कबड्डी कैंप में मात्र छह खिलाड़ी पहुंचे

Ludhiana Updated Fri, 19 Oct 2012 12:00 PM IST
लुधियाना। एक दिसंबर से शुरू होने वाले विश्व कबड्डी कप से पहले खिलाड़ियों को ट्रेनिंग देने और टीम के चयन के लिए लगाए जाने वाले राष्ट्रीय स्तरीय कैंप में मात्र छह खिलाड़ी ही हिस्सा लेने पहुंचे। उधर खिलाड़ी खुद को कैंप से अंजान बता रहे हैं तो वहीं कबड्डी एसोसिएशन के अधिकारी पूरा ठीकरा खेल विभाग के सिर फोड़ रहे हैं। कुल मिलाकर जानकारी के अभाव से विश्व कबड्डी कप शुरू होने से पहले ही विवादों में घिरने लगा है।
कबड्डी के ट्रायल के बाद लुधियाना में 15 अक्तूबर को राष्ट्रीय स्तर का कैंप शुरू किए जाने का अधिकारिक पत्र जारी किया गया, जिसको लेकर जिला स्तर पर खेल विभाग को लिखित पत्र तक भेजकर सूचित कर दिया गया, लेकिन 15 अक्तूबर को किसी भी खिलाड़ी ने अपनी रिपोर्ट नहीं की। दूसरे दिन आठ खिलाड़ी गुरु नानक स्टेडियम पहुंचे, उनको पीएयू भेजा गया, यहां पर खिलाड़ियों ने खाना-पीना खाया और शाम को अपने घर की वापसी कर ली गई, जो अब तक कैंप में वापिस नहीं आए। 17 अक्तूबर को मात्र चार खिलाड़ियों ने कैंप के लिए रिपोर्ट की, जिसको लेकर एसोसिएशन की तरफ से आनन-फानन में कैंप शुरू किया गया। वहीं चौथे दिन मात्र दो खिलाड़ियों ने अपने फार्म भरे। कुल मिला कर 24 खिलाड़ियों के लिए लगाए जाने वाले कैंप में अब तक मात्र 6 खिलाड़ियों ने ही ट्रेनिंग लेनी शुरू की है। सूत्र बताते है कि 27 अक्तूबर को पाकिस्तान में होने वाले एशिया कबड्डी कप के लिए एसोसिएशन ने पहले ही टीम घोषित कर दी है, जिसके चलते इस कैंप में खिलाड़ी नहीं पहुंच रहे।
--------
जानकारी नहीं मिली, इसलिए नहीं पहुंचे खिलाड़ी
-----------------------------------
पंजाब कबड्डी एसोसिएशन के सेक्रेटरी गुरदीप सिंह मल्ली ने माना कि खिलाड़ियों को जानकारी न मिल पाने के चलते वह कैंप में नहीं पहुंच सके। मल्ली के मुताबिक उनको खुद कैंप की जानकारी 15 अक्तूबर शाम को चार बजे मिली। सेक्रेटरी मल्ली ने कहा कि एशिया कप के लिए जींद में 6 से 20 सितंबर तक कैंप लगाया गया था और टीम का चयन किया गया था। लेकिन इस कैंप में 24 खिलाड़ियों को हिस्सा लेना था, लेकिन अभी तक मात्र छह खिलाड़ी ही आ पाए है। मल्ली ने सफाई देते हुए कहा कि कैंप में हिस्सा लेने के लिए उन्होंने खुद खिलाड़ियों को टेलीफोन पर सूचित कर दिया है, वह जल्दी ही अपनी रिपोर्ट करेंगे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सरकारी बेरुखी ने बनाया इस गोल्ड मेडेलिस्ट को मजदूर

स्पेशल ओलिंपिक्स वर्ल्ड समर गेम्स-2015 में 2 स्वर्ण पदक विजेता 17 साल के चैंपियन साइक्लिस्ट राजबीर सिंह आजकल बदहाली में जी रहे हैं। राजबीर की ये बदहाली सरकार के खेलों को बढ़ावा देने के दावों की कलई खोल रही है।

27 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls