तीनों आरोपी चार दिन के रिमांड पर

Ludhiana Updated Fri, 28 Dec 2012 05:30 AM IST
लुधियाना। काउंटर इंटेलिजेंस विभाग में तैनात एआईजी एसएस मंड और उनके एनआरआई दोस्त परमजीत सिंह पर हुए हमले के मामले में पुलिस ने तीनों आरोपियों को वीरवार अदालत में पेश कर चार दिन के रिमांड पर लिया। तीनों आरोपियों सन्नी जौहर, अमन एवं ऋषि बांडा को पुलिस कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच अदालत परिसर में लेकर पहुंची। पुलिस ने आरोपियों का पूछताछ के लिए सात दिन का रिमांड मांगा, लेकिन दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद अदालत ने तीनों आरोपियों को 31 दिसंबर तक के पुलिस रिमांड पर भेज दिया। रिमांड मिलने के बाद पुलिस टीम देर शाम मुख्य आरोपी सन्नी जौहर को लेकर उसके रेस्टोरेंट हब में पहुंची और वहां पर लंबी छानबीन की। सन्नी से घटना के बारे में कई तरह से सवाल भी किए गए।
दो दिन पहले देर रात घुमार मंडी स्थित हब रेस्टोरेंट में एनआरआई परमजीत सिंह का होटल के संचालक और स्टाफ के साथ झगड़ा हो गया। इसी घटना में एआईजी मंड की टांग टूट गई। पुलिस ने इस मामले में रेस्टोरेंट के मालिक सन्नी जौहर, अमन और ऋषि बांडा के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। बुधवार को सन्नी और ऋषि को जीरकपुर और अमन को लुधियाना से गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद पुलिस ने उनसे घटना के बारे में कड़ी पूछताछ की है। पुलिस इस केस में कई बिंदुओं पर काम कर रही है।
एडीसीपी जोगिंदर सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम तीनों आरोपियों को अदालत में लेकर पहुंची। पुलिस ने इस मामले की तह तक जाने के लिए वकील के जरिए अपना पक्ष अदालत में रखा। उधर बचाव पक्ष के वकील ने भी अपने मुव्वकिल के पक्ष में दलीलें दी और इसे आपसी मारपीट का मामला बताया। बचाव पक्ष के वकील ने पुलिस पर थर्ड डिग्री इस्तेमाल करने का भी आरोप लगाया। सन्नी के पैर में पट्टी बंधी थी और वह लंगड़ा कर चल रहा था। अब पुलिस की जांच टीमें आरोपियों से गहन पूछताछ करने में जुट गई हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सरकारी बेरुखी ने बनाया इस गोल्ड मेडेलिस्ट को मजदूर

स्पेशल ओलिंपिक्स वर्ल्ड समर गेम्स-2015 में 2 स्वर्ण पदक विजेता 17 साल के चैंपियन साइक्लिस्ट राजबीर सिंह आजकल बदहाली में जी रहे हैं। राजबीर की ये बदहाली सरकार के खेलों को बढ़ावा देने के दावों की कलई खोल रही है।

27 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls