बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

आलीशान कोठी में बहनों को बंधक बना कर लाखों की लूट

Updated Mon, 05 Jun 2017 10:40 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
दो बहनों को बंधक बनाकर तीस लाख की लूट
विज्ञापन

जगरांव के करियाना डिपो मालिक के घर दिनदहाड़े हुई वारदात
पैसों की जानकारी लेने के लिए लुटेरों ने बहनों के साथ की मारपीट
अमर उजाला ब्यूरो
जगरांव (लुधियाना)।
कच्चा मलिक रोड स्थित करियाना डिपो मालिक के घर में दीवार फांद कर घुसे लुटेरे दो बहनों को बंधक बनाकर करीब तीस लाख की नगदी और गहने लेकर फरार हो गए। आरोपियों ने दोनों बहनों के साथ मारपीट भी की। दोपहर करीब डेढ़ से दो बजे के बीच हुई इस वारदात से इलाके में हड़कंप मच गया। जानकारी मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची और छानबीन शुरू की।
जानकारी के अनुसार झांसी चौक के नजदीक किराना डिपो के मालिक जतिंदर कुमार बेरी रोजाना की तरह डिपो पर गए थे। दोपहर करीब डेढ़ बजे उनकी पत्नी शालू बेरी भी डिपो पर चली गई। घर में उनकी 15 साल की बेटी महक और 12 साल की बेटी हिमानी थीं। शालू बेरी के कोठी से निकलने के करीब पांच मिनट बाद ही तीन नकाबपोश युवक दीवार फांदकर कोठी में दाखिल हो गए। तीनों युवकों ने पहले लॉबी का दरवाजा खोला और फिर अंदर घुस गए। अंदर पहुंचते ही उन्होंने महक और हिमानी के बाजू चुन्नी से बांध दिए और उनके मुंह पर टेप लगा दी। लुटेरों ने घर में रखी नगदी और गहनों के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए लड़कियों के साथ मारपीट भी की। लड़कियों को इस बारे में जानकारी नहीं होने के कारण लुटेरों ने कोठी की सारी अलमारियों और अन्य सामान खंगाल दिया। फिर वहां से नगदी और गहने लेकर फरार हो गए। इस घटना के बाद दोनों बहनें बुरी तरह से सहम गईं। बाद में कुछ हिम्मत करके किसी तरह कोठी के मुख्य दरवाजे तक पहुंच कर शोर मचाया। आसपास के लोग जमा हो गए और लड़कियों को संभाला। उसके बाद उनके माता पिता को सूचित कर घटना की जानकारी पुलिस को दी गई।

सूचना मिलते ही एसपी मनदीप सिंह और डीएसपी सतनाम सिंह समेत बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। आसपास के सीसीटीवी कैमरों को बारीकी से खंगालने और प्राथमिक जांच में सामने आया है कि वारदात को अंजाम देने के लिए दो मोटरसाइकिलों पर छह युवक आए थे। इनमें से तीन कोठी के अंदर दाखिल हुए और तीन बाहर ही खड़े रहे। वारदात को अंजाम देने के बाद वे झांसी चौक की तरफ फरार हो गए। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। फिंगर प्रिंट माहिरों की भी सहायता ली जा रही है। पुलिस का दावा है कि शीघ्र ही लुटेरों को काबू कर लिया जाएगा।
रेड अलर्ट के बावजूद लुटेरे सक्रिय
छह जून को घल्लूघारा दिवस को लेकर पंजाब में रेड अलर्ट जारी है। जगह जगह नाकाबंदी करके आने जाने वाले लोगों को रोककर चेक किया जा रहा है। संदिग्ध लोगों पर निगाह रखी जा रही है। बावजूद इसके बेखौफ लुटेरों की सक्रियता को लेकर लोग हैरान हैं। लोगों का आरोप है कि लुटेरे दिनदिहाड़े बड़ी वारदात करके आराम से फरार हो गए और पुलिस की चौकसी धरी की धरी रह गई।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us