दो माह में हर गांव को साफ पानी : बादल

Patiala Updated Mon, 06 Aug 2012 12:00 PM IST
पटियाला। मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने कहा कि अगले दो माह में राज्य के सभी गांवों में पेयजल की जांच करके साफ पानी मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने राज्य की खराब आर्थिक हालतके लिए केंद्र के गलत वित्तीय प्रबंधों को जिम्मेदार ठहराया। पंजाब को अब तक सूखाग्रस्त राज्य घोषित न किए जाने पर केंद्र की आलोचना की। उन्होंने कहा कि 10 अगस्त को केंद्रीय कृषि मंत्री की पंजाब आएंगे तो राज्य में सूखे की सही स्थिति की जानकारी देकर विशेष आर्थिक पैकेज देने के लिए जोर डाला जाएगा।
प्रकाश सिंह बादल रविवार को कस्बा भूनरहेड़ी के निकटवर्ती गांव मीरांपुर में पंजाबी यूनिवर्सिटी की ओर से स्थापित कालेज का उद्घाटन करने के बाद उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। बादल ने आरोप लगाया कि केंद्र में सूबों के असली हालात और उनकी जरूरतों को नजरअंदाज करके फैसले लिए जा रहे हैं। इसी कारण राज्यों को भारी वित्तीय संकटों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि मानसून के कमजोर रहने से पंजाब गंभीर सूखे की चपेट में है। इसके चलते किसानों की खराब खराब है। लेकिन केंद्र ने पंजाब को अब तक सूखाग्रस्त राज्य घोषित नहीं किया है। किसानों के हुए नुकसान की पूर्ति के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री से मुलाकात करराज्य के लिए तुरंत 2380 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता देने की मांग की है।
इस मौके पर एसएस बोर्ड के पूर्व चेयरमैन तेजिंदरपाल सिंह संधू, एसजीपीसी के पूर्व प्रधान किरपाल सिंह बडूंगर, घन्नौर की विधायक हरप्रीत कौर मुखमैलपुरा आदि मौजूद थे।
बाक्स----------------
तर्कसंगत बनाए जा रहे टैक्स
बाद में पत्रकारों से बात करते हुए बादल ने कहा कि पंजाब सरकार लोगों पर नए टैक्सों का कोई वित्तीय बोझ नहीं डाल रही है, बल्कि सारे राज्यों की तरह टैक्सों को केवल तर्कसंगत बनाया जा रहा है।
बाक्स----------------
इलाके की जरूरतों के मुताबिक होगा विकास
सीएम ने कहा कि पंजाब का सर्वपक्षीय विकास योजनाएं बनाकर किया जाएगा। इसके लिए पंजाबी यूनिवर्सिटी को सन्नौर हलके में सर्वे कराने के लिए कहा गया है। इसकी रिपोर्ट आने के बाद राज्य के हर हलके में वहां के लोगों की जरूरतों के हिसाब से योजनाएं बनाकर विकास किया जाएगा।
बाक्स----------------
लड़कियों के लिए बरदान बनेगा कालेज
बादल ने मीरांपुर कालेज के शुरू होने को ऐतिहासिक कदम बताते हुए कहा कि यह कालेज इलाके के विद्यार्थियों खास करके लड़कियों के लिए एक वरदान साबित होगा। सीएम ने कालेज के लिए 25 लाख रुपये का चेक वाइस चांसलर डा. जसपाल सिंह को सौंपा। इस मौके पर बादल को वीसी व अन्य शख्सियतों की ओर से सम्मानित किया गया। सीएम ने पंजाब ग्रीन मिशन के तहत कालेज में पौधे भी लगाए।
बाक्स----------------
पिछले क्षेत्रों में 18 माडल कालेज खोले
इस मौके पर पंजाबी यूनिवर्सिटी के कुलपति डा. जसपाल सिंह ने कहा कि सरकार की ओर से यूजीसी स्कीम के अधीन पिछड़े क्षेत्रों में 18 माडल कालेज खोले गए थे, जिनमें से सबसे ज्यादा सात कालेजों का प्रबंध पंजाबी यूनिवर्सिटी को मिला है। मीरांपुर में यह आठवां कालेज खोला गया है। इस कालेज में विद्यार्थियों को श्रेष्ठ अकादमिक माहौल देने के लिए पीयू की ओर से करीब एक करोड़ रुपये खर्च करके बुनियादी ढांचा और स्टाफ का प्रबंध किया गया है और सेशन 2012-13 के लिए अब तक करीब 400 विद्यार्थियों का दाखिला भी हो चुका है।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

दिल्ली-एनसीआर में दोपहर में हुआ अंधेरा, हल्की बार‌िश से गिरा पारा

पहले धुंध, उसके बाद उमस भरे मौसम और फिर हुई हल्की बारिश ने दिल्ली में हो रहे गणतंत्र दिवस के फुल ड्रेस रिहर्सल में विलेन की भूमिका निभाई।

23 जनवरी 2018

Related Videos

अमानवीय : दिल-दहला देगा सड़क हादसे का ये वीडियो

पंजाब के मोहाली में एक रोड एक्सीडेंट हुआ और उसके बाद जो हुआ वो दिल दहला देने वाला था। दरअसल एक्सीडेंट के बाद गाड़ी उस शख्स को तकरीबन एक किलोमीटर तक घसीटकर ले गई।

25 सितंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper