मोगा पुलिस के गले की फांस बना पासपोर्ट घोटाला

Ludhiana Updated Mon, 24 Dec 2012 05:31 AM IST
मोगा। साढे़ चार साल पहले थाना सिटी में दर्ज हुआ पासपोर्ट घोटाला पुलिस के गले की फांस बनकर रह गया है। फर्जी पासपोर्ट पर विदेशों से भारत लौट रहे आरोपियों को देश भर के हवाईअड्डों से गिरफ्तारी के लिए जाना पड़ रहा है। आरोपियों की ओर से तकरीबन 90 याचिकाएं हाईकोर्ट में दायर करने से पुलिस की सांस फूल गई है। पुलिस ने एक हफ्ते पहले जिला अदालत में 11वां आरोप पत्र दायर किया है। इस केस में 70 से अधिक सरकारी गवाह हैं। आरोप पत्र की पांच लाख से अधिक फोटो स्टेट कापियां आरोपियों को दी गई हैं। मामले की अगली सुनवाई 12 जनवरी को है।
बचाव पक्ष के वकील से मिली जानकारी के अनुसार बहुचर्चित पासपोर्ट घोटाले के संबंध में तकरीबन 90 आरोपियों ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में विभिन्न तरह की याचिकाएं दायर की थीं। इनमें करीब 35 याचिकाएं लंबति हैं। जस्टिस केसी पुरी की अदालत में बीते 18 दिसंबर को 19 याचिकाओं की सुनवाई हुई। इन याचिका पर अब 11 फरवरी को सुनवाई होगी। जिला अदालत में कई आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है लेकिन वे कोर्ट के आदेश के इंतजार में हैं।

क्या है मामला
थाना सिटी पुलिस ने एसएसपी दफ्तर में कार्यरत एक कांस्टेबल की शिकायत पर 13 जुलाई 2008 को दफ्तर की पासपोर्ट ब्रांच में काम करते हवलदार रंजीत सिंह, गुरदयाल सिंह और जसविंदर सिंह (अब बर्खास्त) के अलावा चंडीगढ़ पासपोर्ट दफ्तर के मुलाजिम दीदार सिंह, जन्म एवं मृत्यु क्लर्क, पोस्टमैन के खिलाफ पासपोर्ट और अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया था। शिकायतकर्ता भी इसी ब्रांच में तैनात था। पुलिस जांच ने अपनी जांच में एक बहुत बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया था जो जाली राशन कार्ड, बर्थ सर्टिफिकेट और दूसरे दस्तावेज तैयार करके पासपोर्ट बनाने के नाम पर लाखों रुपये बटोरता था।

सैकड़ों आरोपी विदेशों में
पासपोर्ट घोटाले में चंडीगढ़ की 14 ट्रेवल एजेंसियों के मालिकों, तकरीबनन 55 प्रवासी भारतीयों समेत 72 आरोपी अदालती कार्रवाई का सामना कर रहे हैं। जाली दस्तावेजों पर पासपोर्ट बनाकर विदेश गए सैकड़ों आरोपी गिरफ्तारी के भय से भारत नहीं लौट रहे। पुलिस ने कई आरोपियों को कोलकत्ता, चेन्नई, मुंबई, नेपाल, दिल्ली व अमृतसर एयरपोर्ट जाकर गिरफ्तारी की है। जब भी आरोपी देश के किसी भी एयरपोर्ट से विदेश आता जाता है तो दबोचा जा रहा है। कुछ दिन पहले ही एक फर्जी पासपोर्ट धारक को चेन्नई एयरपोर्ट से गिरफ्तार करके जेल भेजा गया है।

Spotlight

Most Read

Bareilly

बच्चो! 100 रुपये में स्वेटर खा लो

नकारा सिस्टम सरकारी योजनाओं को तो पलीता लगाता ही है, उसे गरीब बच्चों से भी कोई हमदर्दी नहीं है। सर्दी में बच्चों को स्वेटर बांटने की व्यवस्था ही देख लीजिए..

20 जनवरी 2018

Related Videos

सरकारी बेरुखी ने बनाया इस गोल्ड मेडेलिस्ट को मजदूर

स्पेशल ओलिंपिक्स वर्ल्ड समर गेम्स-2015 में 2 स्वर्ण पदक विजेता 17 साल के चैंपियन साइक्लिस्ट राजबीर सिंह आजकल बदहाली में जी रहे हैं। राजबीर की ये बदहाली सरकार के खेलों को बढ़ावा देने के दावों की कलई खोल रही है।

27 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper