विज्ञापन
विज्ञापन

Samsung ने दिव्यांगों के लिए लॉन्च किया यह एप, जानें इसकी खूबियां

टेक डेस्क, अमर उजाला Updated Tue, 10 Sep 2019 01:54 PM IST
Good Vibes App
Good Vibes App - फोटो : samsung
ख़बर सुनें
कोरियाई टेक कंपनी सैमसंग (Samsung) ने कम दृष्टि और बधिर लोगों के लिए गुड वाइब्स और रेलूमिनो एप को लॉन्च किया है। इस एप की सहायता से लोग आसानी से देखने के साथ सुन सकते हैं। गुड वाइब एप को भारत में बनाया गया है, इसके जरिए बधिर यानी बहरे लोगों से संपर्क किया जा सकेगा। गुड वाइब्स एप वाइब्रेशन को टेक्स्ट और टेक्स्ट को वाइब्रेशन में बदलने के लिए मोर्स कोड का इस्तेमाल करता है। वहीं, सैमसंग ने इस एप में दो अलग अलग इंटरफेस दिए हैं। इसके पहले इंटरफेस की बात करें तो इसमें बधिर लोग बाइब्रेशन, इशारों और टैप्स से उपयोग करेंगे, जबकि दूसरे इंटरफेस का इस्तेमाल आम लोग करेंगे और उनसे संपर्क कर सकेंगे। 
विज्ञापन
ये भी पढ़ेंः PUBG खेलने से मना किया तो कलयुगी बेटे ने काट डाला पिता का सिर

कमजोर दृष्टि वालों के लिए वरदान
बधिर लोगों के लिए आप गुड वाइब्स एप को सैमसंग गैलेक्सी स्टोर से डाउनलोड कर सकते है। वहीं, इस एप को जल्द ही एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म के लिए पेश किया जाएगा। वही दूसरी तरफ कम दृष्टि वाले लोगों के लिए सैमसंग ने रेलूमिनो एप को तैयार किया है। इस एप के जरिए कम दृष्टि वाले लोग आसानी से आम लोगों से संपर्क कर सकेंगे। रेलूमिनो एप किसी भी तस्वीर को छोटा और बड़ा, आउटलाइन को हाईलाइट और कलर को एडजस्ट करता है। यदि आप भी इस एप के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं, तो आप https://www.samsungrelumino.com लॉग इन कर जानकारी हासिल कर सकते हैं।

ये भी पढ़ेंः तो क्या 2,100 साल पहले भी था 'iPhone', महिला के कंकाल के साथ मिला, देखें तस्वीरें

एनजीओ से की साझेदारी
सैमसंग ने भारत में बधिर लोगों को ज्यादा से ज्यादा लाभ पहुंचाने के लिए एनजीओ (NGO) सेंस इंडिया के साथ साझेदारी की है। यह संगठन गुड वाइब्स एप को लोगों के बीच पहुंचाएगा। वहीं, सेंस इंडिया ने दिल्ली और बेंगलुरु जैसे बड़े शहरों में गुड वाइब्स एप के वर्कशॉप कर चुकी है। सूत्रों की माने तो सैमसंग इस एप को सैमसंग गैलेक्सी एस20 एस स्मार्टफोन के साथ लॉन्च कर सकता है। गुड वाइब्स को लेकर सैमसंग ने एक वीडियो भी जारी किया है, जिसमें देखा जा सकता है कि कैसे यह एप बहरे लोगों की मदद करता है। इस वीडियो में एक बधिर लड़की को दिखाया गया है। वह लड़की अपनी मां से बात नहीं कर पाती है। लेकिन गुड वाइब्स एप के माध्यम से लड़की आसानी से अपनी मां से बात करती है। 

सैमसंग ऐसे लोगों की देखभाल करने वालों से फीडबैक ले रहा है, जिससे गुड वाइब्स एप में सुधार किया जा सके। वहीं, वर्कशॉप के बाद ही सैमसंग ने इस एप में टेक्स्ट साइज से लेकर वाइब्रेशन को बेहतर बनाया है। वहीं, रेलूमिनो एप के लिए कंपनी ने नेशनल एसोसिएशन ऑफ ब्लाइंड (एनएबी) पार्टनरशिप की है। सैमसंग गियर वीआर और गैलेक्सी नोट 9 में इस एप को देगा और लोगों को इस्तेमाल करने का तरीका भी बताया जाएगा। 

बता दें कि एनएबी रेलुमिनो एप को कम दृष्टि वाले छात्रों के लिए पेश किया जाएगा। इस एप से लोग बेहतर तरीके से देख सकेंगे और इससे वह पहले की तुलना में अब बेहतर तरीके से नई चीजों को सीख सकेंगे।   
विज्ञापन

Recommended

घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति
Astrology Services

घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all Tech News in Hindi related to live news update of latest mobile reviews apps, tablets etc. Stay updated with us for all breaking news from Tech and more Hindi News.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Gadgets

आने वाले हैं कई सस्ते स्मार्ट टीवी, Motorola TV, Mi TV और OnePlus TV में मिलेंगे ये फीचर्स

शाओमी, वनप्लस और मोटोरोला जैसी कंपनियां लोगों को बजट को ध्यान में रखकर किफायती कीमतों में स्मार्ट टीवी लॉन्च कर रही हैं। ग्राहकों को इन टीवी में शानदार फीचर्स मिलेंगे।

16 सितंबर 2019

विज्ञापन

परमाणु हमले की धमकी देने वाले पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद की सरेआम फजीहत, वीडियो वायरल

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक ट्वीट शेयर किया है। ट्वीट में वीडियो है जिसमें एक शख्स पाकिस्तानी रेल मंत्री शेख रशीद की सरेआम बेइज्जती करता नजर आ रहा है।

16 सितंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree