मौसम: हिमाचल में 109 सड़कें अभी भी ठप, फिर से बारिश-बर्फबारी के आसार, माइनस में चार शहरों का तापमान

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला Published by: Krishan Singh Updated Tue, 07 Dec 2021 07:24 PM IST

सार

 बीते दो दिनों के दौरान प्रदेश के ऊंचाई वाले भागों में हुई बर्फबारी से शीतलहर बढ़ गई है। जनजातीय भागों के तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है। प्रदेश के चार शहरों का न्यूनतम तापमान माइनस में दर्ज किया गया है।
लाहौल में सिस्सू झील का नजारा।
लाहौल में सिस्सू झील का नजारा। - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

विज्ञापन
हिमाचल प्रदेश में मौसम फिर बिगड़ने वाला है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार प्रदेश के मध्य व उच्च पर्वतीय भागों में आठ और नौ दिसंबर को बारिश-बर्फबारी के आसार हैं। हालांकि, मैदानी भागों में मौसम साफ रहेगा। वहीं, 10 और 11 दिसंबर को प्रदेश के सभी भागों में मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान है। सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने एक ही दिन के भीतर केलांग को मनाली से जोड़ दिया है। मंगलवार को इस मार्ग से छोटे वाहनों की आवाजाही सुचारु रही। बीते सोमवार को हुई बर्फबारी की वजह से मंगलवार को भी प्रदेश में 109 सड़कों पर वाहनों की आवाजाही ठप रही। लाहौल स्पीति में 102, किन्नौर में 4 और कुल्लू-चंबा में एक-एक सड़क बंद रही। लाहौल स्पीति में छह बिजली ट्रांसफार्मर बंद होने से कई क्षेत्रों में अंधेरा पसरा हुआ है। प्रदेश के चार क्षेत्रों केलांग, कल्पा, मनाली और कुफरी का न्यूनतम तापमान माइनस में पहुंच गया है। सुबह और शाम के समय प्रदेश के अधिकांश क्षेत्र कड़ाके की ठंड की चपेट में आ गए हैं। मंगलवार को राजधानी शिमला सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ रहा। 

 सैलानियों के लिए खुली अटल टनल, लाहौल में दुश्वारियां बरकरार

 दो दिनों तक हुई ताजा बर्फबारी व बारिश के बाद जिला लाहौल-स्पीति में लोगों की दुश्वारियां कम नहीं हुई हैं। जनजातीय जिले में अभी 130 सड़कें बंद हैं। हालांकि, बीआरओ ने अटल टनल को सैलानियों व छोटे वाहनों के लिए खोल दिया है। सिस्सू के पास देवता घेपन के मंदिर से आगे सैलानियों की आवाजाही बंद रहेगी। लाहौल घाटी में एक-दो रूटों को छोड़कर दर्जन भर रूटों पर बस सेवाएं बंद हैं और लोग टैक्सियों में ही सफर करने को मजबूर है। जिला मुख्यालय केलांग व इसके आसपास के इलाकों को छोड़ घाटी के कई भागों में दो दिनों से बिजली गुल है। जबकि कुल्लू जिले का एनएच-305 के साथ 10 रूटों पर बसें अभी नहीं चल पाई हैं। ऐसे में सवारियों को कड़ाके की ठंड में पैदल दर्रा को आरपार करना पड़ा है।
 

न्यूनतम पारा (डिग्री सेल्सियस में)

केलांग                - 9.4
कल्पा                - 4.0
कुफरी                - 1.2
मनाली                - 0.4
सोलन                2.6
भुंतर                    2.8
शिमला                3.9     

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00