विज्ञापन
विज्ञापन

सावन में 'ॐ नमः शिवाय' का उच्चारण करने से ज्यादा मिलती है सफलता

सुरेश श्रीमाली, ज्योतिषाचार्य Updated Fri, 26 Jul 2019 08:48 AM IST
sawan 2019 chant these mantra during whole sawan month
ख़बर सुनें
अंगूठे से अग्नि, तर्जनी से वायु, मध्यमा से आकाश, अनामिका से पृथ्वी और कनिष्का से जल तत्व का संचार सदैव रहता है। पंचाक्षर में पांच अक्षर भी इन पांच तत्वों का प्रतिनिधित्व करते हैं। न अग्नि, मः वायु, शि आकाश, वा पृथ्वी और य जल तत्व के प्रतिनिधि हैं। इसलिए आप नमः शिवाय का जाप करते समय सबसे पहले ‘‘न’’ का मन ही मन उच्चारण करें, उस समय अंगूठे पर तर्जनी अंगुलि का प्रेशर डालें, फिर ‘‘मः’’ का उच्चारण करते समय तर्जनी अंगुलि पर अंगूठे का प्रेशर डालें, ‘‘शि’’ के उच्चारण के दौरान अंगूठे का प्रेशर मध्यमा अंगुलि पर, ‘‘वा’’ के उच्चारण के समय अंगूठे से अनामिका पर प्रेशर बनाएं और ‘‘य’’ के उच्चारण के दौरान अंगूठे से कनिष्का अंगुलि पर प्रेशर डालें। 
विज्ञापन
जीवन में सुख - समृद्धि और सम्पन्नता के लिए इस सावन काशी विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग में कराएं में कराएं रुद्राभिषेक 22 जुलाई को। (विज्ञापन)

फिर ‘‘ॐ’’ का उच्चारण करते हुए हाथ को इस प्रकार पूरा खोल लें। निरंतर ऐसा करते रहने से आपके शरीर में पांच तत्वों के बीच सामन्जस्य बना रहेगा। शरीर का जो भी तत्व असंतुलित है, वह इस प्रकार के प्रेशर से शरीर की शक्ति को पुनः जागृत कर देगा। जब पांचों तत्व शरीर में संतुलित होंगे तो काया निरोगी रहेगी। 

मानसिक और शारीरिक कोई भी बीमारी तभी होती है जब शरीर में पांच में से किसी तत्व का बैलेंस खराब हो जाता है। हमारे शरीर में आकाश तत्व मस्तिष्क में, अग्नि तत्व कंधे में, वायु तत्व नाभी में, पृथ्वी तत्व घुटनों में और जल तत्व पांवों के नीचले भाग में स्थित हैं। नमःशिवाय के उच्चारण के साथ अंगुलियों पर प्रेशर होने से ये पांचों तत्व सदैव संतुलित रहेंगे। इससे आपकी काया तो निरोगी रहेगी ही साथ ही आपमें पॉजिटिव एनर्जी बनी रहेगी। 

इस कारण आपकी मनोकामनाएं भी स्वतः पूरी होती रहेंगी। आपको सफलता की दिशा मिल जाएगी। आप अपने क्षेत्र में सफलता का परचम फहराएंगे। जरूरी नहीं है कि यह अभ्यास आप पूजा कक्ष में या मंदिर में बैठकर करें। यह अभ्यास आप ऑफिस में खाली समय में, कहीं आते-जाते समय कार या ट्रेन में बैठे हैं तो भी कर सकते हैं। जब समय खाली मिले तब करें। नमःशिवाय का उच्चारण मन ही मन करते जाएं और अंगुलियों पर प्रेशर बनाते रहे। यदि पूरे सावन यह अभ्यास करेंगे तो यह आपकी आदत बन जाएगी। तो इंतजार किस का है, ‘‘शुभस्य शीघ्रम’’ इस सावन माह में इसका प्रयोग प्रारंभ करें और देखें चमत्कार। 

जीवन में सुख - समृद्धि और सम्पन्नता के लिए इस सावन काशी विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग में कराएं में कराएं रुद्राभिषेक 22 जुलाई को। (विज्ञापन)
विज्ञापन

Recommended

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार ही है कॉमकॉन 2019 की चर्चा का प्रमुख विषय
Invertis university

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार ही है कॉमकॉन 2019 की चर्चा का प्रमुख विषय

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Religion

नवरात्रि विशेष: नौ देवी नौ मंत्र के साथ करें इस नवरात्रि देवी उपासना

नवरात्रि के तिथि के अनुसार किस मंत्र से करें देवी आराधना

18 सितंबर 2019

विज्ञापन

विनेश फोगाट ने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में जीता मेडल, टोक्यो ओलंपिक 2020 के लिए हुईं क्वालीफाई

भारत की स्टार महिला पहलवान विनेश फोगाट ने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में कांस्य पदक अपने नाम किया है। मेडल जीतने के साथ ही विनेश फोगाट ने टोक्यो ओलंपिक 2020 के लिए भी क्वालीफाई कर लिया है।

18 सितंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree