कब्जाधारकों से वसूलेंगे मिट्टी डालने का खर्च

Mohali Updated Sat, 26 May 2012 12:00 PM IST
मोहाली। जिले की लिंक सड़कों के किनारे हो रहे नाजायज कब्जों को हटाने और किनारों की मजबूती के लिए जिला प्रशासन ने सख्ती शुरू कर दी है। शुक्रवार को डिप्टी कमिश्नर वरुण रूजम ने खरड़- बजहेड़ी-गड़ागां सड़क का दौरा किया। इस दौरान सामने आया कि जो सड़कें पहले 22 फुट चौड़ी थी, वे अब नाजायज कब्जों के चलते मात्र 10 फुट रह गई हैं। उन्होंने अधिकारियों को हिदायत दी कि जिन सड़कों पर कब्जे हुए हैं, उन्हें तुरंत हटाया जाए। कब्जे हटाने और मिट्टी डालने का काम 15 दिन में पूरा किया जाए। साथ ही मिट्टी डालने का खर्च भी संबंधित व्यक्तियों से वसूला जाए।
डीसी रूजम ने कहा कि जिन किसानों ने सड़कों के किनारों को तोड़कर अपने खेतों में मिला लिया है। उन नाजायज कब्जों को हटाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। सड़कों के किनारे मिट्टी डालने पर जो भी खर्च आएगा, वह खर्च संबंधित किसान से वसूला जाएगा।
डीसी ने गांव बजहेड़ी की पंचायत व किसानों के साथ भी बैठक की। वहीं, गांव की पंचायत ने जिला प्रशासन द्वारा शुरू की गई मुहिम में पूरा सहयोग देने का वादा किया। इसके बाद डीसी ने एसवाईएल नहर, सकरूलापुर, गड़ागां और घड़ुआं की सड़कों भी जायजा लिया। उन्होंने बताया कि लोक निर्माण विभाग, पंचायत, माल विभाग की सभी सड़कों का रकबा पूरा करवाया जाएगा। खरड़-रंधावा सड़क को चौड़ा करने संबंधी पूछे गए सवाल में उन्होंने कहा कि खरड़ के एसडीएम को आदेश दे दिए गए हैं। वह सड़क संबंधी प्रोजेक्ट तैयार कर रहे हैं। इस मौके एसडीएम खरड़ सुखजीत पाल सिंह, नायाब तहसीलदार खरड़ तरसेम मित्तल भी मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मोहाली में भूख हड़ताल पर बैठे पेट्रोल पंप मालिक, ये है वजह

पंजाब में हरियाणा और चंडीगढ़ के बराबर टैक्स किए जाने की मांग को लेकर मोहाली में पेट्रोल पंप के मालिकों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पंजाब में ज्यादा टैक्स वसूले जाने की वजह से व्यापार को नुकसान झेलना पड़ा है।

24 जनवरी 2018