नामधारी प्रमुख पंचतत्व में विलीन

Ludhiana Updated Sat, 15 Dec 2012 05:30 AM IST
लुधियाना। नामधारी समुदाय के सतगुरु जगजीत सिंह शुक्रवार को पंचतत्व में विलीन हो गए। सतगुरु का शुक्रवार को नामधारी मुख्यालय के परिसर में पूरी धार्मिक रीतियों के अनुसार अंतिम संस्कार कर दिया गया। नामधारी समुदाय के अलावा हर वर्ग से जुड़े लोगों ने सतगुरु को नम आंखों के साथ अंतिम विदाई दी। उनकी अंतिम अरदास 23 दिसंबर को नामधारी मुख्यालय में होगी। सतगुरु की धर्मपत्नी माता चंद कौर के आदेश पर सतगुरु के भतीजे ठाकुर उदय सिंह को मुख्यालय का प्रबंधक मनोनीत किया गया है।
मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, कांग्रेस की वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री राजिंदर कौर भट्ठल, राधास्वामी डेरे के प्रमुख गुरिंदर सिंह ढिल्लो समेत कई धार्मिक, सामाजिक, राजनीतिक संगठनों से जुडे़ लोगों ने सतगुरु को श्रद्धा सुमन अर्पित कर अंतिम श्रद्धांजलि दी।
वीरवार शाम अपोलो अस्पताल में सतगुरु ने अंतिम सांस ली। देर रात करीब दस बजे उनके पार्थिव शरीर को नामधारी मुख्यालय श्री भैणी साहिब ले जाया गया। वहां रात से ही नामधारी समुदाय के लोग जुटना शुरू हो गए। दोपहर बाद तक लोगों ने प्रताप भवन में अपने सतगुरु के अंतिम दर्शन किए। इसके बाद करीब पौने तीन बजे मुख्यालय परिसर में विशेष तौर पर बनाए गए करीब पांच फीट ऊंचे मंच पर सतगुरु के पार्थिव शरीर को लाया गया। धार्मिक अनुष्ठान के साथ उनके अंतिम संस्कार की प्रक्रिया शुरू की गई। ठाकुर उदय सिंह और संत जय सिंह ने उनकी चिता को मुखाग्नि दी।
इस अवसर पर माता चंद कौर भी मंच के बिल्कुल पास एक बैटरी ऑपरेटिड विशेष मिनी कार में अपनी बेटी के साथ मौन बैठी रहीं। सतगुरु के नजदीकी रिश्तेदारों और मुख्यालय के प्रमुख सेवादारों ने अंतिम संस्कार की रस्में पूरी कराईं। इस दौरान धार्मिक अरदास और कीर्तन लगातार जारी रहा। अंतिम संस्कार के तुरंत बाद माता चंद कौर मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के पास पहुंचीं। मुख्यमंत्री ने उनका आशीर्वाद लिया। अंतिम संस्कार के मौके पर पुलिस का जबरदस्त सुरक्षा प्रबंध रहा। श्री भैणी साहिब मुख्यालय को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया। जगह जगह पर बैरिकेडिंग की गई थी। अंतिम संस्कार के अवसर पर लोग मकानों की छतों, पेड़ों समेत जहां-जहां जगह मिली खड़े होते गए। भारी भीड़ के कारण कुछ भक्त बेहोश भी हो गए।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री आदेश प्रताप सिंह कैरों, शरणजीत सिंह ढिल्लो, विधायक रंजीत सिंह तलवंडी, विहिप के राष्ट्रीय मंत्री जेनेंद्र मिश्रा, कांग्रेसी नेता लाल सिंह, तेज प्रकाश सिंह कोटली, अमरीक सिंह आलीवाल, गुरचरण सिंह गालिब, सतपाल गोसाईं, मेयर हरचरण सिंह गोहलवड़िया और हीरा सिंह गाबड़िया समेत कई लोग मौजूद रहे।

सतगुरु का जाना न पूरा होने वाला नुकसान : सीएम
मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल का कहना है कि सतगुरु का जाना न पूरा होने वाला घाटा है। उनके निधन से गहरा सदमा लगा है। सतगुरु ने समाज को हमेशा ही दिशा दी है, उनके साथ मेरे निजी रिश्ते थे। सीएम शुक्रवार को नामधारी मुख्यालय में अंतिम संस्कार के अवसर पर पत्रकारों से बात कर रहे थे। बादल ने कहा कि इस दुख को न कहा जा सकता है और न ही बयान किया जा सकता है। सतगुरु ने आजादी के संघर्ष में भी अहम भूमिका निभाई थी।
युग के महान संत थे सतगुरु : भट्ठल
पंजाब प्रदेश कांग्रेेस की वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बीबी राजिंदर कौर भट्ठल ने कहा है कि सतगुरु जगजीत सिंह के निधन पर उनको गहरा सदमा लगा है। उन्होंने हमेशा ही धर्म की मजबूती, देश की एकता एवं अखंडता के अलावा सेहत, शिक्षा और खेल के क्षेत्र में अहम योगदान अदा किया है। पंजाब कांग्रेस उनको श्रद्धांजलि देती है। भट्ठल ने कहा कि सतगुरु युग के महान संत थे।
स्थगित नहीं होगा समापन समारोह
सतगुरु के निधन के बाद विश्वकप कबड्डी के शनिवार को होने वाले समापन समारोह को स्थगित करने के सवाल पर जहां बीबी भट्ठल ने कहा कि समापन समारोह को स्थगित कर देना चाहिए वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा करना मुनासिब नहीं है, क्योंकि यह एक अंतरराष्ट्रीय इवेंट है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

सरकारी बेरुखी ने बनाया इस गोल्ड मेडेलिस्ट को मजदूर

स्पेशल ओलिंपिक्स वर्ल्ड समर गेम्स-2015 में 2 स्वर्ण पदक विजेता 17 साल के चैंपियन साइक्लिस्ट राजबीर सिंह आजकल बदहाली में जी रहे हैं। राजबीर की ये बदहाली सरकार के खेलों को बढ़ावा देने के दावों की कलई खोल रही है।

27 दिसंबर 2017

Recommended

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper