‘रेहड़ी माफिया’ के खिलाफ डटे पूर्व पार्षद

Mohali Updated Tue, 18 Dec 2012 05:30 AM IST
मोहाली। नगर निगम के ‘रेहड़ी माफिया’ के खिलाफ सोमवार को पांच पूर्व पार्षद डट गए। सोमवार शाम को फेज सात मार्केट में विवाद के बाद उन्होंने नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर से तहबाजारी विंग के एक इंस्पेक्टर के खिलाफ फोन पर शिकायत की। साथ ही नाजायज रेहड़ियों का मुद्दा उठाया। ज्वाइंट कमिश्नर ने उनसे कहा कि सभी रेहड़ियों को हटाने के लिए अभी टीम भेजते हैं। फिर क्या था देखते ही देखते दस मिनट में मार्केट से रेहड़ियां गायब हो गई। पूर्व पार्षदों का कहना है कि रेहड़ी वालों को छापे की सूचना किसने दी। इसकी जांच होनी चाहिए।
सोमवार शाम को चार पूर्व एमसी गुरमुख सोहल, परमजीत काहलों, बीबी मैनी और आरपी शर्मा भी फेज सात मार्केट पहुंचे। उन्होंने मौके से ही ज्वाइंट कमिश्नर दिलराज सिंह को फोन पर करीब चार बजे सारी बात बताई। इस पर ज्वाइंट कमिश्नर ने उन्हें सारी रेहड़ियां हटाने के लिए टीम भेजने का भरोसा दिया। इसके बाद दस मिनट के अंदर मार्केट के सारे रेहड़ी वाले गायब हो गए। परमजीत काहलों ने बताया कि आठ दिन पहले भी मार्केट में छापा मारा गया, तो कुछ रेहड़ी वाले जोकि निगम स्टाफ के संपर्क में हैं, पहले ही गायब हो गए थे। इससे साफ है कि रेहड़ी के कारोबार में निगम के ही लोग शामिल हैं। पूर्व पार्षद मंगलवार को निगम अधिकारियों से मिलेंगे। उनकी मांग है कि या तो सारी रेहड़ियों की परची काटी जाए, ताकि निगम की आमदनी हो। या किसी की परची न कटे, या फिर सारी रेहड़ियां ही हटा दी जाएं।
पूर्व एमसी ज्ञानचंद अग्रवाल ने कहा कि फेज सात मार्केट में एक व्यक्ति कपड़ों का स्टॉल लगाता है। वह रोज की परची फीस देने को तैयार था, पर निगम के एक मुलाजिम ने उससे अतिरिक्त पैसे मांगे। नहीं दिए तो परची नहीं काटी गई और न ही दुकान लगने दी गई। जबकि, इसी मार्केट में बड़ी संख्या में रेहड़ियां लगी हुई हैं। तीन दिन पहले उन्होंने निगम अधिकारियों को इसकी लिखित शिकायत दी थी।
000000

-- बॉक्स
सदन ने पास किया था कार्रवाई का प्रस्ताव
पूर्व पार्षद ज्ञानचंद अग्रवाल ने बताया कि निगम के जिस तहबाजारी इंस्पेक्टर के खिलाफ शिकायत दी गई है, उस पर पहले भी आरोप लग चुके हैं। पूर्ववर्ती नगर काउंसिल में उसके खिलाफ कार्रवाई का प्रस्ताव रखा गया था। जिसे पहली बार इकट्ठे होते हुए अकालियों, कांग्रेसियों एवं विधायक ने इसे सर्वसम्मति से पास किया था। इसके बावजूद उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।
0000
-- बॉक्स
शिकायत मिली है, कार्रवाई करेंगे
निगम के ज्वाइंट कमिश्नर दिलराज सिंह ने कहा कि उन्हें निगम स्टाफ के खिलाफ शिकायत मिली है। कुछ गलत लोग हैं, उन्हें कहीं और शिफ्ट किया जाएगा। उन्होंने कहा कि परची का प्रावधान सिर्फ फेस्टिवल सीजन या खास मौके पर चार-पांच दिनों के लिए है। परची लगाकर रेहड़ियों को मान्यता नहीं दी जा सकती। रेहड़ियों के खिलाफ मुहिम लगातार चलती है।

Spotlight

Most Read

Bihar

लालू के सामने आई एक और मुसीबत, ED ने दूसरे दामाद राहुल को भेजा नोटिस

प्रवर्तन निदेशालय ने लालू यादव के दूसरे दामाद राहुल यादव को समन भेजा है।

16 जनवरी 2018

Related Videos

परिवार को भी नहीं था यकीं बेटी के साथ ये घिनौना काम करेगी करीबी महिला

दो महीने पहले मोहाली के सेक्टर 69 में रेप के बाद नाबालिग लड़की की हत्या के मामले को सुलझा लिया गया है। पुलिस ने इस मामले में मां-बेटी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। रिपोर्ट में जानिए पुलिस ने कैसे सुलझाया ये मामला।

11 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper