लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Himachal Pradesh ›   760 farmers get notice of 80 lakhs recovery in BBN in himachal

हिमाचल: बीबीएन में 760 किसानों को 80 लाख रिकवरी का नोटिस

ओमपाल सिंह, अमर उजाला, बद्दी (सोलन) Published by: Krishan Singh Updated Fri, 08 Jan 2021 10:54 AM IST
किसानों को रिकवरी नोटिस।
किसानों को रिकवरी नोटिस। - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश के बीबीएन में भी किसान सम्मान निधि में बड़ा गोलमाल हुआ है। यहां 760 फर्जी किसानों ने निधि की राशि हड़प ली। इन्हें विभाग की ओर से रिकवरी नोटिस जारी कर दिया गया है। बद्दी में एक दर्जन किसानों से एक लाख 14 हजार रुपये रिकवरी भी कर ली गई है। विभाग ने नालागढ़ में 400 और बद्दी में 360 किसानों को अपात्र घोषित कर दिया है। विभाग ने इन किसानों से योजना का पैसा वापस लेने के लिए नोटिस जारी कर दिए हैं। यह वे किसान हैं। जिनकी आय अधिक है और जो किसान सरकारी नौकरी में हैं और बैंक में आयकर रिटर्न भी भरते हैं। नालागढ़ में 400 किसानों से 45 लाख और बद्दी में 360 किसानों से 36 लाख रुपये रिकवर करने हैं। विभाग ने इन सभी किसानों को पटवारियों के माध्यम से नोटिस जारी कर दिए गए हैं। 



रिटर्न में जीरो बैलेंस फिर भी दिया नोटिस
सौढ़ी राम ने बताया कि उसके पास जमीन भी बहुत कम है। उसने अपना काम शुरू करने के लिए बैंक से लोन लिया था। बैंक के कर्मी लोन देने से पहले आयकर की रिटर्न मांगते हैं, जिस पर उन्होंने रिटर्न भर दी लेकिन उसके रिटर्न जीरो बैलेंस की है। उसके बावजूद उसकी सम्मान निधि वापस ले ली। बद्दी के तहसीलदार मुकेश शर्मा ने बताया कि जिन किसानों ने इनकम टैक्स की रिटर्न भरी है उन्हें अपात्र घोषित कर दिया है। इन किसानों को नोटिस जारी कर उन्हें बैंकों के माध्यम से यह राशि वापस केंद्र सरकार को जमा करने को कहा गया है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00