विज्ञापन

ईयर सिस्टम का फैसला तो ले लिया लेकिन छात्रों को नहीं मिल रही बड़ी राहत

नरेंद्र एस. कंवर, अमर उजाला, शिमला Updated Thu, 14 Jun 2018 01:41 PM IST
HPU Shimla year system for graduation
विज्ञापन
ख़बर सुनें
सरकार ने यूजी डिग्री कोर्स को ईयर सिस्टम में बदलने का फैसला तो ले लिया है, लेकिन इससे छात्रों को बड़ी राहत मिलती नहीं दिख रही। इसमें महज वार्षिक परीक्षा होने का ही बदलाव आएगा। इसमें दो सेमेस्टरों की परीक्षाएं साल में एक बार होंगी, जबकि डिग्री के लिए विद्यार्थियों को क्रेडिट पूरे करने ही होंगे।
विज्ञापन
पहले कोर्स कोड सेमेस्टर की पहचान थे, ये कोड अब ईयर सिस्टम में संकाय के मुताबिक बदले जाएंगे। यूजीसी ने 2016 में सिलेबस और सीबीसीएस को लेकर गाइडलाइन जारी की थी। एचपीयू को सिलेबस बनाते हुए और उनके मूल्यांकन में भी कोई बड़ा बदलाव इसके दायरे में रहकर ही करना होगा।

कुछ ऐसी ही गाइडलाइंस और बदलाव का खाका प्रदेश विवि को सरकार से मिला है। इससे जाहिर है कि सिर्फ सिस्टम का लेबल ही बदलेगा, जबकि छात्रों को दो सेमेस्टर की आठ-आठ परीक्षाएं एकसाथ देनी होंगी।

वहीं, एक या दो शिक्षकों के सहारे चल रहे कॉलेजों में शिक्षण कार्य प्रभावित होगा। ईयर सिस्टम में भी डिग्री के लिए वही 132 क्रेडिट, जबकि ऑनर्स डिग्री के लिए 148 क्रेडिट तीन साल में पूरे करने होंगे।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

अब तक तैयार किया गया खाका

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Dehradun

सीबीएसई 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए जरूरी खबर, जल्दी करें...

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की अगले वर्ष होने वाले 10वीं, 12वीं परीक्षाओं का पंजीकरण शुरू हो गया है।

17 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

हेमा मालिनी की शानदार बर्थडे पार्टी, रेखा-जितेंद्र ने ली खास एंट्री

बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी 70 साल की हो गई हैं। इस मौके पर मुंबई में एक शानदार पार्टी रखी गई। इस पार्टी को हेमा मालिनी की दोनों बेटियों ने स्पेशल बनाया और साथ ही रेखा और जितेंद्र की खास एंट्री ने इस महफिल में चार चांद लगा दिए।

17 अक्टूबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree