बठिंडा, मानसा बनेंगे नरमा हब: सुखबीर

Ludhiana Updated Wed, 26 Sep 2012 12:00 PM IST
मानसा। उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि बठिंडा, मानसा को नरमे व कपड़े की हब बनाया जाएगा ताकि स्थानीय युवाओं को रोजगार मिले और क्षेत्र की प्रगति हो सके।
उन्होंने कहा कि सरकार का खजाना खाली नहीं है। आने वाले चार वर्षाें में मानसा पंजाब के नमूने वाले शहरों में से एक होगा। इसे शिक्षा के क्षेत्र में भी अग्रणी बनाया जाएगा। 8700 करोड़ की लागत से राज्य के 140 शहरों का कायाकल्प किया जाएगा।
डिप्टी सीएम मंगलवार को स्थानीय अनाज मंडी में कांग्रेस के पूर्व विधायक मंगत राय बंसल की शिअद में शमूलियत को लेकर एक बड़ी रैली को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि विरोधी खजाना खाली होने का झूठा प्रचार कर रहे हैं। पंजाब सरकार 140 शहरों की कायाकल्प करने जा रही है। उनके विकास पर आने वाले समय में 8 हजार 7 सौ करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इसके अलावा एक हजार करोड़ रुपये नहरी पानी के लिए खर्च करके हर कच्ची खाल को पक्का किया जाएगा। उन्होंनेे कहा कि अगले वर्ष के बैसाखी पर्व पर तलवंडी साबो पावर प्लांट की शुरुआत होते ही बिजली कटों की बात एक सपना हो जाएगी।
सुखबीर ने कहा कि मानसा-बठिंडा को कपड़े का हब बनाकर यहां पर बड़ी कंपनियों को आमंत्रित किया जाएगा। किसी समय पिछड़ा कहा जाने वाला क्षेत्र मानसा शिक्षा के क्षेत्र में भी अग्रणी बनाया जाएगा। जिसके लिए 300 एकड़ में शिक्षा केंद्र बनाकर यहां के युवाओं को यही पर हर तरह की शिक्षा उपलब्ध करवाई जाएगी।
इस मौके राज्यसभा सदस्य बलविंदर सिंह भूंदड़, सिंचाई मंत्री जनमेजा सिंह सेखो, विधायक प्रेम मित्तल, ओएसडी चरणजीत सिंह बराड़, मंगत राय बंसल, जिलाध्यक्ष हरबंत सिंह दातेवास, पूर्व विधायक सुखविंदर सिंह औलख, विधायक चतिंन सिंह समाओ, भाजपा के सुखदेव सिंह फरमाही, स्टेट सदस्य सूरज छाबड़ा, समाजसेवी सुरिन्दर पप्पी दानेवालिया, पार्षद मनीष बब्बी दानेवालिया, पार्षद बलविंदर काका व गुरविंदर बाहिया समेत बड़ी संख्या में नेता व वर्कर शामिल थे।

Spotlight

Most Read

National

इलाहाबाद HC का निर्देश- CBI जांच में सहयोग करे लोक सेवा आयोग

कोर्ट ने लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष को जवाब दाखिल करने के लिए छह फरवरी तक की मोहलत दी है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

सरकारी बेरुखी ने बनाया इस गोल्ड मेडेलिस्ट को मजदूर

स्पेशल ओलिंपिक्स वर्ल्ड समर गेम्स-2015 में 2 स्वर्ण पदक विजेता 17 साल के चैंपियन साइक्लिस्ट राजबीर सिंह आजकल बदहाली में जी रहे हैं। राजबीर की ये बदहाली सरकार के खेलों को बढ़ावा देने के दावों की कलई खोल रही है।

27 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper