एक आरोपी ने किया आत्मसमर्पण

Mohali Updated Fri, 20 Jul 2012 12:00 PM IST
खरड़(मोहाली)। अनाज मंडी में वर्ष 2004 में हुए गोलीकांड में दो अकाली कार्यकर्ताओं की हत्या के मामले में एक आरोपी ने खरड़ अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। इस मामले में विभिन्न धाराओं के तहत 21 लोगों के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी किया गया था। अदालत ने आत्मसमर्पण करने वाले आरोपी कुराली निवासी तेजविंदर सिंह उर्फ गोगा को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। वहीं, पुलिस ने वारंट में शामिल अन्य लोगों की रिपोर्ट बनाकर अदालत को सौंप दी है। उधर, तेजविंदर के वकील ने जमानत की अर्जी दी। अब इस मामले पर 30 जुलाई को सुनवाई होगी।
3 जुलाई 2004 को खरड़ की अनाज मंडी में एसजीपीसी चुनाव के दौरान शिअद की रैली थी, जिसमें शक्ति प्रदर्शन करने के लिए शिअद नेता किरणबीर सिंह कंग व राजबीर सिंह पडियाला अपने समर्थकों सहित पहुंचे थे। इस दौरान दोनाें गुटों के समर्थकों में टकराव हो गया और दोनों ओर से हुई फायरिंग में अकाली कार्यकर्ता युवा उप प्रधान हरबीर सिंह व सोपू नेता परमजीत सिंह पम्मा की मौत हो गई थी। इस मामले में दोनों पक्षों के खिलाफ कत्ल का मामला दर्ज हुआ था, लेकिन वर्ष 2007 में एडीजीपी क्राइम शशि प्रभा ने किरणबीर कंग गुट को क्लीन चिट दे दी थी।
14 जुलाई को खरड़ अदालत ने इस मामले में पंजाब पुलिस के कई अधिकारियों, कुछ नेताओं सहित कुल 21 लोगों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था। इनमें वर्ष 2004 में तैनात जिला रोपड़ के एसएसपी सुरिंदरपाल सिंह विर्क, खरड़ के पूर्व डीएसपी जसदेव सिंह संधू, इंस्पेक्टर रमनदीप सिंह, एसआई भगवंत सिंह रयाड़, इंस्पेक्टर गुरदीप सिंह, एएसआई हरभजन सिंह, कुलबीर सिंह, सिपाही अवतार सिंह, अमरजीत सिंह, नागर सिंह, अनोख सिंह, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता राजबीर सिंह पडियाला, उनके भाई तेजिंदर सिंह पडियाला, तेजविंदर सिंह उर्फ गोगा, करमजीत सिंह उर्फ कर्मा, सज्जन सिंह, रविंदर सिंह काला, हरिंदर सिंह, भाग सिंह, मंगा, सुरिंदर सिंह भी शामिल हैं।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मोहाली में भूख हड़ताल पर बैठे पेट्रोल पंप मालिक, ये है वजह

पंजाब में हरियाणा और चंडीगढ़ के बराबर टैक्स किए जाने की मांग को लेकर मोहाली में पेट्रोल पंप के मालिकों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पंजाब में ज्यादा टैक्स वसूले जाने की वजह से व्यापार को नुकसान झेलना पड़ा है।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls