यूपी में पीपीएस के 452 पद बढ़ने के आसार

लखनऊ/ब्यूरो Updated Tue, 11 Dec 2012 10:43 AM IST
452 pps position expected to grow in up
प्रांतीय पुलिस सेवा संवर्ग का कार्ड रिव्यू होने पर पीपीएस अधिकारियों के 452 पद बढ़ जाएंगे। डीजीपी एसी शर्मा ने इसके लिए शासन को प्रस्ताव भेजा है। यह प्रस्ताव पुलिस स्मृति दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा की गई घोषणा के अनुपालन में भेजा गया है।

डीजीपी ने जो प्रस्ताव भेजा है उसमें पुलिस उपाधीक्षकों के 358 और अपर पुलिस अधीक्षक के 94 पद बढ़ाने को कहा गया है। मौजूदा समय में पुलिस उपाधीक्षक के 922 और अपर पुलिस अधीक्षक के 246 पद हैं। इस लिहाज से पूरा काडर 1168 पदों का है।

प्रस्ताव पर मुहर लगने पर जहां राज्य में अपर पुलिस अधीक्षकों की कमी की दिक्कत खत्म होगी, वहीं प्रोन्नति के अधिक अवसर मिलने की वजह से पीपीएस अफसरों की सालों से डीएसपी बने रहने की पीड़ा पर मलहम भी लग सकेगा। इतना ही नहीं इंस्पेक्टरों के डीएसपी बनने के मौके भी बढ़ जाएंगे।

हालांकि, डीजीपी ने पीपीएस का काडर बढ़ाने के लिए पूर्व में ही प्रस्ताव भेज दिया था पर मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुपालन में समय पर कार्यवाही न होने की दशा में डीजीपी ने इसे दुबारा भेजा है। माना जा रहा है कि गृह विभाग इस पर जल्दी संस्तुति देकर फाइल को अंतिम स्वीकृति के लिए मुख्यमंत्री के पास भेज देगा।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी पुलिस भर्ती को लेकर युवाओं में जोश, पहले ही दिन रिकॉर्ड रजिस्ट्रेशन

यूपी पुलिस में 22 जनवरी से शुरू हुआ फॉर्म भरने का सिलसिला पहले दिन रिकॉर्ड नंबरों तक पहुंच गया।

23 जनवरी 2018

Related Videos

ग्रेटर नोएडा: पुलिस लाइन में लड़के ने खुद को मारी गोली, ये थी वजह

ग्रेटर नोएडा में सूरजपुर स्थित पुलिस लाइन में रहने वाले सिपाही के बेटे ने मंगलवार रात खुद को गोली मार ली। लड़के को घायल अवस्था में कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper