाते देखा। सराफा व्यवसायी के बैग में मोटा माल होने का अनुमान लगाकर लूटने की योजना बना डाली। राहुल ने अपने भाई सुनील व विजय यादव को दिलीप की रेकी का जिम्मा सौंपा। दो दिन से रेकी कर रहे सुनील ने शनिवार रात 9:30 बजे दिलीप को दुकान बंद करके अकेले पैदल जाते देख राहुल को एसएमएस किया। गोल चौराहे के पास मौजूद राहुल एसएमएस मिलते ही विनय के साथ बाइक की पिछली सीट पर सवार हुआ और पैदल जा रहे दिलीप के पास पहुंचा। विनय ने बाइक रोकी और राहुल ने दिलीप से दोनों हैंडबैग छीनने का प्रयास किया। विरोध करते देख राहुल ने दिलीप के सिर पर गोली मारी और बैग लूटकर भाग निकले। इस दौरान सुनील और विजय थोड़ी दूरी बनाकर हालात पर नजर रखे हुए थे। वारदात को अंजाम देने के बाद सुरक्षित स्थान पर पहुंचकर राहुल ने बाइक की नंबर प्लेट से पान की पीक साफ की और गंगा विहार कॉलोनी निवासी अपने दोस्त रूपेश कुमार के घर जाकर उसकी बाइक लौटाई। इसके बाद विनय को साथ लेकर अपने घर चला गया। सुनील और विनय पहले ही पहुंच चुके थे। घर पर बैग खोले तो चांदी की पायल, बिछिया व कुछ अन्य गहने निकले। घर में माल छिपाकर चारों बदमाश सोए ही थे कि पुलिस ने दबिश देकर उन्हें धर दबोचा।

ऐसे हुआ खुलासा ः गोल चौराहे के पास रात 9:30 बजे पैदल जा रहे एक युवक ने कुछ दूरी पर बाइक सवार दो बदमाशों को दिलीप से बैग छीनते देखा। वह मदद के लिए दौड़ा। इस बीच, एक बदमाश ने दिलीप के सिर में गोली मारी और बैग लूटकर भाग निकला। सजग व साहसी युवक बाइक के पीछे दौड़ा। वह बदमाशों को पकड़ने में नाकाम रहा, लेकिन बाइक का नंबर नोट कर लिया, जबकि बदमाशों ने नंबर छिपाने के इरादे से पान की पीक थूक रखी थी। सजग युवक ने मौके पर पहुंचे सीओ गाजीपुर विशाल पाण्डेय व एसओ मनोज मिश्रा को बाइक का नंबर बता दिया। नंबर फर्जी होने की आशंका के बावजूद पुलिस ने रात में ही एआरटीओ की मदद से तहकीकात की। पता चला कि वारदात में इस्तेमाल बाइक चिनहट की गंगा विहार कॉलोनी के रूपेश कुमार की है। पुलिस की टीम आननफानन में रूपेश के घर पहुंची। उसने बताया कि थोड़ी दूर पर चिनहट बाजार में रहने वाला राहुल शर्मा एक दावत में जाने के लिए शाम 7 बजे उसकी बाइक मांगकर ले गया था और रात 10:45 बजे बाइक लौटाकर अपने घर चला गया है। पुलिस ने रूपेश को साथ लेकर राहुल के घर दबिश दी और चारों बदमाशों को लूटे माल समेत गिरफ्तार कर लिया।

डर था कि कोई बातचीत न सुन ले ः राहुल ने अपने भाई सुनील व दोस्त विजय यादव को दिलीप की रेकी का जिम्मा सौंपने के साथ उन्हें एसएमएस के जरिए जानकारी देने को कहा था। डर था कि फोन पर बातचीत को कोई राहगीर या सर्विलांस टीम सुन सकती है, जबकि एसएमएस को अन्य व्यक्ति पढ़ नहीं सकता।

पहले भी कर चुका है वारदात ः एसपी ट्रांसगोमती राम बहादुर ने बताया कि गिरोह के सरगना राहुल शर्मा के खिलाफ चिनहट व बाराबंकी में सात आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें चोरी व छिनैती की वारदातें शामिल हैं। कुछ दिनों पहले जेल से छूटा राहुल लंबा हाथ मारने की फिराक में था। उसने सराफा व्यवसायी दिलीप कुमार रस्तोगी को निशाना बनाया।

ज्यादा माल की थी उम्मीद ः बदमाशों ने पूछताछ में कबूला कि शनिवार को ज्यादा माल मिलने की उम्मीद की। उन्हें जानकारी थी कि सराफा व्यवसायी रविवार को सोना-चांदी गलवाते हैं, इसलिए शनिवार रात दुकान बंद करते समय ज्यादा माल लेकर घर के लिए निकलते हैं और अगले दिन चौक क्षेत्र में सुनारों को माल गलाने के लिए देते हुए दुकान जाते हैं।

पुलिस टीम की पीठ थपथपाई ः एसएसपी आरके चतुर्वेदी ने सनसनीखेज वारदात के चंद घंटों बाद चारों बदमाशों की गिरफ्तारी व माल बरामद होने से खुश होकर सीओ गाजीपुर विशाल पाण्डेय, एसओ मनोज कुमार मिश्रा, चौकी इंचार्ज आशीष चंद्र त्रिपाठी, शंभूनाथ तिवारी, अनुराग मिश्रा, कांस्टेबल रिजवान अहमद, राजेश यादव, अरुण कुमार, मुकेश, योगेंद्र, बृजेंद्र व कन्हैयालाल की पीठ थपथपाई और उन्हें पुरस्कृत करने की घोषणा की।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश: कांग्रेस ने लहराया परचम, 24 में से 20 वॉर्ड पर कब्जा

मध्यप्रदेश के राघोगढ़ में हुए नगर पालिका चुनाव में कांग्रेस को 20 वार्डों में जीत हासिल हुई है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

मेरठ में 18 लाख की लूट का खुलासा करने वाली टीम को मिला ये ईनाम

मेरठ के मोहनपुरी में एक कंपनी के कर्मचारियों से 18 लाख की लूट का पुलिस ने खुलासा किया है।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper