विज्ञापन
विज्ञापन

मोहालीः सिंगर एली मांगट व उसके साथी को मिली जमानत, रिमांड में पुलिस ने पीटा, हाईकोर्ट जाएंगे

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मोहाली Updated Thu, 19 Sep 2019 02:26 PM IST
एली मांगट
एली मांगट - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
सिंगर एली मांगट को आखिर बुधवार को जेल की सलाखों से छुटकारा मिल गया। मोहाली जिला अदालत में करीब डेढ़ घंटे तक चली बहस के बाद एली मांगट और उसके साथी हरदीप को जमानत दे दी गई। वहीं, एली मांगट के वकीलों ने कहा कि भले ही पुुलिस के मेडिकल में उसे फिट बताया गया है लेकिन उनकी तरफ से दी गई एप्लीकेशन पर जो डॉक्टरों का पैनल गठित किया था।
विज्ञापन
उसकी रिपोर्ट में एली के शरीर पर छह- सात जख्म पाए गए हैं। साथ ही उनके कान में भी चोट पाई गई है। वह वीरवार को इस मामले में डीजीपी पंजाब से मिलेंगे। साथ ही एली मांगट की कस्टडी में मारपीट करने वाले पुलिस अधिकारियों पर पर कार्रवाई की मांग करेंगे। उन्होंने बताया कि जरूरत पड़ी तो इस मामले को लेकर हाई कोर्ट लेकर जाएंगे।

जानकारी के मुताबिक बुधवार को जिला अदालत में सुनवाई के दौरान एली के वकीलों व सरकारी वकील में करीब डेढ़ घंटे तक बहस चली। सरकारी वकील की दलील थी कि एली मांगट पर 295-ए के तहत केस दर्ज है। यह एक जघन्य अपराध है। वहीं मामले की जांच प्राथमिक चरण में चल रही है। वहीं ऐसे में यदि सिंगर अदालत से बाहर आता है तो वह जांच को प्रभावित कर सकता है क्योंकि उसके काफी फैन हैं। इससे कानून व्यवस्था भी बिगड़ सकती है। वहीं एली के वकीलों ने सरकारी दलीलों का विरोध किया।

एली के वकील ने कहा कि एली और उसका दोस्त हरमन साधारण युवक है। अभी तक किसी भी थाने में उनके खिलाफ केस तो दूर किसी भी तरह की कोई शिकायत भी दर्ज नहीं है। दोनों काफी पढ़े-लिखे हैं। रही बात 295-ए के तहत मामला दर्ज होने की तो उसके वीडियो की अभी तक फोरेंसिक जांच होनी शेष है। वहीं उसके साथी का इससे कोई लेना देना नही है। ऐसे में उसे जमानत दी जानी चाहिए। अदालत ने सारे तर्कों को सुनने के बाद जमानत दे दी।

अब एली का करवाएंगे डॉक्टरी इलाज
एली के वकीलों ने बताया कि वह जल्दी ही जेल से बाहर आएगा। मेडिकल रिपोर्ट में जहां पर उसके शरीर में चोट के निशान आए हैं। इसके अलावा उसके कान में भी दर्द है। जल्दी ही एली का मेडिकल करवाया जाएगा ताकि उसे उचित इलाज मिल पाए। वहीं, उन्होंने कहा कि इस मामले में एक बड़े अफसर, दो आफिशियल व एक इंस्पेक्टर पर कार्रवाई के लिए मांग करेंगे।

यह था मामला
पंजाबी गायक रम्मी रंधावा व एली मांगट के बीच सोशल मीडिया पर पिछले कई दिनों से विवाद चल रहा था। उसी विवाद के चलते दोनों ने 11 सितंबर को आमने-सामने होकर खूनी संघर्ष करने का समय तय किया था। एली मांगट ने कनाडा से लाइव होकर रंधावा को ललकार कर कहा था कि वह कनाडा से चल पड़ा है और सीधा उसके घर पहुंचेगा। मोहाली पुलिस को जैसे ही इस बात की भनक लगी तो पुलिस ने 10 सितंबर को ही गायक रंमी रंधावा को सेक्टर 88 स्थित पूरब प्रीमियम अपार्टमेंट़्स स्थित रिहायश से गिरफ्तार कर लिया था।

वहीं पुलिस स्टेशन सोहाना में गायक रमनदीप सिंह उर्फ रम्मी रंधावा, प्रिंस रंधावा तथा व मांगट के खिलाफ आईपीसी की धारा 294, 504, 506 तथा आईटी एक्ट की धारा-67 के तहत केस दर्ज करके रम्मी रंधावा को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस ने इसी केस में कनाडा से मोहाली पहुंचे एली मांगट व उसके साथी बड्डा ग्रेवाल हरमन को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था।
विज्ञापन

Recommended

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Chandigarh

जीरकपुरः मां की आंखों के सामने स्कूल बस के नीचे आया बेटा, तीन बहनों का इकलौता भाई था

मां की ओर दौड़ता डेढ़ साल का बेटा स्कूल बस के नीचे आया, टायर चढ़ने से बच्चे की मौत

15 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

डीआरडीओ की 41वीं कांफ्रेंस में बिपिन रावत का बयान स्वदेशी हथियारों से लड़ा जाएगा अगला युद्ध

डीआरडीओ भवन में डीआरडीओ की 41वीं कांफ्रेंस हुई। जिसमें सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने कहा कि हमें विश्वास है कि हम स्वदेशी हथियार सिस्टम और उपकरणों के जरिए अगला युद्ध लड़ेंगे और जीतेंगे।

15 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree