गैस प्रभावित मरीज अभी भी अस्पताल में

Jalandhar Updated Fri, 02 Nov 2012 12:00 PM IST
जालंधर। गांव वरियाणा में गैस से प्रभावित मरीजों की हालत में सुधार आ रहा है, लेकिन अभी उन्हें सिविल अस्पताल से छुट्टी नहीं दी गई है। उनका इलाज सिविल अस्पताल में ही किया जा रहा है। वहीं सेहत विभाग ने अपने टीम को गांव वरियाणा से वापस बुला लिया है। सेहत विभाग के मुताबिक अब इलाके में लोगों की हालत ठीक है। इलाके में दवाई बांट दी गई है।
जिक्र योग है कि बुधवार रात को किसी गैस के फैलने के कारण गांव वरियाणा के लोगों की सांसे उखड़ने लगी थी और आंखों में पानी व उल्टियों की समस्या आ रही थी। यह जानकारी मिलते ही डीसी प्रियांक भारती ने एसडीएम टू ईशा कालिया, सिविल सर्जन डा. आरएल बस्सन और जिला सेहत अधिकारी डा. जसबीर सिंह की अगुवाई में टीम बनाकर मौके पर भेजा था। इस पर सेहत विभाग की टीम ने एक दर्जन मरीजों को प्राथमिक सहायता दी थी। जबकि चार मरीजों में मोहिंदर कौर, रजनी, बेअंती और बलवीर कौर की हालत काफी नाजुक थी। जिन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। इसके साथ ही एक एंबुलेंस सहित एक मेडिकल टीम को मौके पर तैनात कर दिया गया था।
वहीं पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड की टीम भी मौके पर पहुंची थी। टीम अभी भी गैस की जानकारी लगाने में जुटी हुई है, लेकिन वहां के कोल्ड स्टोरों को क्लीन चिट दे दी गई है। बोर्ड के एक्सईएन मनोहर लाल का मानना है कि यह गैस कोल्ड स्टोर से नहीं निकली है।
सिविल अस्पताल डा. आरएल बस्सन ने कहा कि इलाके में लोगों की हालत अब ठीक है। इलाके में गैस भी मौजूद नहीं है। इसलिए टीम वापस आ गई है। उन्होंने कहा कि सिविल अस्पताल में भर्ती सभी मरीजों की हालत ठीक है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

लेडी खली कविता ने खोला राज, बताया कैसे पहुंची WWE तक

WWE में पहुंचनेवाली पहली भारतीय महिला कविता देवी ने अपने इंटरव्यू में की कई अहम मुद्दों पर खुलकर बात। कविता ने बताया कि उन्हें द ग्रेट खली से कितना सपोर्ट मिला और उन्हें ट्रेनिंग के कितने कड़े शेड्यूल से होकर गुजरना पड़ा।

21 अक्टूबर 2017