विज्ञापन

धर्म, जाति, लिंग के नाम पर लोगों को बांटना असंवैधानिक : दीदान

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नाहन (सिरमौर) Updated Wed, 05 Dec 2018 09:09 PM IST
All Himachal Muslim Welfare Society President Naseem Mohammad Dedan statement
विज्ञापन
ख़बर सुनें
आल हिमाचल मुस्लिम वेलफेयर सोसायटी ने देश में बढ़ रही सांप्रदायिकता को बड़ा खतरा करार दिया है। प्रेस बयान में प्रदेशाध्यक्ष नसीम मोहम्मद दीदान ने कहा कि कुछ राजनीतिक दल अपने स्वार्थों को लिए लोगों को धर्म-जाति और हिंदुत्व के नाम पर बहका रहे हैं।
विज्ञापन
कहा कि देश और प्रदेश में आज विकास, गरीबी, भुखमरी, बेरोजगारी, महिलाओं पर बढ़ रहे अत्याचार, किसानों की दयनीय हालत पर बात होनी चाहिए। ये समस्याएं दूर करने की बजाय कुछ राजनीतिक दल देश में सांप्रदायिकता का माहौल बना रहे हैं।

कहा कि भारतीय संविधान इसकी अनुमति नहीं देता कि जाति, धर्म, भाषा, लिंग, क्षेत्रवाद और नस्ल आदि पर चुनाव प्रचार किया जाए। चुनाव आयोग को इस पर संज्ञान लेना चाहिए।      

दीदान ने कहा कि देश की एकता और अखंडता को सुनिश्चित करने के लिए सरकारों को हिंदू-मुस्लिम भाईचारा सुदृढ़ करना चाहिए, लेकिन कुछ नेता अपने स्वार्थों के लिए लोगों को मंदिर-मस्जिद, धर्म और जाति के नाम पर बांटने का कार्य कर रहे हैं।

दीदान ने देश-प्रदेश के सभी लोगों से ऐसे अराजक तत्वों की बातों में न आने की अपील की। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि सभी लोग ऐसे स्वार्थी तत्वों को कड़ा सबक सिखाएं। उन्होंने चुनाव आयोग से भी ऐसे राजनीतिक दलों पर अंकुश लगाने की अपील की। 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Shimla

फीमेल हेल्थ वर्कर भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित, 622 पास

आयोग हमीरपुर ने प्रदेश स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग में फीमेल हेल्थ वर्कर के पदों को भरने के लिए करवाई लिखित परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है।

7 दिसंबर 2018

विज्ञापन

मुकेश अंबानी ने फैंस को दिया जोर का झटका, मेहमानों को भी दिए आदेश

देश के सबसे अमीर बिजनेसमैन मुकेश अंबानी की बेटी ईशा की भी शादी होने जा रही है । 12 दिसंबर को ईशा अंबानी, आनंद पीरामल के साथ सात फेरे लेंगी। ईशा की प्रीवेडिंग सेरेमनी शुरू हो चुकी है। शनिवार को ईशा की संगीत सेरेमनी हुई।

9 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election