गडवासू में जीवंत हुआ पुरातन पंजाब

Ludhiana Updated Fri, 17 Aug 2012 12:00 PM IST
लुधियाना। गुरु अंगद देव वेटरिनरी एंड एनिमल साइंस यूनिवर्सिटी (गडवासू) में तीज समारोह आयोजित किया गया। समारोह के दौरान पुरातन पंजाब जीवंत हो उठा जब मुटियारों ने पेड़ों के नीचे त्रिंझण सजाई और पंजाबी बोलियों से धूम मचाई।
इस मौके पर मुख्य मेहमान मुख्य मेहमान स्टूडेंट वेलफेयर के डायरेक्टर डा. सतिंदर पाल सिंह संघा ने कहा कि मां, बहन और पत्नी के रुप में महिला हमेशा ही सत्कार योग्य रही है। उन्होंने कहा कि सभी को मिलकर कन्या भ्रूण हत्या के कलंक को मिटाने के लिए आगे आना चाहिए।
समारोह में कालेज आफ वेटरनिरी साइंस की मुटियारों ने यूनिवर्सिटी के कैंपस में तिंझण सजाई। इस मौके पर विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गई। पंजाब पहरावे में सजी जसप्रीत कौर को विजेता घोषित किया गया। मनप्रीत कौर को दूसरा और महक को तीसरा स्थान दिया गया। मेहंदी में लवप्रीत कौर ने पहला, पवनदीप कौर ने दूसरा, मनदीप कौर ने तीसरा स्थान लिया। लंबे बालों के लिए सिमरजीत कौर विजेता रही। मनदीप कौर दूसरे और पलजीत कौर तीसरे स्थान पर रही। पींघ झुलाने में सरबजीत कौर ने बाजी मारी, रुबी दूसरे और सतिंदर कौर तीसरे स्थान पर रही। गिद्दा में अमनदीप कौर प्रथम, प्रभजीत कौर द्वितीय और दलजीत कौर तृतीय रही। गोलगप्पे खाने में दीप्ति ने पहला, हरप्रीत कौर ने दूसरा और बलविंदर कौर ने तीसरा स्थान लिया। जलेबी प्रतियोगिता में मनदीप कौर पहले, जसदीप कौर दूसरे और बलजोत कौर तीसरे स्थान पर रही। चाटी रेस में रोहिनी भारद्वाज विजेता रही। मनदीप कौर ने दूसरा और जसकरन मंड ने तीसरा स्थान लिया। समारोह में हिस्सा लेने वाली बुजुर्ग मुख्तियार कोर को विशेष पुरस्कार दिया गया। सुरिंदर कौर को दूसरा और हरजिंदर कौर को तीसरा पुरस्कार मिला। विवाह के गीत गाने में सतनाम कौर ने बाजी मारी, रमनदीप कौर दूसरे और बलविंदर कौर तीसरे स्थान पर रही। डा. गुरिंदर कौर संघा और, सतनाम कौर संधु और बलविंदर कौर ने निर्णायक की भूमिका निभाई।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

सरकारी बेरुखी ने बनाया इस गोल्ड मेडेलिस्ट को मजदूर

स्पेशल ओलिंपिक्स वर्ल्ड समर गेम्स-2015 में 2 स्वर्ण पदक विजेता 17 साल के चैंपियन साइक्लिस्ट राजबीर सिंह आजकल बदहाली में जी रहे हैं। राजबीर की ये बदहाली सरकार के खेलों को बढ़ावा देने के दावों की कलई खोल रही है।

27 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper