कहां है समस्या, क्या है हल, सात दिन में दो रिपोर्ट

Mohali Updated Wed, 22 Aug 2012 12:00 PM IST
मोहाली। सोमवार रात दो घंटे लगातार हुई मूसलाधार बारिश शहर के लिए आफत बन गई। इस दौरान फेज-4 के एचएम फ्लैट्स में पानी घुस गया, जिससे लोगों का काफी नुकसान हो गया। गुस्साए लोगों ने जेसीबी से बाउंड्री वाल तोड़ी, तब पानी निकला। इसके बाद मंगलवार को प्रशासन ने भी क्राइसिस मैनेजमेंट शुरू किया। गमाडा के सीए एके सिन्हा, जिला योजना कमेटी के चेयरमैन हरभजन मान व संबंधित अधिकारयों ने मौके का जायजा लेकर लोगों की समस्याएं सुनीं। जिसके बाद सीए ने मौके पर ही अधिकारियों को आदेश दिए कि अगले सात दिनों में सर्वे कर साफ करें कि इलाके में पानी रुकने की समस्या क्यों आ रही है और इसका हल कैसे होगा।
एचएम फ्लैट्स की रेसिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान एनएस कलसी ने उन्हें बताया कि शॉपिंग स्ट्रीट का लेवल ऊंचा करने से यह समस्या आनी शुरू हुई है। सड़क में डिवाइडर की ऊंचाई अधिक होने से पानी का बहाव रुक रहा है, जिससे इलाके में आफत आ रही है। वहीं, सड़क का काम चल रहा था और लुक का ढेर लगा था, जिसने पानी का बहाव रुका। जिसके बाद सीए ने एसई को आदेश दिए कि एक टीम बनाकर सात दिन में इलाके का सर्वे कराएं, जिसमें पानी रुकने का कारण और उसके हल के लिए प्लान तैयार करें। उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि जब सर्वे रिपोर्ट आएगी तो वह एसोसिएशन के मेंबरों को बुलाएंगे। सर्वसम्माति से आगे काम करेंगे। वहीं, सीए ने अधिकारियों को साफ कहा कि जो बाउंड्री वाल लोगों ने तोड़ी है। उस जगह पर लोहे की ग्रिल लगाई जाए, ताकि इलाके की सुरक्षा भी बनी रहे और पानी की निकासी भी बढ़िया तरीके से हो पाए।

-- बॉक्स
शॉपिंग स्ट्रीट पर पैचवर्क की मांग
मौके पर पहुंचे फेज-3बी1 की रेसिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के मेंबरों ने गमाडा सीए एके सिन्हा को बताया कि शॉपिंग स्ट्रीट जगह-जगह से टूट रही है। इस पर तुरंत पैचवर्क कराया जाना चाहिए। नहीं तो बाद में प्रीमिक्स डालने में ज्यादा टाइम लग जाता है और लोगों को परेशानी होती है। साथ ही हादसे भी होते हैं। इस पर सिन्हा ने अधिकारियों को आदेश दिए कि जहां पर सड़क टूट रही है। उसका तुरंत पैचवर्क किया जाए। साथ ही उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि अगर जरूरत पड़ी तो ठेकेदार की पेमेंट तक रोकी जाएगी। लोगों ने रोज गार्डन और बोगनविलिया पार्क में पानी भरने का भी मुद्दा उठाया।

-- बॉक्स
जहां भी समस्या है, वहां डाला जाएगा पेवर ब्लॉक
डिप्टी कमिश्नर वरुण रूजम द्वारा पिछली बार जलभराव के बाद इस समस्या से निपटने को बनाई कॉर्डिनेशन कमेटी ने भी पानी का कुदरती बहाव बहाल करने का सुझाव दिया है। कमेटी ने सिफारिश की है कि शहर में जहां भी सड़क का लेवल ऊंचा होने से पानी का बहाव रुक रहा है। उस जगह पर सड़क तोड़ कर पेवर ब्लॉक बिछाया जाए। यह प्रयोग पहली बार शॉपिंग स्ट्रीट पर फेज चार के एचएम फ्लैट्स के सामने किया था। हालांकि वहां एक साइड की सड़क पर ही पेवर ब्लॉक बिछाए गए थे। दूसरी साइड का काम चल रहा था। इसी दौरान सोमवार को बारिश हुई और पानी भर गया। अब यही प्रयोग शहर में हर उस जगह किया जाएगा, जहां सड़क के लेवल से पानी का कुदरती बहाव रुक रहा है।

-- बॉक्स
सोहाना में लोगों ने किया रोष प्रदर्शन
सोहाना में मंगलवार को लोगों ने गमाडा के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। लोगों का कहना था कि जनवरी-11 में मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने गलियों-नालियों व सीवरेज के काम का नींव पत्थर रखा था। सीवरेज का काम तो शुरू हो गया। पर गलियों-नालियों का पैसा अब तक नहीं आया। जिस कारण सोमवार को बारिश के बाद इलाके का बुरा हाल हो गया। गलियों में जगह-जगह खड्डे पड़े हैं, सारे इलाका कीचड़ फैला है। उन्होंने मांग की कि जल्द ही यह काम पूरा कराया जाए। उधर, सरपंच परमिंदर सिंह सोहाना ने कहा कि वह कई बार गमाडा सीए को कह चुके हैं। जिला योजना कमेटी चेयरमैन हरभजन मान से भी मंगलवार को मिले थे। उन्होंने भरोसा दिया है कि दो दिनों में गलियों-नालियों का काम शुरू करवाया जाएगा।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Jaipur

इस खास काम के लिए फिर राजस्थान आएंगे पीएम मोदी

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक खास काम के लिए फिर से राजस्थान का दौरा करेंगे।

25 फरवरी 2018

Related Videos

नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ अब इन्होंने खोला मोर्चा, सुनिए क्या हैं आरोप

मोहाली के मेयर कुलवंत सिंह पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज करवाएंगे।

17 फरवरी 2018

Recommended

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen