लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Sports ›   President Droupadi Murmu presents National Sports Awards 2022 to Players and Coaches; See Complete List

Sports Awards: शरत कमल खेल रत्न बनने वाले दूसरे टेबल टेनिस खिलाड़ी, लक्ष्य-निकहत समेत 25 को अर्जुन अवॉर्ड

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: स्वप्निल शशांक Updated Wed, 30 Nov 2022 09:12 PM IST
सार

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने खेल जगत में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 30 खिलाड़ियों को सम्मानित किया। इस बार पुरस्कार पाने वालों में क्रिकेट जगत से कोई खिलाड़ी नहीं है। लक्ष्य सेन, निकहत जरीन और एचएस प्रणय को अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

निकहत जरीन, लक्ष्य सेन और एचएस प्रणय को अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया
निकहत जरीन, लक्ष्य सेन और एचएस प्रणय को अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज खिलाड़ियों और कोच को राष्ट्रीय खेल पुरस्कार से सम्मानित किया। अर्जुन अवॉर्ड के लिए 25 खिलाड़ी चुने गए थे। सात कोच द्रोणाचार्य अवॉर्ड से और चार खिलाड़ी ध्यानचंद अवॉर्ड से सम्मानित किए गए। टेबल टेनिस खिलाड़ी शरत कमल अंचता को खेल रत्न पुरस्कार के लिए चुना गया था।

लक्ष्य सेन और एचएस प्रणय
लक्ष्य सेन और एचएस प्रणय - फोटो : सोशल मीडिया
राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में खिलाड़ियों और कोच को सम्मानित किया गया। राष्ट्रपति ने स्टार शटलर लक्ष्य सेन और एचएस प्रणय को अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया। यह दोनों इस साल थॉमस कप जीतकर इतिहास रचना वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे थे। वहीं, लक्ष्य ने बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में पुरुष एकल में स्वर्ण पदक जीता था। 

निकहत जरीन
निकहत जरीन - फोटो : सोशल मीडिया
अर्जुन अवॉर्ड के लिए सम्मानित किए गए अधिकतर खिलाड़ी राष्ट्रमंडल खेल 2022 में भारत के लिए पदक लेकर आए थे। लक्ष्य के अलावा महिला मुक्केबाज निकहत जरीन और पहलवान अंशु मलिक भी शामिल हैं। भारत के ग्रैंडमास्टर आर प्रज्ञानानंद को भी अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया है। इस साल क्रिकेट के किसी खिलाड़ी अर्जुन अवॉर्ड के लिए नहीं चुना गया है। 

अर्जुन पुरस्कार
भारत में सबसे पुराना राष्ट्रीय खेल पुरस्कार अर्जुन पुरस्कार है। वर्ष 1961 में इसकी शुरुआत हुई थी। खेल में अपनी उत्कृष्टता के लिए खेल हस्तियों को समर्पित यह पुरस्कार खेल रत्न के बाद दूसरा सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार है। यह पुरस्कार बेहतरीन प्रदर्शन, लीडरशिप क्वालिटी, खेल भावना और अनुशासन के लिए दिया जाता है।

अर्जुन अवॉर्ड

अर्जुन अवॉर्ड से इन्हें किया गया सम्मानित

खिलाड़ी

 

खेल

सीमा पुनिया

 

एथलेटिक्स

एल्डहॉस पॉल

एथलेटिक्स

अविनाश मुकंद साबले

एथलेटिक्स

लक्ष्य सेन

 

बैडमिंटन

एचएस प्रणय

बैडमिंटन

अमित पंघाल

बॉक्सिंग

निकहत जरीन

बॉक्सिंग

भक्ति प्रदीप कुलकर्णी

चेस

रमेशबाबू प्रज्ञानानंदा

चेस

दीप ग्रेस इक्का

हॉकी

शुशीला देवी

जूडो

साक्षी कुमारी

कबड्डी

नयन मोनी साक्या

लॉन बॉल

 

सागर कैलास ओवहलकर

मलखंभ

एलावेनिवलारिवन

शूटिंग

ओमप्रकाश मिथरवाल

शूटिंग

श्रीजा अकुला

टेबल टेनिस

विकास ठाकुर

वेटलिफ्टिंग

अंशु

कुश्ती

सरिता

 

कुश्ती

प्रवीण

वुशू

मानसी गिरिशचंद्र जोशी

पैरा बैडमिंटन

तरुण ढिल्लों

पैरा बैडमिंटन

स्वप्निल संजय पाटिल

पैरा स्विमिंग

जेर्लिन अंकिता जे

डीफ बैडमिंटन

शरत कमल को खेल रत्न पुरस्कार
मेजर ध्यानचंद खेल पुरस्कार हासिल करने वाले शरत कमल अचंता कई सालों से टेबल टेनिस में भारत का नाम रोशन कर रहे हैं। इस साल राष्ट्रमंडल खेलों में भी उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया। अचंता शरत कमल ने इस साल राष्ट्रमंडल खेलों में तीन स्वर्ण और एक रजत पदक अपने नाम किया था। शरत के नाम राष्ट्रमंडल खेलों में कुल सात स्वर्ण, तीन रजत और तीन कांस्य पदक हैं। एशियाई खेलों और एशियन चैंपियनशिप में उन्होंने दो-दो कांस्य जीत हैं। शरत कमल खेल रत्न पाने वाले दूसरे टेबल टेनिस खिलाड़ी हैं। उनसे पहले मनिका बत्रा को यह पुरस्कार दिया जा चुका है।

अचंत शरत कमल
अचंत शरत कमल - फोटो : सोशल मीडिया

लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए ध्यानचंद पुरस्कार से इस बार ये खिलाड़ी सम्मानित
यह पुरस्कार खेल-कूद में आजीवन उपलब्धि के लिए वर्ष 2002 में शुरू किया गया सर्वोच्च पुरस्कार है। यह पुरस्कार महान भारतीय हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के नाम पर है।

खिलाड़ी

 

खेल

अश्विनी अकुंजी सी

एथलेटिक्स

धर्मवीर सिंह

 

हॉकी

बीसी सुरेश

कबड्डी

नीर बहादुर गुरुंग

पैरा एथलेटिक्स

द्रोणाचार्य अवॉर्ड

वर्ष 1985 में शुरू हुआ द्रोणाचार्य पुरस्कार प्रतिष्ठित प्रशिक्षकों को दिया जाता है, जिनके द्वारा तैयार किए गए खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय खेल स्पर्धाओं में देश का मान बढ़ाते हैं और मेडल जीतकर लाते हैं। इस पुरस्कार से खिलाड़ियों के कोच को सम्मानित किया जाता है।

द्रोणाचार्य पुरस्कार

देश को कॉमनवेल्थ खेलों में बॉक्सिंग का पहला स्वर्ण पदक दिलाने वाले बॉक्सर मोहम्मद अली कमर को द्रोणाचार्य अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।  2002 के मैनचेस्टर कॉमनवेल्थ खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले अली कमर को टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों के लिए महिला बॉक्सिंग टीम का हेड कोच नियुक्त किया गया था। लवलीना बोरगोहेन ने उन्हीं की देखरेख में मेडल जीता था। 

द्रोणाचार्य अवॉर्ड से ये कोच सम्मानित

सामान्य कैटेगरी

कोच

 

खेल

जीवनजोत सिंह तेजा

तीरंदाजी

मोहम्मद अली कमर

बॉक्सिंग

सुमा सिद्धार्थ शिरुर

पैरा शूटिंग

 

सुजीत मान

 

कुश्ती

लाइफटाइम कैटेगरी

कोच

 

खेल

दिनेश जवाहर लाड

क्रिकेट

बिमल प्रफुल्ल घोष

फुटबॉल

राज सिंह

कुश्ती


खेल प्रोत्साहन पुरस्कार 2022

कैटेगरी

संस्थान

 

युवा खिलाड़ियों की पहचान और प्रोत्साहन के लिए

ट्रांसस्टाडिया इंटरप्राइजेज

खेल को बढ़ावा देने के लिए

कलिंगा इंस्टीट्यूट ऑफ इंड्रस्टियल टेक्नोलॉजी

विकास के लिए खेल

लद्दाख स्की एंड स्नोबोर्ड एसोसिएशन

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00