विज्ञापन
विज्ञापन

शिमला की दिशा और आरुषि ने जीता जूनियर शेफ का खिताब

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला Updated Thu, 14 Nov 2019 07:19 PM IST
Disha and Aarushi of Shimla won the title of Junior Chef
- फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
प्रदेश पर्यटन विकास निगम (एचपीटीडीसी) और हिम आंचल शेफ एसोसिएशन की ओर से वीरवार को होटल होली-डे होम में शेफ प्रतियोगिता का ग्रैंड फिनाले करवाया गया। प्रदेश भर के 29 युवा शेफ ने इसमें हिस्सा लिया। प्रतियोगिता में बेहतरीन प्रदर्शन कर शिमला के पोर्टमोर स्कूल की दिशा कायथ और ताराहाल स्कूल की आरुषि रतन ने स्वर्ण पदक हासिल कर जूनियर शेफ का खिताब जीता।
विज्ञापन
आधुनिक पब्लिक स्कूल धर्मशाला की अग्रिमा कपूर और सेंट एडवर्ड स्कूल के अविश भारद्वाज को रजत पदक, एडवर्ड स्कूल के प्रभगुण सिंह और डीएवी न्यू शिमला के हर्षल शर्मा को कांस्य पदक मिला। जेसीबी स्कूल न्यू शिमला की ईशानी ठाकुर को बेहतर प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया गया। ऑकलैंड स्कूल की जाह्नवी नागपाल और हमीरपुर के पार्थ बंटा को लिटल शेफ के खिताब से नवाजा गया।

इसके अलावा ऑकलैंड स्कूल की इपशिता ठाकुर और अवर लेडी ऑफ द स्नो स्कूल कुल्लू के रूथ बरजो को रजत पदक , सेंट एडवर्ड स्कूल के वीएस सिंह और गुरारपित सिंह को कांस्य पदक से नवाजा गया। डीएवी पब्लिक स्कूल सोलन की सारांगा लांबा और रूट्स स्कूल मनाली की ईशिता ठाकुर को बेहतर प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया गया। हिम आंचल शेफ एसोसिएशन के अध्यक्ष नंदलाल शर्मा ने बताया कि प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी और पर्यटन विकास निगम की प्रबंध निदेशक डॉ. कुमुद सिंह ने विजेताओं को पुरस्कृत किया।

मुख्य सचिव ने सराहे पर्यटन निगम के प्रयास
मुख्य सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी ने एचपीटीडीसी और हिम आंचल शेफ एसोसिएशन की ओर से करवाई गई प्रतियोगिता की सराहना की। उन्होंने कहा कि हिमाचल के परंपरागत व्यंजनों को नई पहचान दिलाने के लिए यह प्रयास प्रशंसनीय है। पर्यटन विकास निगम की प्रबंध निदेशक कुमुद सिंह ने कहा कि भविष्य में भी निगम इस प्रकार के आयोजन करवाता रहेगा, ताकि स्कूली छात्र पहाड़ी व्यंजन बनाने के अपने शौक को व्यवसाय में तबदील कर सकें।
विज्ञापन

Recommended

मोतियाबिंद क्या है, इसके कारण व उपचार
Eye7 (Advertorial)

मोतियाबिंद क्या है, इसके कारण व उपचार

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Shimla

हिमाचल में एसओएस 10वीं और 12वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम घोषित

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से राज्य मुक्त विद्यालय की दसवीं और जमा दो कक्षा की सितंबर माह में ली गई पुनर्मूल्यांकन और पुनर्निरीक्षण का परिणाम घोषित किया गया।

10 दिसंबर 2019

विज्ञापन

बदले की आग में झुलसकर लौट रही है नागिन, ऐसे खेलेगी जहरीला खेल

दर्शकों की मांग और शो की लोकप्रियता को देखते हुए, बालाजी फिल्म्स का बहुप्रतीक्षित शो 'नागिन' अपने चौथे सीजन के साथ फिर से वापिस आ रहा है।

10 दिसंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election