गिराए जाएंगे लंबी में बने शौचालय

Ludhiana Updated Mon, 11 Jun 2012 12:00 PM IST
लंबी (मुक्तसर)। मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के पैतृक हलके लंबी के गांवों में सुलभ इंटरनेशनल संस्था द्वारा बनाए जा रहे शौचालयों के निर्माण कार्यों में कमियां सामने आ रही हैं। संस्था द्वारा बनाए जा रहे शौचालयों के निर्माण में जहां घटिया सामग्री का प्रयोग हो रहा है वहीं इनका लेवल भी सही नहीं है। चिनाई के काम में भी महज खानापूर्ति की जा रही है। इस बात का खुलासा रविवार को डीसी परमजीत सिंह द्वारा लंबी हलके के गांवों में बनाए जा रहे शौचालयों के निर्माण कार्य का जायजा लेने के दौरान हुआ। जिन शौचालयों में कमियां पाई है डीसी ने उन्हें गिराकर दोबारा बनाने के आदेश दिए हैं।
इस दौरान डीसी ने गांव मोहला, सरावां बोदला, बुर्ज सिंधवा तथा छाप्पियांवाली में बनाए जा रहे शौचालयों के निर्माण कार्य की जांच करते हुए अधिकारियों तथा कर्मचारियों को प्रदेश सरकार के साथ किए गए समझौते के अनुसार ही गरीबों के शौचालय बनाने की सख्त हिदायत दी। साथ ही जिन शौचालयों के निर्माण में कमियां पाई गईं, उन शौचालयों को गिराकर दोबारा बनाने के लिए संस्था के अधिकारियों को सख्त हिदायतें जारी कीं। डीसी ने बताया कि कई गांवों में बनाए जा रह शौचालयों में कोताही पाई गई है। उन्होंने कहा कि शौचालयों के निर्माण में इस्तेमाल की जा रही सामग्री ईंटें, बजरी, सीमेंट, सरिया उच्च क्वालिटी के होने चाहिए। इन शौचालयों के मामले में कोताही हरगिज बर्दाश्त नहीं होगी। डीसी ने लोगों के साथ बातचीत कर शौचालयों के निर्माण संबंधी जानकारी हासिल की। बीएंडआर विभाग को हिदायत देते हुए उन्होंने कहा कि भविष्य में शौचालय बनाने से पहले मिस्त्रियों, मजदूरों तथा संस्था के कर्मचारियों को इस संबंध में पूर्व सिखलाई देने के बाद ही शौचालय बनाए जाएं। उन्होंने हिदायत देते हुए कहा कि इनके निर्माण में पक्की ईंटें, सीमेंट-रेत की सही मात्रा होनी चाहिए। शौचालयों की छतों में बजरी, सीमेंट, रेत तथा सरिया पूरी मात्रा में डाला जाए। डीसी ने बताया कि सरकार द्वारा जरूरतमंद परिवारों को ऐसे शौचालय बनाकर देने के लिए संस्था के साथ समझौता कर एक शौचालय पर 18,500 रुपये खर्च किए जा रहे हैं। प्रथम चरण में 14 गांवों के 4,500 घरों में यह सहूलियत मुहैया करवाई जाएगी। धीरे-धीरे सभी जरूरतमंद परिवारों को इसके तहत शौचालय बनाकर दिए जाएंगे। इस समय 425 शौचालयों का निर्माण कार्य जारी है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के ओएसडी गुरचरण सिंह, जिला विकास एवं पंचायत अफसर नवल कुमार, बीडीपीओ बलजीत कौर, बीएंडआर विभाग के एसडीओ सतवंत कुमार, संस्था के एके सिंह, आरके झा भी उपस्थित थे।

Spotlight

Most Read

Kanpur

एक्सप्रेस-वे का काम अधूरा, टोल टैक्स देना पड़ेगा पूरा 

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर 19 जनवरी की मध्य रात्रि से टोल टैक्स तो शुरू हो जाएगा लेकिन एक्सप्रेस-वे पर तैयारियां आधी-अधूरी हैं। एक्सप्रेस-वे के किनारे न रेस्टोरेंट बने और न होटल। कई जगह पर बैरीकेडिंग टूटने से जानवर भी सड़क  पर आ जाते हैं।

18 जनवरी 2018

Saharanpur

हज

19 जनवरी 2018

Related Videos

सरकारी बेरुखी ने बनाया इस गोल्ड मेडेलिस्ट को मजदूर

स्पेशल ओलिंपिक्स वर्ल्ड समर गेम्स-2015 में 2 स्वर्ण पदक विजेता 17 साल के चैंपियन साइक्लिस्ट राजबीर सिंह आजकल बदहाली में जी रहे हैं। राजबीर की ये बदहाली सरकार के खेलों को बढ़ावा देने के दावों की कलई खोल रही है।

27 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper