रिहायशी इलाके के पार्कों की बदलेगी सूरत

Mohali Updated Sun, 16 Sep 2012 12:00 PM IST
मोहाली। शहर के रिहायशी इलाकों में विरान पड़े पार्कों की जल्दी ही सूरत बदल जाएगी। गमाडा के थिंक टैंक ने पार्कों को सुधारने की पूरी प्लानिंग तैयार कर ली है। इसके पहले चरण में विभिन्न सेक्टरों के चार पार्को के कायाकल्प की तैयार की गई है। जहां पर बच्चों एक ही जगह पर विभिन्न गेम्स का आंनद उठाने के लिए मल्टी प्ले सिस्टम स्थापित किए जाएंगे। साथ ही पार्क की तरफ लोगों को खींचने के लिए नए सिरे से आकर्षक लैंड स्केपिंग की जाएगी।
गमाडा ने निशानदेही कर पार्कों को संवारने का फैसला लिया है। इसमें फेज-7, सेक्टर-65, सेक्टर-70 और सेक्टर-71 का एक-एक पार्क शामिल है। इन चारों पार्कों पर करीब एक करोड़ की लागत से काम किया जाएगा। गमाडा अधिकारी पार्कों को जल्दी से जल्दी इस काम को पूरा कर लोगों का सौंपना चाहते हैं। इसलिए गमाडा ने यह काम प्राइवेट कंपनी से कराने का फैसला लिया है। अगर सबकुछ सही रहता है तो चार महीने में यह काम पूरा हो जाएगा।
गमाडा अधिकारियों की मानें तो पार्कों की लैंड स्केपिंग बिल्कुल चंडीगढ़ के तर्ज पर की जाएगी। पार्कों की एंट्री से लेकर हर कोने में विभिन्न डिजाइनों में लैड स्केपिंग की जाएगी, जिसमें देश की विभिन्न जिसमें कोलकात्ता, लुधियाना और दिल्ली की बड़ी नर्सरियों से फूलों के पौधे और बीज मंगवा कर लगाए जाएंगे, ताकि लोगों पार्क की खूबसूरती का पूरा आनंद उठा पाए। इसके अलावा पार्क की देखभाल का जिम्मा उठाया जाएगा। गौरतलब है कि गमाडा के सीए एके सिन्हा ने खुद शहर के बड़े पार्कों का दौरा किया था, जिसके बाद ही ही पार्कों को संवारने की दिशा में काम शुरू हो पाया है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मोहाली में भूख हड़ताल पर बैठे पेट्रोल पंप मालिक, ये है वजह

पंजाब में हरियाणा और चंडीगढ़ के बराबर टैक्स किए जाने की मांग को लेकर मोहाली में पेट्रोल पंप के मालिकों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पंजाब में ज्यादा टैक्स वसूले जाने की वजह से व्यापार को नुकसान झेलना पड़ा है।

24 जनवरी 2018