आरती की हत्या में नजदीकी का हाथ!

Pathankot Updated Fri, 10 Aug 2012 12:00 PM IST
पठानकोट। पुलिस ने गवर्नमेंट एलीमेंट्री स्कूल आसोबानो की शिक्षक आरती की निर्मम हत्या में किसी नजदीकी व्यक्ति के शामिल होने और वारदात को भी योजनाबद्ध तरीके से अंजाम देने की आशंका जताई है। पुलिस जांच में सामने आया है उसकी हत्या कहीं और पर की गई है और लाश को गुलपुर सिंबली में आकर फेंक दिया गया है। फिलहाल सदर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
उल्लेखनीय है कि गुरदासपुर निवासी आरती रोजाना बस से मलिकपुर उतरकर वहां से स्कूटी लेकर स्कूल पढ़ाने जाती थी। 7 अगस्त को वह घर वापस नहीं लौटी और कल देर सायं उसका शव बुरी तरह से खून से लथपथ हालत में गुलपुर सिंबली में मिला था। जांच में शव के गले, पेट और हाथों में तेजदार हथियार के घाव के निशान हैं। इससे उसकी निर्मम हत्या की गई है। पुलिस के मुताबिक आरती के सोने के गहने उसके शरीर पर हैं और स्कूल की मिड डे मिल के लिए निकलवाई लगभग 4 हजार की नगदी पर्स में है। मोबाइल भी शव के पास से मिला है, लेकिन उसमें सिम गायब है। इससे साफ हो गया है कि आरती की हत्या पैसों के लिए नहीं की गई है और हत्या का क ारण कुछ और है। उसके परिजनों ने आशंका जताई है कि स्कूल की एक शिक्षक से तबादले को लेकर कुछ दिन पहले नोक झोक हुई थी। लेकिन हल्की नोक झोंक हत्या जैसी वारदात तक कैसे पहुंच सकती है यह पुलिस के गले नहीं उतर रही है। सूत्रों के मुताबिक मलिकपुर में पंप पर स्कूटी खड़ी करने के बाद आरती अड्डा में बस पकड़ने आती थी, लेकिन गुलपुर सिंबली से शव बरामद होने की बात पुलिस के गले नहीं उतर रही है। पुलिस को आशंका है कि उसकी हत्या किसी और जांच को उलझाने के लिए शव को गुलपुर में फेंक दिया गया है। पुलिस जांच कर रही है कि अड्डा में बस पकड़ने की बजाए अपने किसी नजदीकी रिश्तेदार के साथ आ गई है। आशंका है कि उस नजदीकी ने ही वारदात को अंजाम दिया है। इसके अलावा पुलिस जांच के कुछ और पहलुओं को भी निचोड़कर देख रही है। इस बारे में पूछने पर डीएसपी रुरल प्रभजोत सिंह विर्क ने कहा कि पुलिस विभिन्न पहलुओं से जांच करने में लगी है। पूछने पर उन्होंने कहा कि मामले में नजदीकी के होने पर भी जांच की जा रही है और यदि कोई दोषी पाया जाता है उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
इनसेट
सुजानपुर में कार्यक्रम में लिया था हिस्सा
पठानकोट। आरती ने हत्या से पहले सात अगस्त को उसने सुजानपुर में अपने ताया के बेटे जगमोहन के घर पर एक कार्यक्रम में हिस्सा भी लिया था और अपने ससुराल में शाम को साढ़े पांच बजे अपने मोबाइल से घर पर देरी से लौटने की बात बताई थी। उसके देवर अमित कुमार ने बताया कि शाम को आरती ने अपने ताया के घर पर कार्यक्रम होने की वजह से देरी से आने की बात बताई थी और साढ़े पांच बजे उसके मोबाइल पर रिंग भी की गई, लेकिन उसने मोबाइल उठाया नहीं था। इसके बाद से उसका मोबाइल स्विच आफ आ रहा है और घटना स्थल से शव के पास केवल उसका मोबाइल बरामद किया गया है। इससे पुलिस मोबाइल सिम का अंतिम सिग्नल ढूंडने में लग गई है। वीरवार को एसपी डी नरेंद्र बेदी, डीएसपी रुरल प्रभजोत सिंह विर्क भी पूरा दिन सदर पुलिस के साथ घटना के विभिन्न पहलुओं पर जांच करने में जुटी रही।
विसरा जांच को भेजा
पठानकोट। आरती की निर्मम हत्या को लेकर पुलिस अभी अंतिम नतीजे पर नहीं पहुंच सकी है। इसलिए शव का वीरवार को सिविल अस्पताल पठानकोट में डाक्टरों के पैनल ने पोस्टमाटम किया। हत्या से पहले उससे बलात्कार तो नहीं किया गया और हत्या से पहले उसे जहर तो नहीं दिया गया। इसकी पुष्टि के लिए पुलिस ने शव का वीसरा जांच के लिए पटियाला भेजा है। डीएसपी रुरल प्रभजोत सिंह विर्क ने कहा कि विसरा जांच रिपोर्ट में ही मौत के कारणों और अन्य बातों का पता चल सकेगा इसलिए वीसरा पटियाला जांच को भेजा जा रहा है।
फोटो-09कोटपी7-आरती

Spotlight

Most Read

Lucknow

डीजीपी ने हनुमान सेतु मंदिर में मांगी प्रदेश के लिए कामना तो 'भगवान' ने दिया आशीर्वाद

लंबे इंतजार के बाद प्रदेश के नवनियुक्त डीजीपी ओपी सिंह मंगलवार सुबह राजधानी पहुंचे। एअरपोर्ट से निकलने के बाद सबसे पहले वह राजधानी के सबसे वीवीआईपी मंदिर हनुमान सेतु मंदिर पहुंचे।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: 26 जनवरी से पहले राजपथ पर दिखा ये खूबसूरत नजारा

गणतंत्र दिवस के दौरान होने वाले कार्यक्रम के लिए मंगलवार को फुल ड्रेस रिहर्सल हुई। इस दौरान ITBP, BSF, SSB, सहित तीनों सेनाओं ने शानदार प्रदर्शन किया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper