हाईवे ने छीने थे आशियाने, आज तक बेघर

Pathankot Updated Sat, 09 Jun 2012 12:00 PM IST
पठानकोट। पठानकोट-जालंधर राष्ट्रीय राजमार्ग को चौड़ा करने के लिए नेशनल हाइवे अथारिटी ने शहर में हाईवे के साथ सटे सैली कुलियां के 140 परिवारों के मकान यह आश्वासन देकर तुड़वा दिए थे कि इन्हें इसकी एवज में पांच-पांच मरले के प्लाट एवं मुआवजा दिया जाएगा। अब तीन वर्ष बीत जाने के बाद भी इन लोगों को न तो पांच पांच मरले के प्लाट मिल सके हैं और न ही मुआवजा। हालांकि कुछ लोगों को मुआवजा दिया गया है लेकिन यह मुआवजा ऊंट के मुंह में जीरे के सामान है। इससे मकान तो क्या जगह तक नहीं खरीदी जा सकती। शुक्रवार को इन लोगों ने प्रशासन एवं नेशनल हाइवे अथारिटी के खिलाफ जमकर रोष प्रदर्शन किया।
यह 140 परिवार चक्की दरिया के पास ही सरकारी जमीन पर झोंपड़ी इत्यादि बनाकर रह रहे हैं और नरक से भी बदतर जीवन जीने को मजबूर हैं। हालांकि इन लोगों ने कई बार डीसी समेत अनेक बड़े अफसरों के साथ-साथ तत्कालीन मंत्री मास्टर मोहन लाल से भी इस बारे में गुहार लगा चुके हैं लेकिन कोई कार्रवाई होती न देख अब इन लोगों का हौसला टूटता जा रहा है।
शुक्रवार को इन लोगों ने प्रशासन एवं नेशनल हाइवे अथारिटी के खिलाफ जमकर रोष प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे विजय कुमारी, मदन दास, विजय कुमार, तारो देवी, कृष्णा देवी, सत्या देवी, उर्मिला, रछपाल इत्यादि ने बताया कि अब वह खुले आसमान में रहने को मजबूर हैं और उन्हें न तो पानी मिलता है और न ही उनके यहां साफ सफाई की कोई व्यवस्था है। उन्होंने बताया कि प्रशासन एवं नेशनल हाईवे अथारिटी ने उनके मकान तोड़ने से पहले वादा किया था कि उन्हें पांच पांच मरले के प्लाट दिए जाएंगे। प्रशासन और नेशनल हाइवे अथारिटी ने उनके साथ धोखा कर उन्हें इस हाल में डाल दिया है कि नरक से भी बदतर जीवन जीने केा मजबूर हैं लोग संक्रामक बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं। वहीं भाजपा महिला मोर्चा की प्रधान कौशल्या देवी एवं भाजपा नेता जनकराज भी इन लोगों के पक्ष में उतर आएं और कहा कि वह प्रशासन और नेशनल हाइवे अथारिटी के खिलाफ अपना संघर्ष तेज करेंगे।
उधर डीसी सी सिब्बन से बात करने पर उन्होंने कहा कि पठानकोट को जिला बने अभी कुछ ही समय हुआ है, वह मामले की जांच करवाएंगे और इन लोगों के साथ इंसाफ होगा।

Spotlight

Most Read

Champawat

एसएसबी, पुलिस, वन कर्मियों ने सीमा पर कांबिंग की

ठुलीगाड़ (पूर्णागिरि) में तैनात एसएसबी की पंचम वाहिनी की सी कंपनी के दल ने पुलिस एवं वन विभाग के साथ भारत-नेपाल सीमा पर सघन कांबिंग कर सुरक्षा का जायजा लिया।

21 जनवरी 2018

Related Videos

राजधानी में बेखौफ बदमाश, दिनदहाड़े घर में घुसकर महिला का कत्ल

यूपी में बदमाशों का कहर जारी है। ग्रामीण क्षेत्रों को तो छोड़ ही दीजिए, राजधानी में भी लोग सुरक्षित नहीं हैं। शनिवार दोपहर बदमाशों ने लखनऊ में हार्डवेयर कारोबारी की पत्नी की दिनदहाड़े घर में घुस कर हत्या कर दी।

21 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper