बादल सरकार लाए लोकायुक्त बिल: केजरीवाल

Patiala Updated Fri, 06 Jul 2012 12:00 PM IST
पटियाला। भ्रष्टाचार के खिलाफ देश में अलख जगाने वाली अन्ना हजारे की टीम ने शाही शहर में भी दस्तक दी। टीम अन्ना के सदस्य अरविंद केजरीवाल ने पंजाब की बादल सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की ओर से अन्ना हजारे टीम को दिए जा रहे समर्थन को मात्र दिखावा है। अगर बादल सरकार वास्तव में समर्थन देना चाहती है, तो लोकायुक्त बिल लेकर आए।
वीरवार को अन्ना हजारे संघर्ष कमेटी पटियाला की ओर से पटियाला-राजपुरा रोड स्थित एक पैलेस में आयोजित कार्यक्रम में अन्ना हजारे टीम ने जन लोकपाल बिल के बारे में लोगों को जागरूक किया। इस मौके पर टीम के सदस्यों ने 25 जुलाई से दिल्ली में प्रस्तावित अनशन में शामिल होने की अपील भी की। इस मौके पर अरविंद केजरीवाल ने साफ किया कि चाहे दिल्ली पुलिस अनशन की इजाजत न दे, लेकिन अनशन हर हालत में होगा। चाहे वह जेल में हो या फिर जंतर-मंतर पर हो।
सांसदों को जनता से डर
केजरीवाल ने बताया कि कार्यक्रम के दौरान ही अभी उन्हें दिल्ली से सूचना मिली है कि पुलिस ने 25 जुलाई के अनशन की इजाजत नहीं दी है। इससे साफ होता है कि हमारे सांसदों को देश की जनता से डर लगता है, जो जनतंत्र के लिए बहुत बड़ा खतरा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस कह रही है कि भीड़ को संभालना मुश्किल हो जाएगा। पुलिस अगर भीड़ को नहीं संभाल सकती, तो वह आतंकवादियों को क्या संभालेगी। दिल्ली के पुलिस कमिश्नर को इस बयान के लिए इस्तीफा दे देना चाहिए।
देश को मंत्रियों से अधिक खतरा
उन्होंने कहा कि वर्तमान में देश को पाकिस्तान और चीन से इतना खतरा नहीं, जितना केंद्रीय मंत्रिमंडल से है। इसमें 15 मंत्री भ्रष्ट हैं, जिनके खिलाफ जांच को सुप्रीम कोर्ट के जजों का एक विशेष दल बिठाया जाना चाहिए। साथ ही संसद में बैठे 162 सांसदों के खिलाफ चल रहे केसों की जल्द सुनवाई के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाए जाएं। इन दो मांगों को 25 जुलाई से अनिश्तिकाल के लिए शुरू होने वाले अनशन में उठाया जाएगा।

उन्होंने इस मौके पर प्रणब मुखर्जी को राष्ट्रपति बनाए जाने का भी विरोध किया। उन्होंने कहा कि प्रणब मुखर्जी के खिलाफ भ्रष्टाचार के कई संगीन आरोप है। इसलिए ऐसी छवि वाले नेता को राष्ट्रपति बनाया जाना देश के हित में नहीं है। किसी साफ सुथरी छवि वाले नेता को ही इस पद पर बिठाया जाए। उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सौदेबाजी होने के भी आरोप लगाए।
प्रधानमंत्री को समझाने पहुंचिए दिल्ली
कुमार विश्वास ने भी अनूठे अंदाज में देश में फैले भ्रष्टाचार के खिलाफ लोगों को जागरूक किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह का पंजाब में घर है और इसलिए वह उनके घर के लोगों से कहने आएं कि वह अपने बेटे को समझा ले, जो भ्रष्टाचारियों के हाथों की कठपुतली बनकर देश के हितों से खिलवाड़ कर रहा है। उन्होंने साफ कहा कि वह उस संसद का सम्मान नहीं करते हैं, जिसमें राजा जैसे चोर और कलमाड़ी जैसे ठग बैठते हैं। इस मौके पर गोपाल राय और संजय ने भी अपनी दमदार आवाज में भ्रष्टाचार के खिलाफ लोगों को एकजुट किया और उनका सहयोग करने की अपील की।

Spotlight

Most Read

Gorakhpur

पद्मावत फिल्म का प्रदर्शन रोकने को सड़क पर उतरी करणी सेना

पद्मावत फिल्म का प्रदर्शन रोकने को सड़क पर उतरी करणी सेना

22 जनवरी 2018

Related Videos

अमानवीय : दिल-दहला देगा सड़क हादसे का ये वीडियो

पंजाब के मोहाली में एक रोड एक्सीडेंट हुआ और उसके बाद जो हुआ वो दिल दहला देने वाला था। दरअसल एक्सीडेंट के बाद गाड़ी उस शख्स को तकरीबन एक किलोमीटर तक घसीटकर ले गई।

25 सितंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper