लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Technology ›   Social Network ›   Facebook Users to Verify Their Age Using AI Face Scanning for Dating service

Facebook: फेसबुक का नया प्रयोग, अब AI फेस स्कैनिंग की मदद से पता चल सकेगी यूजर्स की उम्र, इसलिए होगा इस्तेमाल

टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: विशाल मैथिल Updated Tue, 06 Dec 2022 01:51 PM IST
सार

मेटा ने एक ब्लॉग पोस्ट में घोषणा करते हुए कहा कि यदि फेसबुक डेटिंग पर कंपनी को यूजर की 18 वर्ष से कम उम्र को लेकर शक होता है तो वह यूजर्स को अपनी उम्र वेरिफाई करने के लिए प्रेरित करेंगे।

Facebook
Facebook - फोटो : Meta

विस्तार

मेटा के स्वामित्व वाली फेसबुक अपनी सर्विस को बढ़ाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फेस स्कैनर का नया प्रयोग करने कर रही है। मेटा ने सोमवार को घोषणा कर बताया कि कंपनी अपनी फेसबुक डेटिंग सर्विस पर AI फेस स्कैनिंग टेक्नोलॉजी की मदद से यूजर्स की उम्र का पता लगाएगी, ताकि प्लेटफॉर्म के सर्विस यूजर्स को उनकी एज वेरिफाई करने की परमिशन मिल सके। दरअसल, कंपनी ने 18 साल से कम उम्र के यूजर्स को फेसबुक डेटिंग सर्विस से दूर रखने के लिए यह कदम उठाया है। 

ऐसे कर सकेंगे एज वेरिफाई

मेटा ने एक ब्लॉग पोस्ट में घोषणा करते हुए कहा कि यह फेसबुक डेटिंग पर यूजर्स की उम्र को लेकर कंपनी को यूजर की 18 वर्ष से कम उम्र को लेकर शक होता है तो वह  यूजर्स को अपनी उम्र वेरिफाई करने के लिए प्रेरित करेंगे। फेसबुक पर उम्र वेरिफाई करने के लिए आप सेल्फी की मदद ले सकते हैं। यानी आपको सबसे पहले फेसबुक पर एज वेरिफाई वाले ऑप्शन में जाना है और वहां अपनी सेल्फी वीडियो शेयर करनी है।

अब फेसबुक इसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फेस स्कैनर की मदद से वेरिफाई करेगा और आपको इसका रिजल्ट मिल जाएगा। मेटा के अनुसार इसे थर्ड पार्टी बिजनेस के साथ शेयर कर सकता है या अपनी आईडी की एक कॉपी अपलोड कर सकता है। मेटा के अनुसार, कंपनी Yoti यूजर्स की पहचान किए बिना उसकी उम्र निर्धारित करने के लिए चेहरे के संकेतों का उपयोग करती है। 

बच्चों को रोकने में मिलेगी मदद

मेटा का कहना है कि नए एज वेरिफिकेशन सिस्टम की मदद से बच्चों को वयस्कों के लिए बनाई गई सुविधाओं तक पहुंचने से रोकने में मदद करेगी। हालांकि, वयस्कों को फेसबुक डेटिंग पर एज वेरिफिकेशन की आवश्यकता कम ही होगी। बता दें कि अमेरिकी सोशल मीडिया कंपनी ने अन्य आयु वेरिफिकेशन उद्देश्यों के लिए भी Yoti का उपयोग किया है, जिसमें इंस्टाग्राम यूजर्स को वेटिंग करना शामिल है। कई बाद यूजर्स 18 या उससे अधिक उम्र का बताने के लिए अपनी जन्मतिथि बदलने का प्रयास करते हैं।

महिलाओं के लिए कारगर नहीं है टेक्नोलॉजी

रिपोर्ट के अनुसार, सिस्टम सभी लोगों के लिए समान रूप से सटीक नहीं है। Yoti के डाटा से पता चलता है कि महिलाओं के चेहरे और गहरे रंग वाले लोगों के लिए इसकी सटीकता खराब है। 
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all Tech News in Hindi related to live news update of latest gadgets News apps, tablets etc. Stay updated with us for all breaking news from Tech and more Hindi News.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00