जमीन छीनने का दर्द जख्म से गहरा

Patiala Updated Wed, 20 Jun 2012 12:00 PM IST
पटियाला। राजिंदरा अस्पताल में भरती किसानों के आंसू साठ साल से कब्जे वाली जमीन के छीने जाने का दर्द बयां कर रहे थे। उन्हें पुलिस की गोलियों और लाठियों का जख्म उतना दर्दनाक नहीं है जितना जमीन छीने जाने का।
राजिंदरा अस्पताल में भरती भारतीय किसान यूनियन एकता (डकौंदा) के सन्नौर ब्लाक प्रधान सुखविंदर सिंह की आंखों से लगातार आंसू निकल रहे थे। अमर उजाला से बात करते हुए भाकियू नेता ने कहा कि सरकारी जमीन पर किसान पिछले 60 सालों से खेती कर रहे हैं। यह जमीन ही उनके परिवारों के गुजारे का एकमात्र साधन है। अगर सरकार ने यह जमीन छीन ली, तो वे कहां जाएंगे।
इसी तरह से जसवंत सिंह और गुरजंट सिंह ने नम आंखों से बताया कि वह छोटे किसान हैं और कुछ किला जमीन पर खेती करके परिवार का गुजारा कर रहे हैं। सरकार उन्हें जमीनें छीनकर अन्याय किया है। यह जमीन अगर वापस नहीं की गई तो उनके पास आजीविका का कोई साधन नहीं रहेगा।

बाक्स----------------------
गरीब हैं तो क्या इज्जत नही
चौरासो की रहने वाली जगीर कौर और जोगिंदर कौर ने कहा कि अगर वह गरीब हैं, तो क्या उनकी कोई इज्जत नहीं है। पिछले 50-60 सालों से उनके परिवार शामलाट जमीन पर खेतीबाड़ी करके अपने परिवारों का गुजारा कर रहे हैं। आज जब पुलिस इस जमीन पर कब्जा करने आई, तो उन्होंने विरोध किया। उनको पकड़ पकड़ कर बुरी तरह पीटा गया।
बाक्स----------------------------
घर में घुसकर महिलाओं को पीटने का आरोप
जागीर कौर व जोगिंदर कौर ने बताया कि पुरुष पुलिस मुलाजिमों ने उनके घर में घुसकर उनके साथ मारपीट की। यह प्रशासन का किसान बीबीयों के साथ अन्याय है।
बाक्स---------------------------
भाकियू नेताओं ने भड़काया: एसएसपी
एसएसपी गुरप्रीत सिंह गिल ने कहा कि पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के आदेश का पालन करने में बाधा डालने वाले सभी लोगों की पहचान कर ली गई है। उनके खिलाफ केस दर्ज किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पुलिस फोर्स गांव चौरासो में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ सरकारी जमीन पर कब्जा लेने गई थी और भारतीय किसान यूनियन (डकौंदा) के नेताओं ने बिना किसी वजह के किसानों को भड़काया और जिसकी वजह से यह सारी भिड़ंत हुई। देर शाम सदर थाना के एसएचओ ध्रुमन हर्षित राय ने बताया कि 50 किसानों के खिलाफ केस दर्ज किया जा रहा है जबकि 10 किसानों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
बाक्स---------------------------
घायलों की सूची
घायलों में भाकियू एकता (डकौंदा) के ब्लाक प्रधान सन्नौर सुखविंदर सिंह निवासी गांव तुलेवाल, पाल सिंह, जागीर कौर, जोगिंदर कौर सभी निवासी गांव चौरासो, परविंदर सिंह निवासी गांव बलवेड़ा, कमलजीत निवासी गांव चौरासो, जसवंत सिंह, गुरजंट सिंह, गुरमेल सिंह, गुरदीप सिंह, सन्नी सिंह और पुलिस मुलाजिमों में डीएसपी (आर) जगजीत सिंह, सन्नौर थाने के इंचार्ज जगबीर सिंह, थाना इंचार्ज का गनमैन होमगार्ड जवान पुरुषोत्तम दास, एएसआई नारायण सिंह इंचार्ज बलवेड़ा चौकी, एएसआई चैनसुख सिंह, एएसआई अमरप्रीत सिंह, एएसआई चंद गिर, हेड कांस्टेबल गुरजिंदर सिंह, भूनरहेड़ी चौकी इंचार्ज एएसआई भूपिंदर सिंह, हेडकांस्टेबल गुरदेव सिंह शामिल हैं।

Spotlight

Most Read

Jammu

पाकिस्तान की फायरिंग पोजिशन, बीएसएफ ने दिया मुंहतोड़ जवाब, 15 पाक रेंजर ढ़ेर

सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है। पाकिस्तान की कई फायरिंग पोजिशन, आयुध भंडार और फ्यूल डिपो को बीएसएफ ने उड़ा दिया है

22 जनवरी 2018

Related Videos

अमानवीय : दिल-दहला देगा सड़क हादसे का ये वीडियो

पंजाब के मोहाली में एक रोड एक्सीडेंट हुआ और उसके बाद जो हुआ वो दिल दहला देने वाला था। दरअसल एक्सीडेंट के बाद गाड़ी उस शख्स को तकरीबन एक किलोमीटर तक घसीटकर ले गई।

25 सितंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper