एलडीए भी वसूलेगी दोगुनी पार्किंग दर

Lucknow Updated Sun, 29 Jul 2012 12:00 PM IST
लखनऊ। नगर निगम की तर्ज पर लखनऊ विकास प्राधिकरण ने भी जनता पर बढ़ी हुई पार्किंग दरों का बोझ नए वित्त वर्ष में डालने का फैसला कर लिया है। सभी तरह के वाहनों के लिए पार्किंग की दर दोगुनी की जा रही है। इससे एलडीए का पार्किंग के जरिये आना वाला राजस्व वित्तीय वर्ष-2011-12 से दोगुना हो जाएगा। मगर जनता की जेब पर इसका जबरदस्त असर पड़ेगा। दोगुनी दर पहले चार घंटे के लिए होंगी। जबकि चार घंटे बाद दर नए सिरे से लगेगी। विकलांगों से कोई भी पार्किंग शुल्क न लिए जाने का एलान लखनऊ विकास प्राधिकरण की ओर से किया गया है।
एलडीए राजधानी नगर निगम के मुकाबले कम पार्किंग का संचालन राजधानी में करता है। प्राधिकरण की 18 सामान्य और तीन मल्टीलेवल पार्किंग हैं। इसके मुकाबले नगर निगम की 78 सामान्य पार्किंग हैं, जबकि दो मल्टीलेवल पार्किंग उद्घाटन के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। प्राधिकरण के अधिकारियों का तर्क है कि पिछले करीब आठ साल से एलडीए ने कोई भी पार्किंग शुल्क नहीं बढ़ाया है। नगर निगम ने भी दरें दुगनी कर दी हैं, ऐसे में एलडीए के लिए भी यह मजबूरी हो गई है कि, वाहन खड़ा करने का शुल्क बढ़ा दिया जाए। उपाध्यक्ष ने बताया कि, इन ठेकों के लिए नीलामी सात अगस्त को होगी। उसके बाद ठेकेदार नई दरों से शुल्क वसूलेंगे।

कितना बढे़गा शुल्क
वाहन वर्तमान शुल्क प्रस्तावित शुल्क
साइकिल 03 रुपये 05 रुपये
स्कूटर/बाइक 05 रुपये 10 रुपये
कार/चार पहिया वाहन 10 रुपये 20 रुपये
10 पहिया वाहन 150 रुपये 300 रुपये
6 पहिया वाहन 75 रुपये 150 रुपये
ट्रैक्टर-ट्राली 30 रुपये 60 रुपये
(यह सारी दरें चार घंटे के लिए तय की गई हैं।)

गंज की मल्टीलेवल पार्किंग का शुल्क
दोपहिया : 0-1.30 घंटे तक 5 रुपये, 1.30 घंटे से 4 घंटे तक 10 रुपये। चार घंटे के बाद प्रति घंटा पांच रुपये पार्किंग दर रहेगी।
चौपहिया : 0-1.30 घंटे तक 10 रुपये, 1.30 घंटे से 4 घंटे तक 25 रुपये। चार घंटे के बाद प्रति घंटा 10 रुपये पार्किंग दर रहेगी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देखिए, कैसे 'राम भरोसे' आपकी रखवाली करते हैं यूपी के ये पहरेदार

जिनके भरोसे आप अपना घर छोड़ते हैं। जिनके भरोसे बड़ी-बड़ी कंपनियां होती हैं। जो दिन-रात एटीएम के बाहर लाखों रुपए की सुरक्षा करते हैं। वो खुद कितने सुरक्षित हैं। आइए इस पड़ताल में हमारे साथ और देखिए सेक्युरिटी गार्ड्स की सुरक्षा की इनसाइड स्टोरी।

24 जनवरी 2018