विज्ञापन

पब्लिक हेल्थ में पीजी कोर्स शुरू करेगा एचपीयू

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला Updated Thu, 06 Dec 2018 12:12 PM IST
HPU Shimla will start course in Public Health
ख़बर सुनें
प्रदेश विश्वविद्यालय पीजी सेंटर और विवि से संबद्ध कॉलेजों में शैक्षणिक सत्र 2019 से मास्टर इन पब्लिक हेल्थ दो वर्षीय पीजी डिग्री कोर्स शुरू करेगा। विवि यूजीसी के सचिव के आदेशों के बाद कोर्स शुरू किया जाएगा। विवि के कुलसचिव के संबद्ध संस्थानों और कॉलेजों को जारी आदेशों में यह साफ किया गया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
यूजीसी की अधिसूचना यूजीसी की वेबसाइट से डाउनलोड की जा सकती है। कुलसचिव ने प्राचार्यों से कहा है कि वे समय रहते मास्टर इन पब्लिक हेल्थ (एमपीएच) कोर्स के लिए आवश्यक तैयारियां पूरी कर लें। इसके लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने करिकुलम तैयार किया है। यह दो साल का होगा।

रेगुलर मोड में शुरू होने वाले कोर्स में इंटर्नशिप और डेजेरटेशन भी करिकुलम का हिस्सा रहेगा। अधिसूचना में साफ किया है कि कोर्स असाइनमेंट और एनलालिटिकल होगा। इसमें छात्र की कार्यकुशलता परखी जाएगी।

इसमें छात्र के जमीनी स्तर से स्वास्थ्य से संबंधित आंकड़े जुटाने के साथ केंद्र सरकार की सेवाओं को निचले स्तर पर लागू करने और उसका लाभ पात्र लोगों तक पहुंचाने के लिए प्रबंधन और प्लानिंग के साथ वित्तीय प्रबंधन का प्रशिक्षण भी शामिल होगा।

कोर्स शुरू करने का उद्देश्य है कि स्वास्थ्य सेवाओं के कार्यक्रमों और सुविधाओं को जमीनी स्तर पर पहुंचाने और उसका कार्यान्वयन करने के लिए प्रशिक्षित युवा मिल सकें। युवाओं को भी इन कार्यक्रमों में रोजगार मिल सकेगा। 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Chandigarh

चंडीगढ़ः एंट्री लेवल एडमिशन के लिए आवेदन करने की अवधि पूरी, ड्रा की डेट यहां देखिए

चंडीगढ़ के प्राइवेट स्कूलों में एंट्री लेवल एडमिशन के लिए आवेदन जमा करने के अंतिम दिन काफी भीड़ रही। ड्रा निकलने की डेट भी आ गई है।

15 दिसंबर 2018

विज्ञापन

यूपी के हाथरस में कार में 4 लोग जिंदा जले समेत देखिए अभी तक की 5 बड़ी खबरें

अमर उजाला टीवी पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें। देखिए LIVE BULLETINS - सुबह 9 बजे, दोपहर 1 बजे और शाम 5 बजे।

15 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree