बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

Himachal Budget 2021 Live: 30 हजार से अधिक पद भरेंगे, शिक्षा विभाग में 12000 को मिलेगी नौकरी

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला Published by: अरविन्द ठाकुर Updated Sat, 06 Mar 2021 03:38 PM IST

सार

  • विधायक प्राथमिकता राशि को 120 करोड़ से 135 करोड़ किया
  • नई स्वर्ण जयंती समृद्ध बागवान योजना शुरू होगी
  • राज्य मधुमक्खी बोर्ड के गठन की घोषणा
  • फूलों की खेती के लिए 11 करोड़ रुपये का प्रावधान
  • बागवानों के लिए 543 करोड़ का प्रावधान 
  • मिल्कफेड को 28 करोड़ अनुदान दिया जाएगा

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर अपने कार्यकाल का चौथा बजट पेश कर रहे हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने 50,192 करोड़ का बजट पेश किया। कुल राजस्व घाटा 1463 करोड़ रुपये अनुमानित है। सीएम ने कहा कि विश्वव्यापी कोरोना महामारी की वजह से चुनौतियां अभूतपूर्व थीं। जिन हेल्थ केयर वर्कर और अन्य लोगों ने लोगों की सेवा की, उनका वह आभार व्यक्त करते हैं। पढ़ें बजट के अपडेट्स...
विज्ञापन
हिमाचल बजट 2021: मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर
हिमाचल बजट 2021: मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

हिम-ईरा रसोई कैंटीन शुरू करने की घोषणा
विज्ञापन

स्वयं सहायता समूहों के अजीविका अवसरों में वृद्धि के लिए पायलट आधार पर तकनीकी शिक्षण संस्थानों तथा सरकारी कार्यालयों में एक नई योजना हिम-ईरा रसोई कैंटीन शुरू की जाएगी। 

टॉप 100 छात्रवृति योजना शुरू की जाएगी
टॉप 100 छात्रवृति योजना शुरू की जाएगी। जिसमें पांचवीं कक्षा के बाद सरकारी स्कूलों के 100 प्रतिभाशाली छात्रों का एससीईआरटी द्वारा चयन किया जाएगा।  चयनित बच्चों को नियमित मूल्यांकन के आधार पर छात्रवृति प्रदान की जाएगी।


हिमकेयर योजना में नहीं देना होगा अंशदान
2021-22 में 70 वर्ष से अधिक आयु के सभी लाभार्थियों, बाल आश्रमों में रहने वाले अनाथ बच्चों को हिमकेयर योजना में बिना अंशदान दिए शामिल किया जाएगा।

मानदेय बढ़ाने की घोषणा
जूनियर रेजीडेंट, सीनियर रेजीडेंट, डीएम/एमसीएच छात्रों, पीजी छात्रों के लिए मानदेय प्रति माह 5-5 हजार रुपये बढ़ाने की घोषणा।

21 हजार रुपये की ग्रांट मिलेगी 
सीएम ने बजट में घोषणा करते हुए कहा कि गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले परिवारों को दो लड़कियों तक 21 हजार रुपये की पोस्ट बर्थ ग्रांट, फिक्स डिपोजिट के तौर पर बेटी के जन्म पर ही दे दी जाएगी।  

शगुन योजना की घोषणा की 
सीएम ने बजट में शगुन योजना की घोषणा की। इस योजना के तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग के बीपीएल परिवारों की बेटियों को विवाह के समय 31 हजार रुपये का अनुदान दिया जाएगा। इस योजना पर 50 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

आंगनबाड़ी कार्यकताओं का मानदेय बढ़ाने की घोषणा
आंगनबाड़ी कार्यकताओं का मानदेय प्रतिमाह 500 रुपये बढ़ाने की घोषणा। मिनी आंगनबाड़ी कार्यकताओं का मानदेय प्रतिमाह 300 रुपये बढ़ाने की घोषणा। आंगनबाड़ी सहायिकाओं का मानदेय प्रतिमाह 300 रुपये बढ़ाने की घोषणा। 

30 हजार से अधिक पद भरे जाएंगे
2021-22 में स्वास्थ्य विभाग में विभिन्न श्रेणियों के 4000 पद भरे जाएंगे। शिक्षा विभाग में शिक्षकों के 4000 पद भरे जाएंगे। शिक्षा विभाग में मल्टी टास्क वर्करों के 8000 पद भरे जाएंगे। लोक निर्माण विभाग में मल्टी टास्क वर्करों के 5000 पद भरे जाएंगे। जलशक्ति विभाग में पैरा फीटर, पंप ऑपरेटर और मल्टी टास्क वर्करों के 4000 पद भरे जाएंगे। इसके अलावा पुलिस, बिजली बोर्ड, जेई, सहायक अभियंता, पशुपालन विभाग में विभिन्न श्रेणियों के पद, जेओए आईटी के पद और चतुर्थ श्रेणियों कर्मचारियों के भी कई पद भरे जाएंगे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बजट भाषण में घोषणा करते हुए कहा कि 2021-22 में प्रदेश सरकार 30 हजार से अधिक कार्यमूलक पदों को भरने का लक्ष्य रखेगी।  

शुरू होगी स्वर्ण जयंती नारी सम्बल योजना
स्वर्ण जयंती नारी सम्बल योजना शुरू करने की घोषणा। 65 से 69 वर्ष तक की आयु की सभी महिलाओं को बिना आय सीमा के 1000 रुपये प्रति माह पेंशन दी जाएगी। इससे प्रदेश की 60 हजार महिलाएं लाभान्वित होंगी। 2021-22 में 40 हजार अतिरिक्त पेंशन लाभार्थी सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना में जोड़े जाएंगे। 1050 करोड़ सामाजिक सुरक्षा पेंशन पर खर्च होंगे।

एचआरटीसी के लिए 377 करोड़ रुपये का प्रावधान
बजट 2021-22 में हिमाचल पथ परिवहन निगम (एचआरटीसी) के लिए 377 करोड़ रुपये का प्रावधान। इलेक्ट्रिक बसों सहित 200 नई बसें खरीदीं जाएंगी।

प्रदेश में खिलौना निर्माण क्लस्टर बनेगा
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बजट में घोषणा करते हुए कहा कि प्रदेश में खिलौना निर्माण क्लस्टर का बनाया जाएगा। ऊना में प्रस्तावित एक हजार करोड़ रुपये के बल्क ड्रग पार्क में 4000 लोगों को रोजगार मिलेगा। इन्वेस्टर मीट में एमओयू के तहत 10 हजार करोड़ के निवेश की ग्राउंड ब्रेकिंग भी जल्द होगी। 

स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए 3016 करोड़ रुपये
बजट 2021-22 में हिमाचल प्रदेश में स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए 3016 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान किया गया है। इसमें बीते वर्ष के मुकाबले 314 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी की गई है। 

अंशकालीन कर्मियों और नंबरदारों का मानदेय बढ़ाया
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बजट में प्रदेश सरकार के राजस्व विभाग में कार्यरत अंशकालीन कर्मियों और नंबरदारों का मानदेय 300-300 रुपये बढ़ाने की घोषणा की। जल गार्ड, पैरा फिटर और पंप ऑपरेटर का मानदेय 300 रुपये बढ़ाने की घोषणा।

एसएमसी, आईटी शिक्षकों, मिड डे मील कर्मियों का मानदेय बढ़ाने की घोषणा
एसएमसी शिक्षकों के प्रति माहमानदेय को 500 रुपये बढ़ाने की घोषणा। आउटसोर्स आईटी शिक्षकों का प्रति माह मानदेय भी 500 रुपये बढ़ाने की घोषणा। मिड-डे मील कर्मियों और वाटर कैरियर का प्रति माह मानदेय 300 बढ़ाने की घोषणा। सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि कोरोना संकट में आशा वर्करों ने बेहतरीन काम किया है। इसलिए आशा वर्करों का वेतन 750 रुपये बढ़ाया जाएगा। शिक्षा क्षेत्र के लिए 2021-22 में 8024 करोड़ रुपये का प्रावधान।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X