विज्ञापन

बदलेगा हिंदी, गणित को पढ़ाने की तरीका, माइंड स्पार्क प्रोग्राम शुरू

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला Updated Wed, 08 Aug 2018 01:07 PM IST
Mind Spark Programme to teach Hindi and Math in schools of Sirmour Distt
ख़बर सुनें
हिंदी और गणित विषय को पढ़ाने का तरीका बदला जा रहा है। दोनों विषयों के प्रति स्कूली बच्चों में रोचकता बढ़ाने के लिए जिला सिरमौर के सरकारी स्कूलों में माइंड स्पार्क प्रोग्राम शुरू किया जा रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन
इस प्रोग्राम में पहली से आठवीं कक्षा तक प्रति सप्ताह तीन विशेष पीरियड लगाए जाएंगे। आईसीटी लैब में स्कूली बच्चों को कंप्यूटर के माध्यम से स्वयं लिखकर पढ़ाया जाएगा। इस कार्यक्रम से बच्चों की विषयों के प्रति जिज्ञासा बढ़ाई जाएगी।

मंगलवार को प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय और अहमदाबाद की कंपनी के बीच इस प्रोग्राम को लेकर एमओयू साइन हुआ है। शिक्षा निदेशक रोहित जमवाल ने बताया कि तीन साल के लिए इस प्रोग्राम को चलाया जाएगा।

प्रारंभिक चरण में जिला सिरमौर से यह प्रोग्राम शुरू होगा। सिरमौर जिला के घटते परिणामों को देखते हुए जिला का चयन किया गया है। उन्होंने बताया कि माइंड स्पार्क प्रोग्राम के तहत छात्र-छात्राओं को पासवर्ड और लागइन  दिए जाएंगे। 

स्कूल के सभी शिक्षकों को माइंड स्पार्क प्रोग्राम का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस प्रोग्राम में स्कूली बच्चों में हिंदी भाषा और गणित विषय के अध्ययन के परिणाम को बढ़ाया जाएगा।

बच्चों में हिंदी और गणित के प्रति रोचकता पैदा की जाएगी। कंप्यूटर के माध्यम और अन्य सरल और खेल-खेल के तरीकों से बच्चों को पढ़ाया जाएगा। प्रोग्राम से बच्चों में दोनों विषयों को लेकर जिज्ञासा बढ़ाई जाएगी।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Shimla

हिमाचल में नेत्र अधिकारी भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित

प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग ने प्रदेश स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग में नेत्र अधिकारियों की भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है।

12 दिसंबर 2018

विज्ञापन

तीन राज्यों में सत्ता खोने के बाद बीजेपी के दिग्गजों का दर्द!

तीन राज्यों में बीजेपी की हार के बाद मुख्यमंत्रियों ने इस्तीफे दे दिए जिसके बाद सोशल मीडिया पर मीम वायरल हो रहे हैं

12 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree